ताज़ा खबर
 

नीतीश कुमार के कार्यक्रम में खड़े होकर दो बिजनसमैन ने पूछे सवाल तो पुलिस ने किया गिरफ्तार, आठ घंटे की पूछताछ

इन व्यवसायियों ने बताया कि जिस प्रकार किसी अपराधी के साथ व्यवहार किया जाता है पुलिस ने बिलकुल वैसा ही व्यवहार इनके साथ किया।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। (पीटीआई फाइल फोटो)

बिहार में दो लोगों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से कुछ सवाल क्या किए कि पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। यह मामला पटना के गांधी मैदान का है जहां पर मंगलवार को बिहार उद्यमी शिखर सम्मेलन में नीतीश कुमार अतिथि के तौर पर पहुंचे थे। ईटीवी के अनुसार इस सम्मेलन में जब लोगों को संबोधित करते समय नीतीश से मधुबनी के व्यवसायी नेमी कुमार और बेगुसराय के सुरेश कुमार ने कुछ सवाल पूछे तो वे भड़क गए। जिसके बाद पुलिस ने दोनों व्यवसायियों को हिरासत में लेकर उनसे करीब आठ घंटे तक पूछताछ की। पुलिस थाने से बाहर निकलने के बाद इन व्यवसायियों ने बताया कि इन्होंने मुख्यमंत्री से केवल स्टार्टअप्स को लेकर कुछ सवाल किया था।

उन्होंने नीतीश से कहा था कि सरकार की तरफ से जो अनुदान व्यवसायियों को दिया जाता है उसके लिए बैंकों द्वारा लोन दिए जाने के समय उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है और यदि इसके अलावा भी किसी काम के लिए लोन लिया जाता है तो उसमें भी काफी दिक्कते आती हैं। दोनों व्यवसायियों ने अपना यह सवाल खत्म किया भी नहीं था कि वहां मौजूद पुलिस कर्मियों और स्पेशल ब्रांच के अधिकारियों ने उन्हें धर दबोचा। दोनों को गांधी मैदान पुलिस थाने लेकर आया गया जहां पर पूछताछ के इन आठ घंटों के बीच पुलिस ने न तो उन्हें शौचालय जाने दिया और न ही उन्हें कुछ खाने-पीने दिया गया। जब इन दोनों ने अपने परिवार से बात करने की बात कही तो पुलिस ने साफ इंकार कर दिया। इन व्यवसायियों ने बताया कि जिस प्रकार किसी अपराधी के साथ व्यवहार किया जाता है पुलिस ने बिलकुल वैसा ही व्यवहार इनके साथ किया। इतना ही नहीं निजी मुचलके को भरने के बाद इन्हें छोड़ा गया।

वहीं दोनों व्यवसायियों के आरोपों का खंडन करते हुए पटना के एसएसपी मनु महाराज ने कहा कि पुलिस पर लगाए जा रहे आरोप झूठे हैं। उन्होंने कहा कि मामूली पूछताछ किए जाने के बाद दोनों को बहुत ही तमीज के साथ छोड़ दिया गया था।

देखिए वीडियो - बिहार: CISF जवान ने अपने साथियों पर गोली चलाई; 4 की मौत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App