ताज़ा खबर
 

बिहार: ‘हम तेजस्वी यादव बोल रहे हैं DM साहब’, धरनास्थल से राजद नेता ने जिलाधिकारी को फोन लगाया तो होने लगा शोर

बिहार की राजधानी पटना में प्रदर्शन कर रहे शिक्षक अभ्यर्थी नियुक्ति की मांग कर रहे हैं।

धरना स्थल पर राजद नेता और नेता विपक्ष तेजस्वी यादव पहुंचे।

बिहार की राजधानी पटना में प्रदर्शन कर रहे शिक्षक अभ्यर्थी नियुक्ति की मांग कर रहे हैं। आज यहां धरना स्थल पर राजद नेता और नेता विपक्ष तेजस्वी यादव पहुंचे। शिक्षकों के समर्थन में पहुंचे तेजस्वी ने कहा कि अगर नीतीश सरकार इन शिक्षकों को प्रदर्शन करने नहीं देगी तो वह खुद भी इस धरना स्थल पर शिक्षकों के साथ प्रदर्शन में शामिल हो जाएंगे। प्रदर्शनस्थल पर तेजस्वी ने अधिकारी को फोन कर कहा, ‘हम तेजस्वी यादव बोल रहे हैं DM साहब।’ जिसके बाद शोर होने लगा।

तेजस्वी ने ट्वीट किया, ”शिक्षा मंत्री अपने घर में क्यों दुबके बैठे है? दो-दो उपमुख्यमंत्री और CM 94000 अभ्यर्थियों की नियुक्ति पर क्यों नहीं बोल रहे है? पढ़ाई,दवाई,कमाई,सिंचाई,सुनवाई और कारवाई हमारा मुख्य मुद्दा है। मैं सदा बेरोजगारों,छात्रों, शिक्षकों,नौजवानों और किसानों के समर्थन में हूँ और रहूँगा। स्वीकृत धरना स्थल पर प्रदर्शन करना आंदोलनकारियों का लोकतांत्रिक अधिकार है। सरकार कैसे उन्हें अनुमति नहीं दे सकती? प्रशासन कैसे निर्दोष युवाओं,महिलाओं और दिव्यांगों पर लाठीचार्ज कर सकता है?”

तेजस्वी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ”हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद क्यों 94000 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र नहीं दिया जा रहा? वादानुसार आज प्रशासन ने गर्दनीबाग धरना स्थल पर प्रदर्शनकारियों को अनुमति नहीं दी जिसके चलते सभी अभ्यर्थी टिकट लेकर इको पार्क पहुंच गए। शाम को वहाँ पहुँचा और मुख्य सचिव, डीजीपी और डीएम से बात कर अनुमति मिलने के बाद रात्रि में पैदल मार्च कर उन्हें दोबारा धरना स्थल पर पहुँचा कर आया।”

बता दें कि इन शिक्षकों की नियुक्ति में देरी हो रही है जिस वजह से शिक्षक आंदोलनरत हैं। शिक्षकों अभ्यर्थियों ने राजधानी पटना के गर्दनीबाग को धरना स्थल के तौर पर चुना है लेकिन कल शाम को प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों को पुलिस ने खदेड़ दिया। स्थिति यह है कि पुलिस और प्रशासन शिक्षकों को प्रदर्शन नहीं करने दे रहे हैं। आज शिक्षकों ने अपने मामले में नेता विपक्ष तेजस्वी से दखल देने की अपील की जिसके बाद तेजस्वी यादव यहां पहुंचे।


राजद नेता तेजस्वी ने शिक्षकों के बीच ही मुख्य सचिव दीपक कुमार को फोन किया और लाउडस्पीकर पर अधिकारी से बात की। तेजस्वी ने कहा कि शिक्षकों पर इस तरह से लाठी चार्ज करना और प्रदर्शन न करने देना सही नहीं है। उन्होंने प्रशासन से कहा कि शिक्षकों को प्रदर्शन करने का अधिकार है इसलिए उन्हें इसके लिए जगह दी जानी चाहिए।

तेजस्वी ने कहा कि पटना हाई कोर्ट ने भी कह दिया है कि भर्ती जल्द पूरी हो जानी चाहिए। बता दें कि कुल 94 हजार शिक्षकों की नियुक्ति होनी है। तेजस्वी ने आरोप लगाया कि सरकार भर्ती में धांधली करने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि ऐसा कौन सा काम किया जा रहा है कि इतनी देरी की जा रही है।

 

Next Stories
1 VIDEO: हुगली में BJP समर्थकों ने लगाए नारे- देश के गद्दारों को गोली मारो…, TMC नेता ने कहा- ‘जय श्री राम’ नहीं चलेगा, जनता देगी जवाब
2 मध्य प्रदेश: 13 साल की लड़की को रेप के बाद नाले में फेंका, दफ्न करने के इरादे से पत्थर-कांटों से ढक दिया; FIR दर्ज
3 यूपी विधान परिषद में वीर सावरकर की तस्वीर, भड़क गई कांग्रेस और सपा, कहा- शहीदों का अपमान है
ये पढ़ा क्या?
X