X

बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी की अपराधियों से हाथ जोड़कर अपील- पितृ पक्ष में अपराध न करें

"मैं अपराधियों से भी हाथ जोड़कर आग्रह करूंगा कि कम से कम पितृ पक्ष में तो छोड़ दीजिए...बाकी दिन आप को मना करें ना करें कुछ ना कुछ करते रहते हैं...और पुलिस वाले लगे रहते हैं...कम से कम ये 15-16 दिन ये जो धार्मिक उत्सव है...इस उत्सव में कोई ऐसा काम मत कीजिए...जिससे बिहार की प्रतिष्ठा...गयाजी की प्रतिष्ठा और आने वाले लोगों को कोई शिकायत करने का मौका मिले।"

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को अपराधियों से हाथ जोड़कर अपील करनी पड़ी है कि बदमाश कम से कम पितृ पक्ष के मौके पर अपराध अंजाम देना छोड़ दें। सुशील मोदी सोमवार (24 सितंबर) को गया शहर में एक कार्यक्रम में शिरकत कर रहे थे। गया में पितृ पक्ष के मौके पर पिंड दान करने के लिए देश और दुनिया के कोने-कोने से हिन्दू समुदाय के लोग पहुंचते है और पितरों को जल अर्पित करते हैं। इस मौके पर डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा, “किसी भी बाहर से आने वाले व्यक्ति को शिकायत करने का कोई भी मौका नहीं मिलना चाहिए…और मैं अपराधियों से भी हाथ जोड़कर आग्रह करूंगा कि कम से कम पितृ पक्ष में तो छोड़ दीजिए…बाकी दिन आप को मना करें ना करें कुछ ना कुछ करते रहते हैं…और पुलिस वाले लगे रहते हैं…कम से कम ये 15-16 दिन ये जो धार्मिक उत्सव है…इस उत्सव में कोई ऐसा काम मत कीजिए…जिससे बिहार की प्रतिष्ठा…गयाजी की प्रतिष्ठा और आने वाले लोगों को कोई शिकायत करने का मौका मिले।”

सुशील मोदी के इस बयान पर प्रमुख विपक्षी दल राजद ने उन पर और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए सोमवार को आरोप लगाया कि यह उनकी नाकामियों को दर्शाता है। बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने मुजफ्फरपुर में आधुनिक और आटोमैटिक हथियार से अंधाधुंध गोलीबारी कर पूर्व मेयर समीर कुमार और उनके वाहन चालक की हत्या की ओर इशारा करते हुए ट्वीट कर कहा कि उपमुख्यमंत्री का बयान सरकार की नाकामियों को दर्शाता है। तेजस्वी ने कहा, ”ख़ुलासा और दिलासा मास्टर की कुख्यात जोड़ी डर के मारे कुछ दिनों में अपराधियों के पैर भी पकड़े तो अचम्भित नहीं होना। क्योंकि बिहार पुलिस से ज्यादा AK-47 अपराधियों के पास है।”

तेजस्वी ने मुख्यमंत्री के पूर्व घटित वारदातों पर यह कहे जाने कि बिहार में कानून का राज है, कानून अपना काम करेगा एवं हम ना किसी को फँसाते है, ना किसी को बचाते हैं को उद्धृत करते हुए आरोप लगाया ”नीतीश कुमार जी के इन दो तकिया कलामों ने बिहार का बेड़ा गर्क कर दिया है क्योंकि किसी को फँसाते हैं तब भी यही रटा-रटाया बोलते हैं और बचाते हैं तब भी यही घिसा-पिटा डायलॉग।” तेजस्वी ने कहा, ”मुजफ्फरपुर में पूर्व मेयर को दिन-दहाड़े अङ-47 से मार दिया गया। नीतीश जी की नाकामियों से बिहार में अङ-47 आम हथियार हो गया है। डबल इंजन की सरकार में अपराध तीन सौ गुना बढ़ गया है।”

  • Tags: Sushil Modi,
  • Outbrain
    Show comments