scorecardresearch

नीतीश जी को सत्‍ता में आना है चोर दरवाजे से, पढ़ें सुशासन बाबू पर चोट करने वाले तेजस्‍वी के वो पांच बयान जिन्‍हें अब खुद भी नहीं सुनना चाहेंगे

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने एक बार बिहार की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए नीतीश कुमार सरकार पर हमला बोला था। उन्होंने कहा कि बिहार में गैंग्स ऑफ नीतीश कुमार चल रहा है। लगातार हत्या, लूट अपहरण, लोग मर रहे हैं।

नीतीश जी को सत्‍ता में आना है चोर दरवाजे से, पढ़ें सुशासन बाबू पर चोट करने वाले तेजस्‍वी के वो पांच बयान जिन्‍हें अब खुद भी नहीं सुनना चाहेंगे
आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और जेडीयू नेता नीतीश कुमार (फोटो सोर्स- एएनआई/ इंडियन एक्सप्रेस आर्काईव)

बिहार की राजनीति में पिछले कुछ दिनों से मचा बवाल अब निर्णायक मोड पर पहुंच गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन तोड़ दिया और राष्ट्रीय जनता दल के साथ आ गए हैं। अब नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव साथ मिलकर सरकार चलाएंगे।

बता दें कि तेजस्वी यादव अक्सर राज्य की नीतीश कुमार सरकार पर हमलावर रहे हैं और कई बार वो मुख्यमंत्री को लेकर ऐसे बयान देते नजर आए, जिन्हें वह शायद अब खुद सुनना नहीं चाहेंगे। आईए जानते हैं तेजस्वी यादव के वो बयान, जब उन्होंने नीतीश कुमार पर जमकर हल्ला बोला था। आज भले ही ये दोनों साथ हो गए हैं, लेकिन उन बयानों के सियासी मामले अब भी ताजा हैं।

  • एक बार आरजेडी नेता ने राज्य में कानून व्यवस्था को लेकर नीतीश सरकार पर तंज कसते हुए कहा था, “मुख्यमंत्री जी को तो सारी चीजों का पता है। हमने तो पहले ही कहा था कि बिहार में गैंग्स ऑफ नीतीश कुमार चल रहा है। लगातार हत्या, लूट अपहरण, लोग मर रहे हैं। कानून व्यवस्था पूरी तरह से चौपट है। भ्रष्टाचार में पूरी सरकार डूबी हुई है। एक आध नहीं कई सुबूत हम लोगों ने आप लोगों के सामने भी सार्वजनिक किए, लेकिन कोई कार्रवाई, कोई सुनवाई नीतीश जी के इस राज में नहीं होती है क्योंकि लगातार वो अपराधियों को संरक्षण देने का काम करते हैं।”
  • बिहार विधानसभा में तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार की सरकार को सर्कस बताते हुए कहा कि अजीबोगरीब खेल चल रहा है। जेडीयू के अध्यक्ष कहते हैं कि बीजेपी से उनका गठबंधन परिस्थिति वश है। वहीं, बीजेपी के मंत्री और पूर्व मंत्री आपस में लड़ रहे हैं और खुलेआम एक-दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य के अंदर सत्ता पक्ष में ही घमासान मचा हुआ है। अब तो बिहार विधानसभा के अध्यक्ष तक का सम्मान नहीं हो रहा है। स्पीकर महोदय खुद कह चुके हैं कि थानेदार तक उनकी बात नहीं सुनता है।
  • तेजवस्वी यादव ने कहा नीतीश पर हमला करते हुए कहा था कि चाहे हमारी पार्टी हो, हमारे नेता हों। किन किन लोगों को इन्होंने धोखा नहीं दिया। अब तो जैसे को तैसा मिला है। नीतीश जी का कोई काम है सत्ता में, आना है चोर दरवाजे से, सत्ता के लोभी हैं।
  • तेजस्वी ने एक बयान में कहा था कि चुनाव के दौरान कुछ लोग अपना आपा खो रहे थे। भड़ास निकाल रहे थे, बच्चे गिन रहे थे। मेरे अगर सवाल को लेकर, उन्हीं का कोट करते हुए हमने बोला था। सब लोगों ने देखा था और सुना था, वीडियो क्लिप भी है। इसमें मुख्यमंत्री जी कह रहे थे कि बेटे की चाह में, बेटियां पैदा करते रह गए। तो हमने भी ये जवाब दिया कि अगर मर्यादा की बात की जाए। तो ये शोभा नहीं देता किसी मुख्यमंत्री या सबसे अनुभवी मुख्यमंत्री को कि आप बच्चे के बारे में या मेरी बहनों को राजनीति में परामर्श में घसीटकर लेकर आएं। कहने के लिए तो लोग यह भी कह सकते हैं कि भाई एक संतान के बाद आपने डर के मारे कि बेटी ना पैदा हो जाए इसलिए दूसरी संतान पैदा नहीं की।
  • तेजस्वी यादव ने बेरोजगारी और स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर नीतीश पर हमला करते हुए कहा था कि बिहार में स्वास्थ्य सेवाएं खराब हैं, शिक्षा विभाग खराब है, शिक्षा सेवा खराब है, हम सवाल नहीं पूछेंगे तो कौन पूछेगा। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा था कि आए दिन नीतीश कुमार विशेष दर्जे की बात करते हैं और वह खुद बताएं कि बिहार में बिजली सबसे महंगी क्यों है।
  • बिहार में चुनाव के दौरान तेजस्वी यादव ने नीतीश पर चुटकी लेते हुए कहा था कि चचा अब थक गए हैं, इसलिए राजनीति से सम्मानपूर्वक रिटायरमेंट ले लीजिए।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट