ताज़ा खबर
 

बिहार: बिजनेसमैन भी हैं JDU के नए प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा, महनार सीट गंवाने वाले को प्रदेश की कमान सौंप लव-कुश समीकरण को साधने की कोशिश

आपको बता दें कि पार्टी नेता बशिष्ठ नारायण सिंह की अस्वस्थता की वजह से चुनाव के समय पार्टी ने डॉ. अशोक चौधरी को पार्टी का कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष बनाया था।

bihar, umesh singh kushwahaउमेश सिंह कुशवाहा को बिहार प्रदेश की कमान सौंपी गई है। फोटो सोर्स – फेसबुक, @Umesh Singh Kushwaha

जदयू के नए बिहार प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर उमेश सिंह कुशवाहा के नाम पर मुहर लग गई है। पार्टी नेता राजीव रंजन ने मीडिया को जानकारी दी है कि उमेश सिंह कुशवाहा पार्टी के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे। राज्य में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में वैशाली जिले के मनहार विधानसभा सीट से हार का मुंह देखने वाले उमेश कुशवाहा को पार्टी ने बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। इस बार के बिहार चुनाव में जेडीयू की ओर से उमेश सिंह कुशवाहा का सीधा मुकाबला आरजेडी की बीना सिंह से था। लेकिन एलजेपी रविंद्र सिंह के चुनाव मैदान में आने से लड़ाई त्रिकोणीय हो गई। मतगणना में उमेश कुशवाहा को 53774, आरजेडी की बीना सिंह को 61721 और एलजेपी के रविंद्र कुमार सिंह को 31315 वोट मिले। इस तरह से कड़े मुकाबले में उमेश कुशवाहा को शिकस्त का सामना करना पड़ा।

इससे पहले 2015 के विधानसभा चुनावों में महनार सीट से जेडीयू के उमेश सिंह कुशवाहा ने जीत हासिल की थी। उन्होंने बीजेपी के अच्युतानंद को 27 हजार से ज्यादा वोटों के अंतर से हराया था। इस चुनाव में उमेश सिंह कुशवाहा को 69825 वोट मिले थे, जबकि अच्युतानंद के पाले में सिर्फ 43370 वोट ही गिरे थे।

वैशाली जिले के कैरी बुजुर्ग गांव के रहने वाले उमेश सिंह कुशवाहा साल 2015 से 2020 तक विधायक रहे हैं। उमेश कुशवाहा जेडीयू नेता और पूर्व विधायक के अलावा व्यापार में भी सक्रिय हैं और लॉर्ड बुद्धा फ़ूड प्रोडक्ट कंपनी में स्टेक होल्डर भी हैं। उन्होंने अपनी पढ़ाई ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी से की है।

दरअसल पार्टी ने पहले ही आरसीपी सिंह को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया था और अब उमेश कुशवाहा को जेडीयू का अगला प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। उमेश, कुशवाहा बिरादरी के हैं, वहीं आरसीपी सिंह और नीतीश कुमार कुर्मी जाति से आते हैं। कई राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि इस जोड़ी को लेकर पार्टी अपने पुराने वोट बैंक लव-कुश को मजबूत करने में लगी है।

आपको बता दें कि पार्टी नेता बशिष्ठ नारायण सिंह की अस्वस्थता की वजह से चुनाव के समय पार्टी ने डॉ. अशोक चौधरी को पार्टी का कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष बनाया था। चौधरी को राज्य मंत्रिमंडल में स्थान मिला है और उनके पास कई महकमों का जिम्मा है।

Next Stories
1 लद्दाख: भारत की सीमा में घूम रहा था चाईनीज सैनिक, इंडियन आर्मी ने दबोचा
ये पढ़ा क्या?
X