ताज़ा खबर
 

मनोरमा देवी का निलंबन विपक्ष के दबाव में नहीं : जद(एकी)

बिहार में सत्तारूढ़ पार्टी जनता दल (यूनाइटेड) ने शुक्रवार को कहा कि उसने अपनी विधान पार्षद मनोरमा देवी को विपक्ष के दबाव में नहीं, बल्कि पार्टी अध्यक्ष व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर पार्टी से निलंबित किया है।

Author पटना | May 21, 2016 03:27 am
जदयू से निलंबित विधान परिषद सदस्य मनोरमा देवी। (फाइल फोटो)

बिहार में सत्तारूढ़ पार्टी जनता दल (यूनाइटेड) ने शुक्रवार को कहा कि उसने अपनी विधान पार्षद मनोरमा देवी को विपक्ष के दबाव में नहीं, बल्कि पार्टी अध्यक्ष व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर पार्टी से निलंबित किया है। जदयू ने अपनी विधान पार्षद मनोरमा देवी को कथित तौर पर उसके बेटे राकेश रंजन यादव उर्फ राकी यादव को कई दिनों तक छिपाने के लिए निलंबित किया। राकी यादव गया में आदित्य सचदेव हत्या मामले में आरोपी है।

जदयू के प्रवक्ता संजय सिंह ने बताया, ‘पार्टी से विधान पार्षद मनोरमा देवी का निलंबन और उनके खिलाफ कानून प्रवर्तन एजंसियों द्वारा कार्रवाई (मुख्यमंत्री नीतीश) कुमार के इस स्पष्ट विश्वास के आधार पर की गई कि कानून सबके लिए बराबर है।’ सिंह उन मीडिया रपटों को लेकर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें कहा गया कि विपक्ष की ओर से ‘बढ़ते दबाव’ के कारण जदयू द्वारा मनोरमा देवी को पार्टी से निलंबित किया गया।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री का निरंतर यह रुख रहा है कि कानून को बिना किसी के भय के अपना काम करना चाहिए, चाहे वह जदयू के विधायक हों या गठबंधन साझीदारों के नेता हों। सिंह ने कहा, ‘नीतीश कुमार न ही किसी को मामले में फंसाते हैं और न ही आरोप का सामना कर रहे किसी व्यक्ति का बचाव करते हैं।’ उन्होंने कहा, ‘नीतीश कुमार की सरकार में अपराध करने वाले किसी भी व्यक्ति को बक्शा नहीं जाएगा। फिर चाहे वह कितना ही ताकतवर क्यों न हो।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App