ताज़ा खबर
 

ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी ने जारी किया भगवान गणेश का एडमिट कार्ड, प्रशासन ने झाड़ा पल्ला

विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार मुस्तफा कमल अंसारी ने कहा कि एडमिट कार्ड को जब तक वेरिफाई और कॉलेज प्रिंसिपल से साइन नहीं करा लिया जाता तब तक उसे जारी नहीं किया जाता है।
एडमिट कार्ड में गलती की सूचना रॉय ने कॉलेज प्रशासन को दी जिसके बाद गलती को सुधारते हुए रॉय को परीक्षा देने की अनुमति दी गई। (Photo Source: Twitter)

वैसे तो छात्र परीक्षा के समय भगवान को याद करते हैं और उनसे मन्नत मांगते हैं कि परीक्षा में अच्छे नंबर दिला देना लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि भगवान किसी छात्र के लिए फलस्वरूप अपना ही एडमिट कार्ड छपवा देंगे। आपको ये सुनने में थोड़ा अटपटा लग रहा होगा लेकिन ऐसा बिहार दरभंगा जिले में स्थित ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय में हुआ है, जहां पर भगवान गणेश का ही एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया है। ऐसा माना जा रहा है कि अंडरग्रेजुएट कोमर्स छात्र की जगह भगवान गणेश परीक्षा देने की तैयारी में थे। बता दें कि पूरा मामला यह है कि जेएन कॉलेज के छात्र कृष्ण कुमार रॉय ने परीक्षा से पहले अपना एडमिट कार्ड निकाला तो उसने देखा कि उसके एडमिट कार्ड पर उसकी फोटो की जगह भगवान गणेश का फोटो लगा है और उसके साइन की जगह गणेश नाम से साइन हो रखे थे।

एडमिट कार्ड में गलती की सूचना रॉय ने कॉलेज प्रशासन को दी जिसके बाद गलती को सुधारते हुए रॉय को परीक्षा देने की अनुमति दी गई। हिन्दुस्तान टाइम्स के अनुसार इस मामले पर विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि एडमिट कार्ड जारी करने में उनसे कोई गलती नहीं हुई है बल्कि जहां से छात्र ने जिस साइबर कैफे से परीक्षा का फॉर्म भरा था गड़बड़ वहां से हुई है। विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार मुस्तफा कमल अंसारी ने कहा कि एडमिट कार्ड को जब तक वेरिफाई और कॉलेज प्रिंसिपल से साइन नहीं करा लिया जाता तब तक उसे जारी नहीं किया जाता है।

अंसारी ने कहा कि हमने सभी कॉलेज प्रशासन को सूचित किया हुआ है कि छात्रों के परीक्षा में बैठने से पहले प्रिंसिपल द्वारा उनके एडमिट कार्ड को वेरिफाई किया जाना चाहिए। वहीं इस मामले पर बात करते हुए रॉय ने कहा कि एडमिट कार्ड में जब मेरे फोटो की जगह भगवान गणेश का फोटो और साइन आ रहे हैं तो विश्वविद्यालय तो भगवान के भरोसे ही चल रहा है।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.