नया संकटः अब कोरोना टीके का टोटा! शाह ने किया था दावा- नहीं है वैक्सीन की कमी; पर बिहार में कोविशील्ड खत्म होने पर अस्पतालों ने लोगों को लौटाया

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा था कि सरकार के पास पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन है और राज्यों को भेजी जा रही है। हालांकि बिहार में वैक्सीन की कमी का मामला सामने आया।

corona vaccine, covid 19एक शख्स को वैक्सीन लगाती महिला कर्मचारी। फोटो क्रेडिट- पीटीआई

पहले कोरोना की वैक्सीन उपलब्ध न होना ही बड़ी दिक्कत थी। जब वैक्सीन बन गई तो कोविड के केस तेजी से बढ़ने लगे और अब राज्यों पर भी तेजी से वैक्सिनेशन करने का दबाव है। ऐसे में कई राज्यों से खबरें आ रही हैं कि वहां कोविशील्ड वैक्सीन की कमी आ गई है। राज्य लगातार केंद्र से पर्याप्ट स्टॉक की मांग कर रहे हैं। इसमें महाराष्ट्र, उड़ीसा और बिहार भी शामिल हैं। हालांकि सरकार कह रही है कि उसके पास पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध है और सभी राज्यों को उपलब्ध करवाई जा रही है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से जब एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सवाल पूछा गया कि क्या कोरोना वैक्सीन की कमी हो गई है तो उन्होंने कहा, यह सही नहीं है। राज्यों को जितनी जरूरत है, उतनी वैक्सीन उपलब्ध करवाई जा रही है। गुरुवार को दरभंगा जिले में वैक्सीन की कमी के चलते वैक्सीन रोकना पड़ा था। लोग वैक्सिनेशन सेंटर से मायूस होकर अपने घर लौट आए। हालांकि बाद में सरकार ने बिहार को 9 लाख वैक्सीन की डोज उपलब्ध करवाई।

जानकारी के मुताबिक दरभंगा जिले में डीएमसीएच अस्पताल से भी लोगों को बैरन घर लौटना पड़ा। अस्पताल के कर्मचारियों ने वैक्सीन खत्म होने की बात बताई, बावजूद इसके कई लोग बाहर इंतजार करते रहे और शाम को निराश घर लौट गए।

दरभंगा में अस्पतालों के बाहर नोटिस चस्पा कर दिया गया जिसपर लिखा था कि कोवड 19 वैक्सीन उपलब्ध न होने की वजह से आज टीकाकरण नहीं हो रहा है। दरअसल टीकाकरण करवाने के लिए दूर-दराज से भी लोग पहुंचते हैं। ऐसे में इस तरह निराश लौटना उन्हें बहुत खल रहा था।

दिल्ली-एनसीआर में भी कोरोना चिंता बढ़ा रहा है। यहां भी की जगहों पर वैक्सीन की कमी की बात सामने आई। दिल्ली से सटे गाजियाबाद में भी वैक्सीन की कमी हो गई जिसके चलते रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया रोकनी पड़ी। यहां केवल एमएमजी अस्पताल में ही टीका लगाया जा रहा है। निजी अस्पतालों में भेजी गई वैक्सीन तीन दिन पहले ही खत्म हो चुकी है।

Next Stories
1 बिहार मे कोरोना: शिक्षण संस्थाएं 18 अप्रैल तक बंद, शाम 7 बजे तक ही खुलेंगी दुकानें; सीएम का फैसला- धार्मिक स्थलों पर भी रहेगी पाबंदी
2 बिहार का हाल: आईसीयू में कोरोना मरीजों के साथ बिस्तर पर परिजन, मरीजों के बीच पड़ी थी लाशें
3 अफेयर के शक में पत्नी का गला रेता, आंखें फोड़ीं, पेट फाड़ा, थाने के पास फेंक दी लाश- पति पर केस
यह पढ़ा क्या?
X