scorecardresearch

Bihar: पिता राजद प्रदेश अध्यक्ष और बेटे ने थाम लिया नीतीश का दामन, लालू की पार्टी पर लगाया टिकट बेचने का आरोप

जेडीयू में शामिल होने पर अजित सिंह ने कहा कि बिहार के गौरव को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही आगे लेकर जा सकते हैं। साथ ही उन्होंने आरजेडी पर हमला किया और कहा कि ये पार्टी समर्पित कार्यकर्ताओं की कब्रगाह बन चुकी है।

Jagada Nand Singh RJD| Ajit Singh joins JDU| Ajit Singh JDU
आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के बेटे अजित सिंह जेडीयू में शामिल (Photo Credit: Facebook @JagdanandSingh2)

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता जगदानंद सिंह के बेटे इंजीनियर अजित सिंह ने मंगलवार (12 अप्रैल) को जेडीयू ज्वाइन कर ली है। जगदानंद बिहार के लिए आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष हैं और अजित सिंह ने जेडीयू को सियासी सफर के लिए चुना है। जेडीयू में शामिल होने के बाद उन्होंने जमकर आरजेडी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि आरजेडी में पार्टी कार्यकर्ताओं का सम्मान नहीं किया जाता है, यह पार्टी समर्पित कार्यकर्ताओं का कब्रगाह बन गई है।

अजित सिंह ने जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह की मौजूदगी में पार्टी ज्वाइन की है। उनके पार्टी में शामिल होने पर ललन सिंह ने कहा कि पता नहीं किस बात के लिए जगदानंद वहां अपमान सहन कर रहे हैं, लेकिन अब हमें लगता है कि जगदानंद सिंह के बेटे अजित सिंह के जेडीयू में शामिल होने के बाद उनका स्वाभिमान जागेगा और वे भी बेटे की तरह जदयू में शामिल होंगे।

प्रदेश कार्यालय में आयोजित मिलन समारोह के दौरान अजित सिंह जेडीयू में शामिल हुए। ललन सिंह ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाते हुए कहा कि सीएम नीतीश कुमार न्याय के साथ विकास के सिद्धांत पर चलते हुए हर तबके के लिए काम कर रहे हैं। अजित सिंह इंजीनियर हैं और उन्होंने अच्छी खासी नौकरी को छोड़कर समाज सेवा करने का निर्णय लिया है। बीते 13 सालों से वे राजनीति में हैं और ग्रामीण इलाकों के लिए काम रहे हैं। ऐसे कार्यकर्ताओं की जेडीयू को जरूरत है, जो समर्पित होकर गावों के लिए काम करे।

अजित सिंह बोले- समर्पित कार्यकर्ताओं का कब्रगाह बन चुकी है राजद
जेडीयू में शामिल होने के बाद अजित सिंह ने कहा कि राजद समर्पित कार्यकर्ताओं की कब्रगाह है। वहां पार्टी कार्यकर्ताओं का सम्मान नहीं किया जाता है। उन्होंने कहा कि पैसे लेकर आरजेडी में जाने वालों की टिकट कंफर्म है। उन्होंने आरोप लगाया कि आरजेडी ने स्वर्ण आरक्षण का विरोध किया। अब आरजेडी एटूजेड की पार्टी है तो पहली पसंद क्यों नहीं? अजित सिंह ने कहा कि बिहार के गौरव को नीतीश कुमार ही आगे बढ़ा सकते हैं।

पढें बिहार (Bihar News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X