ताज़ा खबर
 

बिहार: शराब पीकर घर में हंगामा करने लगा पिता तो बेटे ने बुला ली पुलिस, करा दिया गिरफ्तार

शराबी पिता का नाम राम बिहारी सिंह है और वह रिटायर्ड आर्मीमैन हैं। शराब के नशे में वे अक्सर ही अपने परिवारों वालों को पीटा करते थे।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

बिहार के भोजपुर जिले में एक बड़ा ही अजीबो गरीब वाकया देखने को मिला। दरअसल शराबी पिता की हरकतों से तंग आकर बेटे ने पुलिस को फोन कर दिया और पिता को जेल जाना पड़ा। मामला भोजपुर के बभनियाव गांव का है। शराबी पिता का नाम राम बिहारी सिंह है और वह रिटायर्ड आर्मीमैन हैं। बताया जा रहा है कि राम बिहारी को पिछले काफी समय से शराब पीने की लत है। शराब के नशे में वे अक्सर ही अपने परिवारों वालों को पीटा करते थे। राम बिहारी ने मंगलवार रात को भी ऐसा ही किया।

इस बार राम बिहारी की पत्नी ने अपने बेटे बिट्टू सिंह को फोन कर दिया। बिट्टू दिल्ली में एक निजी कंपनी में काम करते हैं और वे घटना के वक्त दिल्ली में ही थे। बिट्टू अपनी मां की बात सुनकर बेहद परेशान हो गए और भोजपुर के जगदीशपुर पुलिस स्टेशन में फोन कर दिया। उन्होंने अपने शराबी पिता की सारी हरकतों के बारे में पुलिस को बताया। बिट्टू की इस शिकायत को पुलिस ने गंभीरता से लिया और उनके घर जाकर राम बिहारी को गिरफ्तार कर लिया।

HOT DEALS
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 13989 MRP ₹ 16999 -18%
    ₹2000 Cashback

ध्यान रहे कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बिहार में शराबबंदी लागू किए जाने से राज्य में शराब पीना गैर जमानती अपराध हो गया है। आरा की एक लोकल अदालत ने राम बिहारी का मेडिकल टेस्ट करने के बाद को बुधवार को जेल भेज दिया। मेडिकल टेस्ट में यह बात सही पाई गई कि राम बिहारी ने शराब पीया हुआ था।

सहायक उपनिरीक्षक वैद्यनाथ चौधरी ने न्यूज 18 को बताया कि राज्य में शराबबंदी लागू होने के बाद भोजपुर जिले की यह ऐसी पहली घटना है जिसमें एक बेटे की शियाकत पर शराबी पिता को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक गांव के बिजली ट्रांसफार्मर्स पर मोबाइल नंबर लिख दिया गया है। इससे गांव वालों को इस बात की सहूलियत हो गई है कि वे बड़ी आसानी से शराब के आयात-निर्यात के बारे में पुलिस को सूचना दे सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App