ताज़ा खबर
 

बिहार: हनुमान मंदिर के लिए मुस्लिम परिवारों ने दान की जमीन, आर्थ‍िक सहायता कर मरम्‍मत में भी बंटाया हाथ

बखरी के शहीद चौक पर स्थापित प्राचीन हनुमान मंदिर काफी जर्जर हो गया था। जगह की कमी के कारण श्रद्धालुओं को यहां पूजा-पाठ में काफी परेशानी होती थी।

Author April 8, 2017 8:17 PM
बखरी के शहीद चौक पर स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर (Image Source : IANS)

रामनवमी के मौके पर नवादा में धार्मिक पोस्टर फाड़े जाने की घटना सहित बिहार के कई शहरों में जहां सांप्रदायिक तनाव उत्पन्न हो गया था, वहीं बेगूसराय जिले के बखरी क्षेत्र के लोगों ने इसी पर्व के दौरान एक हनुमान मंदिर का जीर्णोद्धार कर सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल पेश की है। हिंदुओं के आराध्य के इस मंदिर के लिए न केवल मुस्लिम परिवारों ने अपनी जमीन दान दी, बल्कि अपनी क्षमता के हिसाब से आर्थिक मदद की और श्रमदान भी किया। बखरी के शहीद चौक पर स्थापित प्राचीन हनुमान मंदिर काफी जर्जर हो गया था। जगह की कमी के कारण श्रद्धालुओं को यहां पूजा-पाठ में काफी परेशानी होती थी।

इस बीच इस मंदिर पर बखरी के थाना प्रभारी सुनील कुमार की नजर पड़ी। उन्होंने इस मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए स्थानीय लोगों से बात की। मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए तो सभी तैयार थे, लेकिन सबसे बड़ी समस्या जमीन को लेकर थी। मंदिर के आसपास मुस्लिम परिवारों की जमीन थी। जब इस बारे में मुस्लिम परिवारों से बात की गई तो वे खुद आगे आए।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Gold
    ₹ 25900 MRP ₹ 29500 -12%
    ₹3750 Cashback
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Gold
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback

थाना प्रभारी ने बताया कि मोहम्मद मुर्तजा ने स्वेच्छा से मंदिर के पास की अपनी जमीन मंदिर के लिए दान दे दी, जबकि मोहम्मद तुफैल अहमद, मोहम्मद सलीम और कारी अहमद ने इस कार्य में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। जमीन मिलने के बाद मंदिर के जीर्णोद्धार का कार्य शुरू हो गया। इसके बाद कई स्थानीय मुस्लिम परिवारों ने मंदिर के लिए आर्थिक सहयोग दिया और श्रमदान भी किया। जीर्णोद्धार के बाद इस हनुमान मंदिर में रामनवमी से फिर पूजा-पाठ शुरू हो गई। मुस्लिम परिवार के लोगों ने रामनवमी के मौके पर हुए आयोजनों में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

बखरी में मंदिर का जीर्णोद्धार मुस्लिम परिवारों की मदद से होने की जानकारी जब बेगूसराय के पुलिस अधीक्षक रंजीत कुमार मिश्र को मिली, तो उन्होंने वहां जाकर नेकदिल इंसानों से मुलाकात की और उनकी जमकर तारीफ की। मिश्र ने कहा, “बखरी के लोगों ने राज्य में ही नहीं, पूरे देश में सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल पेश की है। उन्होंने एक अनोखा उदाहरण पेश किया है।”

देखिए वीडियो - वीडियो: हनुमान का किरदार निभाने वाले कलाकार की 50 फीट उंचाई से गिरने से मौत हुई

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App