ताज़ा खबर
 

किरेन रिजिजू से बोले डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव- जूता मारना छोड़िए, बिहार आईए, लिट्ठी-चोखा खिलाएंगे

किरेन रिजिजू ने मीडिया पर भड़कते हुए उन्हें जूते मारने की धमकी दी थी।

तेजस्वी यादव। ( File Photo)

अरुणाचल प्रदेश की पनबिजली परियोजना में हुए कथित भ्रष्टाचार की रिपोर्ट सामने आने के बाद केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री किरण रिजिजू मीडिया पर भड़क गए थे। उन्होंने इस रिपोर्ट को लेकर मीडिया पर निशाना साधा था। मीडिया में रिपोर्ट्स आई थीं कि सीवीओ सतीश वर्मा की रिपोर्ट के अनुसार अरुणचाल प्रदेश में 600 मेगावाट के कामेंग पनबिजली परियोजना के तहत दो बांधों के निर्माण में भ्रष्टाचार हुआ है। किरेन रिजिजू के चचेरे भाई गोबोई रिजीजू इस परियोजना में सब-कॉन्ट्रैक्टर हैं। सीबीआई ने दो बार औचक निरीक्षण किया है लेकिन अभी तक इस मामले में कोई एफआईआर नहीं दर्ज की गई है।

इस पर सफाई देते हुए रिजिजू ने कहा था, ‘ये खबर किसी ने बदमाशी कर के प्लांट की है।’ साथ ही उन्होंने मीडिया पर निशाना साधते हुए कहा था कि ऐसी फर्जी रिपोर्ट बनाने वाले पत्रकार अरुणाचल प्रदेश आएंगे तो जूते खाएंगे। इसके बाद गुरुवार को बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने किरेन रिजिजू को प्रेम से रहने की सलाह दी है। तेजस्वी ने टि्वटर पर लिखा है, ‘हमारे बिहार आईये किरेन रिजिजू जी, लिट्ठी-चोखा खिलाएंगे। हिंसा, लाठी चलाना, जूते मारना बंद करिये। आईये हमसब मिलकर एकता व प्रेमभाव बढ़ाएं।’

HOT DEALS
  • Micromax Dual 4 E4816 Grey
    ₹ 11978 MRP ₹ 19999 -40%
    ₹1198 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

पनबिजली परियोजना में हुए कथित भ्रष्टाचार की रिपोर्ट के सामने आने के बाद रिजिजू ने कांग्रेस पर भी निशाना साधा था। उन्होंने अंग्रेजी अखबार टीओआई से बात करते हुए कहा था कि ‘इसे एक घोटाला बता रही कांग्रेस को देश से और मुझसे माफी मांगनी चाहिए। क्‍योंकि सारे ठेके कांग्रेस के शासनकाल में दिए गए, सारा भुगतान कांग्रेस के समय में हुआ। मैं तो तब सांसद भी नहीं था। जब मैं सांसद बना तो गांववाले मेरे पास आए और कहा कि कुछ भुगतान बाकी है तो आप बोल दीजिए।’

रिजीजू ने इस बात से इनकार किया है कि गोबोई रिजीजू (प्रोजेक्‍ट के सब-कॉन्‍ट्रैक्‍टर) उनके कजन हैं। उन्‍होंने कहा, ”वह रिजीजू कबीले का हिस्‍सा हैं और उसी गांव से आते हैं, जहां से मैं हूं, मगर वह मेरे रिश्‍तेदार नहीं हैं।” इंडियन एक्सप्रेस ने मंगलवार (13 दिसंबर) को खबर की थी कि अरुणचाल के दो बांधों के निर्माण से जुड़ी मुख्य सतर्कता अधिकारी (सीवीओ) की रिपोर्ट में केंद्रीय मंत्री का भी नाम है।

वीडियो में देखें- अरुणाचल प्रदेश: किरण रिजिजू पर हाइड्रो प्रोजेक्ट में घोटाले का आरोप; रिजिजू ने किया खारिज

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App