ताज़ा खबर
 

बढ़ती छेड़खानी, रेप पर बोले गवर्नर- थाने से पहले राजभवन करो फोन, विपक्ष बोला: राष्ट्रपति शासन लगवाइए

बिहार में हाल के दिनों में बढ़ते अपराध पर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने चिंता जताई है और कहा है कि छात्राएं किसी तरह की छेड़खानी, अपराध या अनहोनी की शिकायत पुलिस में कराने से पहले राजभवन को फोन करें।

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और बिहार के सीएम नीतीश कुमार। (PTI Photo)

बिहार में हाल के दिनों में बढ़ते अपराध पर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने चिंता जताई है और कहा है कि छात्राएं किसी तरह की छेड़खानी, अपराध या अनहोनी की शिकायत पुलिस में कराने से पहले राजभवन को फोन करें। उनके अधिकारी उनके साथ थाने जाकर रिपोर्ट दर्ज कराएंगे। राज्यपाल ने गुरुवार (14 जून) को पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में छात्र संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि राजभवन इस मामले में पहल करते हुए छात्राओं की शिकायत के लिए अलग सेल बना रहा है, जहां नए टेलीफोन लाइन लगाए जा रहे हैं। यह सेल 24 घंटे काम करेगा। वहां स्पेशल अफसर काम करेंगे। राज्यपाल के इस एलान से राज्य में अपराध पर सियासी आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला तेज हो गया है।

गया जिले में मां-बेटी के साथ हुए गैंगरेप की घटना पर पूर्व उप मुख्यमंत्री और नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने राज्यपाल से राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश करने की मांग की है। उन्होंने ट्वीट किया है, “बिहार के राज्यपाल महोदय मान रहे है कि नीतीश सरकार अपराध,हत्या, महिलाओं के साथ दुष्कर्म, बलात्कार और अत्याचार रोकने में असमर्थ है। मैं बिहार में शांति-भाईचारे, महिला एवं ग़रीब हित में उनसे विनम्रतापूर्वक आग्रह व माँग करता हूँ कि वो बिहार मे राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफ़ारिश करें।”

तेजस्वी ने अगले ट्वीट में सीएम नीतीश कुमार पर तंज भी कसा है। अखबारों की क्लिपिंग्स शेयर करते हुए तेजस्वी ने लिखा है, “आदरणीय नीतीश चाचा जी, कहवाँ गईल अंतरात्मा? अंतरात्मा को लंबी छुट्टी नागपुर भेज दिए हैं का? तनि अख़बारवा भी देख लीं..” #NitishAntratma एक अन्य ट्वीट में तेजस्वी ने लिखा है, “नीतीश चाचा का स्वयं घोषित सुशासन महिलाओं की चीख़, पुकार, चीत्कार तले दबकर मासूम बच्चियों के आँसुओं में बह गया है।” #NitishAntratma बता दें कि नीतीश के शासनकाल में इस साल के शुरुआती तीन महीनों में रेप के  कुल 289 मामले दर्ज हुए हैं।

बिहार पुलिस की वेबसाइट पर दर्ज 2018 का महीना वार अपराध का आंकड़ा। (सोर्स-https://biharpolice.bih.nic.in/)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App