ताज़ा खबर
 

बिहार में 18 अप्रैल को पांच सीटों पर हुआ चुनाव कांग्रेस, राजद और जदयू के लिए खास

बिहार की जिन पांच संसदीय सीटों पर दूसरे चरण 18 अप्रैल को चुनाव हुए है वे कांग्रेस , राजद और जदयू के लिए अहम है। भाजपा के लिए इस मायने में खास है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद 11 अप्रैल को भागलपुर में सभा कर राजग उम्मीदवारों के लिए मतदान करने की अपील कर गए है।

बिहार की जिन पांच संसदीय सीटों पर दूसरे चरण 18 अप्रैल को चुनाव हुए है वे कांग्रेस , राजद और जदयू के लिए अहम है।

बिहार की जिन पांच संसदीय सीटों पर दूसरे चरण 18 अप्रैल को चुनाव हुए है वे कांग्रेस , राजद और जदयू के लिए अहम है। भाजपा के लिए इस मायने में खास है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद 11 अप्रैल को भागलपुर में सभा कर राजग उम्मीदवारों के लिए मतदान करने की अपील कर गए है। यों इस दफा इन पांच सीटों में से एक पर भी भाजपा का कमल निशान नहीं है। ऐसा शायद पहली बार हुआ है। और यही दुविधा भाजपा के मतदाताओं के लिए बड़ी चिंता का विषय बना भी। ये करे तो क्या करे। इनके दिमाग में नोटा भी एक विकल्प उभर कर आया। यों गुरुवार को हुए मतदान में वैसी उत्साह नहीं दिखी । जैसी भाजपा के कमल के रहने से रहता था। मतदान केंद्रों पर भीड़ या लंबी कतार कहीं नहीं दिखी। भाजपाई भी सक्रिय तौर पर किसी बूथ पर नजर नहीं आए। मगर मतदान के दौरान ग़ांव के मतदाताओं में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने के लिए रुझान दिखा।

रंगरा प्रखंड के बैसी ग़ांव के कनकी मंडल कहते है अबकी मोदी को जिताना है। इस लिए तीर पर बटन दबाया है। यही बात शहर नाथनगर के अजित यादव बोलते है। इससे यह लगा कि नरेंद्र मोदी के नाम पर जातपात को मतदाताओं ने खास तबज्जो नहीं दी। फिर भी पूरी तौर पर यह धारणा नहीं बनाई जा सकती है। बिहार में गुरुवार 18 अप्रैल को हुए चुनाव में सीमांचल की तीन सीट किशनगंज में 60-4 , कटिहार में 55.4 पूर्णिया में 58 और भागलपुर डिवीजन की भागलपुर में 52.1 व बांका में 55.2 फीसदी मतदान हुआ बताया गया है। ये सभी सीट अपने आप में अहम है।

इनमें कटिहार से महागठबंधन के कांग्रेस के पुराने दिग्गज नेता तारिक अनवर , जदयू के दुलाल चंद्र गोस्वामी, पूर्णिया से कांग्रेस के उदय सिंह और जदयू के संतोष कुशवाहा , किशनगंज से कांग्रेस के डा. जावेद और जदयू के सैयद मोहम्मद अशरफ को उतारा है। किशनगंज सीट बीते चुनाव में कांग्रेस ने ही जीती थी। कटिहार सीट पर जीते तो तारिक अनवर ही थे। मगर एनसीपी की टिकट पर। वहीं उदय सिंह भाजपा छोड़ कांग्रेस का पंजा थामा है। इनकी माता माधुरी सिंह दो दफा यहां से कांग्रेस टिकट पर जीत चुकी है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पूर्णिया 23 मार्च और 10 अप्रैल को कटिहार आकर अपने उम्मीदवारों के पक्ष में सभा कर गए है। वहीं भागलपुर सीट पर राजद के वर्तमान सांसद शैलेश कुमार और जदयू के अजय मंडल है। बांका के सांसद जयप्रकाश नारायण यादव , जदयू के गिरधारी यादव और निर्दलीय पुतुल देवी है। इनके समेत 68 उम्मीदवारों का भविष्य ईवीएम में बंद हो गया। मतों की गिनती 23 मई को होगी। राजद उम्मीदवार अपनी सीट बचाने की काफी जद्दोजहद में लगे रहे । इनके लिए राजद के नेता तेजस्वी यादव , रालोसपा के उपेंद्र कुशवाहा और वीआईपी पार्टी के मुकेश साहनी ने कई सभाएं की है। मसलन कांग्रेस के साथ साथ तेजस्वी यादव की भी कड़ी परीक्षा होनी है। ऐसा रणनीतिकार बता रहे है। अपने पिता लालू प्रसाद की गैरहाजिरी में इनके सामने इन सीटों को बचाना एक बड़ी चुनौती है।

वहीं इन पांच सीटों में से 2014 चुनाव में केवल पूर्णिया सीट पर ही जदयू को कामयाबी मिली थी। संतोष कुशवाहा जदयू से जीते थे। फिर इन पर ही जदयू ने दांव खेला है। बाकी चार सीट पर जदयू को पराजय मिली थी। अबकी ये सीटें भाजपा से जदयू ने ले ली है। भाजपा उम्मीदवार न होने से इनके कार्यकर्ताओं में ही नहीं कैडर वोटरों में भी नाराजगी देखी गई। बांका सीट पर तो पुतुल देवी बागी बन चुनाव लड़ी। वहीं भागलपुर सीट पर नाथनगर के जदयू विधायक अजय मंडल को भी कई मुश्किलों से गुजरना पड़ा।

इन पांचों सीटों पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कई सभाएं की है। इन सभाओं में इन्होंने दो मुख्य बातें रखी । 13 साल में बिहार में किए कामों की मजदूरी वोट देकर दीजिए। दूसरा मुस्लिम मतों को अपने पक्ष में करने के किए मदरसा शिक्षकों के वेतन निर्धारण का मसला जरूर उठाते । साथ ही यह भी कहने से नहीं चुके कि मेरे पहले की सरकारें वेतन मांगने पर मदरसा शिक्षकों को लाठियों से पिटवाया था। इसे याद रखिए। जाहिर है जीत-हार किसी भी दल की हो। मगर कांग्रेस-राजद, जदयू-भाजपा नेताओं की प्रतिष्ठा इन पांच सीटों पर दांव पर लगी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
IPL 2020 LIVE
X