ताज़ा खबर
 

बिहार: नक्सलियों ने काटा ग्रामीण महिला का सिर, पर्चा पर लिखा- मुखबिरी का यही अंजाम होता है

नक्सलियों ने स्थानीय थाना और पुलिस अधिकारियों को भी चेतावनी दी है कि समय रहते सुधर जाओ वरना अंजाम ऐसा ही होगा।

चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है।

बिहार में एक बार फिर नक्सलियों का खौफ देखने को मिला है। दक्षिणी बिहार के नक्सल प्रभावित नवादा जिले के कौआकोल प्रखंड में नक्सलियों ने एक ग्रामीण महिला की गला रेतकर निर्मम हत्या कर दी। शव के पास नक्सलियों ने एक पर्चा भी छोड़ा है जिसमें लिखा है, मुखबिरी का अंजाम यही होता है। ईटीवी के मुताबिक मृतक महिला का नाम जया देवी है। नक्सलियों ने धारदार हथियार से वार कर उसका सिर धड़ से अलग कर दिया। वह कौआकोल से सटे गायघाट के जंगलों के बीच एक गांव में रहती थी। नक्सलियों ने इस वारदात के बाद वहां मौजूद लोगों को भी डराया और धमकाया।

नक्सलियों ने स्थानीय थाना और पुलिस अधिकारियों को भी चेतावनी दी है कि समय रहते सुधर जाओ वरना अंजाम ऐसा ही होगा। पर्चे में उग्रवादियों ने लिखा है कि पुलिस मुखबिरी की वजह से ही जया देवी की हत्या की गई है। इस घटना के बाद इलाके में सन्नाटा पसरा हुआ है। ग्रामीणों में खौफ छाया हुआ है। कोई भी ग्रामीण किसी तरह की सूचना देने से इनकार कर रहा है। लिहाजा, यह पता करने में पुलिस को परेशानी हो रही है कि किन हालातों में और क्यों महिला की हत्या की गई है।

बता दें कि नवादा जिला बिहार और झारखंड की सीमा पर स्थित है। छोटानागपुर की पहाड़ियों में नक्सलियों का केंद्र है। वो दो राज्यों के बीच भौगोलिक स्थिति का फायदा उठाकर अक्सर जंगलों में जा छिपते हैं। नवादा जिले के दक्षिणी हिस्से, खासकर कौआकोल, रोह, सिरदला और रजौली प्रखंडों में अक्सर नक्सली हिंसक वारदातों को अंजाम देते रहते हैं। कुछ दिनों पहले ही सिरदला में नक्सलियों ने एक डॉक्टर की दिन-दहाड़े हत्या कर दी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App