ताज़ा खबर
 

भाजपा विधायक की गवर्नर को धमकी- नाना हैं क्या? जो कहेंगे, हो जाएगा, मारेंगे घूंसे-घूंसे!

नवल किशोर यादव शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से लंबे समय से बिहार विधान परिषद के सदस्य हैं। वो भाजपा में आने से पहले राजद के सदस्य थे।

बिहार में भाजपा के विधान पार्षद नवल किशोर यादव (बीच में दाढ़ी वाले) ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक के खिलाफ विवादित बयान दिया है और उन्हें मारने की धमकी दी है।

बिहार में भाजपा के विधान पार्षद नवल किशोर यादव ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक के खिलाफ विवादित बयान दिया है और उन्हें मारने की धमकी दी है। नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने एक वीडियो शेयर कर सोशल मीडिया पर ट्वीट किया है कि भाजपा के एमएलसी खुलेआम माननीय राज्यपाल को धमकी दे रहे हैं क्योंकि वो शिक्षा माफिया के खिलाफ काम कर रहे हैं। तेजस्वी ने लिखा है कि गवर्नर राज्य में बिगड़ती कानून-व्यवस्था और शिक्षा माफियाओं के खिलाफ काम कर रहे हैं। इससे घबराए बीजेपी एमएलसी उन्हें मारने की धमकी दे रहे हैं। तेजस्वी ने इसके जरिए बीजेपी पर तंज कसा है और लिखा है कि यह गुंडों की पार्टी है जिसके लोग गवर्नर तक को धमकी देने से नहीं हिचकते। शेयर किए गए वीडियो में देखा जा सकता है कि विधान पार्षद नवल किशोर यादव विधान भवन परिसर में खुलेआम कह रहे हैं, “राज्यपाल नाना का हैं, जो कह देंगे सो हो जाएगा, मारेंगे घूंस-घूंसे।”

HOT DEALS
  • I Kall K3 Golden 4G Android Mobile Smartphone Free accessories
    ₹ 3999 MRP ₹ 5999 -33%
    ₹0 Cashback
  • Vivo V5s 64 GB Matte Black
    ₹ 13099 MRP ₹ 18990 -31%
    ₹1310 Cashback

बता दें कि राज्यपाल ने राज्य में शिक्षा माफियाओं पर नकेल कसने के लिए कई कठोर कदम उठाए हैं। राज्यभर के बीएड कॉलेजों में पढ़ाई, फीस, नामांकन के लिए एक सा नियम बनाने के निर्देश राजभवन ने पिछले दिनों दिए थे। इसके अलावा राज्य में पहली बार स्नातक स्तर के कोर्सेज में ऑनलाइन नामांकन की व्यवस्था की गई है। राजभवन की पहल से राज्य में तथाकथित शिक्षा माफिया में बेचैनी है। बता दें कि नवल किशोर यादव शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से लंबे समय से बिहार विधान परिषद के सदस्य हैं। वो भाजपा में आने से पहले राजद के सदस्य थे।

बता दें कि चार दिन पहले ही विधान पार्षद नवल किशोर यादव ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक से शिष्टाचार मुलाकात की थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने राज्यपाल से अपने बयानों के लिए माफी मांगी थी और कहा था कि अगर उनके किसी बयान से राज्यपाल महोदय की भावना को ठेस पहुंची हो, तो वो क्षमाप्रार्थी हैं। यादव ने उच्च शिक्षा में सुधार के लिए राज्यपाल की प्रशंसा भी की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App