ताज़ा खबर
 

कोटा में बिहार के छात्र ने किया सुसाइड, 5 दिन में तीन स्टूडेंट्स दे चुके हैं जान

कोटा में एक और स्टूडेंट के सुसाइड का मामला सामने आया है। बता दें कि छात्र आइआइटी की तैयारी कर रहा था और बिहार का रहने वाला था।

प्रतीकात्मक फोटो, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

राजस्थान के कोटा में एक और स्टूडेंट के सुसाइड का मामला सामने आया है। बता दें कि छात्र आइआइटी की तैयारी कर रहा था और बिहार का रहने वाला था। हालांकि पुलिस को अभी तक कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला है जिसके चलते इसे पूरी तरह से सुसाइड नहीं माना जा रहा है। पुलिस के मुताबिक छात्र बिहार के सिवान जिले का रहने वाला था। वो यहां एलन इंस्टीट्यूट में पढ़ाई कर रहा था। जब लंबे वक्त तक छात्र ने अपने परिजन का फोन नहीं उठाया तो उन्होंने उसके कजिन को फोन कर छात्र से मिलने के लिए भेजा। वहीं जब मृतक छात्र का कजिन कमरे पर पहुंचा तो कमरा अंदर से बंद था। लेकिन खिड़की से देखने पर छात्र पंखे से लटका हुआ था।  कोटा को देश में कोचिंग हब के रूप में माना जाता है।  ऐसे में पिछले 5 दिनों में ये चौथा सुसाइड सोचने पर मजबूर करता है।

यूपी के छात्र ने किया था सुसाइड: बिहार के इस छात्र से पहले 24 दिसंबर को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर के रहने वाली एक छात्रा ने अपने हॉस्टल के कमरे में आत्महत्या की थी। बता दें कि छात्रा मेडिकल की तैयारी कर रही थी। हालांकि तब भी कोई सुसाइड नोट नहीं मिला था। वहीं इससे पहले शनिवार को 12वीं की कोचिंग कर रहे छात्र ने आरकेपुरम स्थित कोचिंग संस्थान में ही फंदा लगाकर जान दे दी थी। हालांकि तब भी कोई सुसाइड नोट नहीं मिला था।

2011 से करीब 50 सुसाइड: कोटा में करीब 150 शहरों के 1.5 लाख बच्चे अलग अलग कोचिंग में पढ़ते हैं। ऐसे में आंकड़ों के मुताबिक 2011 से अभी तक 50 से ज्यादा स्टूडेंट सुसाइड कर चुके हैं। गौरतलब है कि कुछ वक्त पहले एक अधिकारी ने बच्चों के परिजनों को एक खुला पत्र लिखा था। जिसमें उन्होंने कहा था कि अपने सपनों का भार बच्चों के कंधो पर मत डालो।

Next Stories
1 राम मंदिर पर अध्‍यादेश आया तो सुप्रीम कोर्ट जाएगी बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी
2 मिसाल है छत्तीसगढ़ की विधानसभाः ब्रिटेन जैसा है यहां का नियम, जल्द ही लोकसभा में लागू करने की तैयारी
3 शिवसेना का हमला: अच्‍छे दिन लाने में नाकाम रहे भाजपाई, अब विपक्ष में बैठने का डर
ये पढ़ा क्या?
X