ताज़ा खबर
 

बिहारः सुपौल के कोविड केयर सेंटर में भरा है पानी, डॉक्टर और नर्स ठेले पर आने को मजबूर

बारिश के कारण कोविड केयर सेंटर घुटने तक पानी भर गया। जिसके चलते डॉक्टर और नर्स को भी मुख्य सड़क से अंदर कमरे तक जाने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

ठेले पर बैठ कर जलजमाव को पार करते चिकित्सक (twitter)

बिहार में कोरोना वायरस का संक्रमण बहुत तेजी से फैल रहा है। रोजाना यहां सैकड़ों की संख्या में पॉज़िटिव मामले सामने आ रहे हैं। लेकिन बारिश के चलते यहां के कोविड केयर सेंटरों का बुरा हाल है। ऐसी ही एक तस्वीर सुपौल के कोविड केयर सेंटर से आ रही है जहां पानी भरने के चलते स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है।

बारिश के कारण कोविड केयर सेंटर घुटने तक पानी भर गया। जिसके चलते डॉक्टर और नर्स को भी मुख्य सड़क से अंदर कमरे तक जाने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इस कोविड केयर सेंटर से वायरल हो रही एक तस्वीर में डॉक्टर ठेले पर बैठ कर जाते दिखाई दे रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोविड केयर सेंटर में ड्यूटी पर कार्यरत चिकित्सक डॉ अमरेंद्र कुमार ठेले पर बैठ कर सेंटर तक जा रहे हैं। डॉ कुमार से जब पूछा गया, तो उन्होंने बताया कि विगत दो-तीन दिनों से परिसर में घुटने तक पानी है। ऐसी स्थिति में किस प्रकार अंदर जाएं। उन्होंने बताया कि नर्स को भी अंदर जाने में भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में हम लोग ठेले की मदद से परिसर में जमा पानी को पार कर अंदर जाते हैं।

डॉक्टर की ठेले पर बैठे हुए दयनीय तस्वीर लालू प्रसाद यादव के बेटे और आरजेडी नेता तेज प्रताप ने भी शेयर की है। तेजप्रताप ने यह तस्वीर शेयर करते हुए लिखा “बदसूरत “विकास” की खूबसूरत तस्वीर..!” इसे लेकर स्वास्थ्य प्रबंधक एस अदीब अहमद ने बताया कि जलजमाव की समस्या के बाबत वरीय अधिकारियों को सूचित कर दिया गया है। जल्द ही जलनिकासी की प्रक्रिया शुरू की जायेगी।

बता दें बिहार में कोरोना का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले 24 घंटे में 14 और व्यक्तियों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या बढ़कर बुधवार को 157 पहुंच गई। इस महामारी से अब तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 20173 हो गयी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सचिन पायलट पर उलझन में पड़ी बीजेपी, वसुंधरा फैक्टर बनी वजह, जानें- इनसाइड स्टोरी
2 राजस्थान: एक गुर्जर समेत 2 डिप्टी सीएम, सात मंत्री, 15 संसदीय सचिव; जादूगर अशोक गहलोत का नया गेम प्लान!
3 राजनीति में आने से पहले पत्रकार थे सचिन पायलट, बीबीसी के दिल्ली दफ्तर से शुरू किया था करियर
राशिफल
X