ताज़ा खबर
 

बिहार राज्य पंचायत चुनाव के छठे चरण में 64 फ़ीसद मतदान

छठे चरण के संपन्न मतदान में कुल 81456 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला मतपेटियों में बंद हो गया जिनमें 42169 महिला उम्मीदवार भी शामिल हैं।

Author पटना | Published on: May 15, 2016 2:48 AM
पटना के नजदीक संपतचक गांव में पंचायत चुनाव के छठे चरण में वोट देने के लिए कतार में खड़ी महिलाएं। (पीटीआई फोटो)

बिहार में पंचायत निर्वाचन 2016 के छठे चरण के शनिवार (14 मई) को संपन्न मतदान के दौरान छिटपुट वारादातों के बीच करीब 64 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने-अपने मताधिकार का प्रयोग किया। बिहार राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त ए के चौहान ने शनिवार (14 मई) को यहां पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि पंचायत निर्वाचन 2016 के छठे चरण के शनिवार (14 मई) संपन्न मतदान के दौरान छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण रहा और शाम पांच बजे तक 63.77 मतदाताओं ने अपने-अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

बिहार राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव दुर्गेश नंदन के साथ संवाददाताओं को संबोधित करते हुए चौहान ने बताया कि वर्ष 2011 के पंचायत चुनाव के छठे चरण में 62.37 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने-अपने मताधिकार का उपयोग किया था। चौहान ने बताया कि आयोग ने खगड़िया जिला के परबत्ता के प्रखंड विकास पदाधिकारी को पंचायत चुनाव तक मतदान की प्रक्रिया से अलग रखे जाने का जिला प्रशासन को निर्देश दिया है। उन्होंने बताया कि भोजपुर जिला के उदवंतनगर प्रखंड परिसर स्थित मतदान केंद्र संख्या 15, 16 एवं 17 पर उदवंतनगर पंचायत के मुखिया प्रत्याशी मुकेश कुमार को बोगस मतदान करने एवं उदवंतनगर के अंचलाधिकारी के साथ अभ्रद व्यवहार करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया।

चौहान ने बताया कि भोजपुर जिला के मुफस्सिल थाना अंतर्गत दौलतपुर गांव के सामुदायिक भवन में स्थित मतदान केंद्र 212, 213 (क) एवं 214 पर बुर्का पहनकर महिलाओं द्वारा मतदान करने के दौरान पोलिंग एजेन्ट द्वारा महिलाओं का चेहरा देखकर मतदान कराने के मुददे पर दो मुखिया प्रत्याशी एवं उनके समर्थकों के बीच झडप हो गयी तथा दोनों प्रत्याशियों के समर्थक मतदान केंद्र के समीप उलझ गए जिन्हें पुलिस बल प्रयोग कर नियंत्रित किया गया। उन्होंने बताया कि अररिया पिठौरा पंचायत स्थित बूथ संख्या 355 पर मुखिया प्रत्याशी संतोष कुमार सिंह के पांच समर्थकों को मतदाताओं के साथ मारपीट करने तथा मतपत्र लेकर भागने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

चौहान ने बताया कि पूर्वी चंपारण जिला के सुगौली थाना अंतर्गत मतदान केंद्र संख्या 119 पर मतदान दल में शामिल एम एस कॉलेज के अनुचर नंदन सिंह (59) को दिन में पेट दर्द एवं उल्टी की शिकायत होने पर उन्हें सुगौली अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के क्रम में उनकी मृत्यु हो गयी। उन्होंने बताया कि कैमूर जिला भागवान थाना अंतर्गत मतदान केंद्र संख्या 49 एक उम्मीदवार के पक्ष में राशि बांटने के आरोप में पोलिंग एजेन्ट गुड्डू सिंह को पकड़े जाने के विरोध में असामाजिक तत्वों द्वारा पथराव किया गया जिसमें मतदान केंद्र पर प्रतिनियुक्त प्रशिक्षु सिपाही पप्पू कुमार प्रसाद साधारण रुप से जख्मी हो गए। जख्मी सिपाही को अस्पताल भेजकर इलाज कराया गया।

जहानाबाद जिले के नगर थाना अंतर्गत भुवन बिगहा गांव स्थित मतदान केंद्र संख्या 109 पर कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा बूथ कब्जा करने का प्रयास किया गया और वहां मौजूद पुलिसकर्मियों पर हमला कर उनसे राइफल छीनने का प्रयास किए जाने पर पुलिस को हवा में दो चक्र हवाई फायरिंग करनी पड़ी। इस सिलसिले में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

पंचायत निर्वाचन के छठे चरण में शनिवार (14 मई) को राज्य के 37 जिलों के कुल 58 प्रखंडों के 903 ग्राम पंचायतों में मतदान संपन्न हुआ जिसमें जिला परिषद सदस्य के 125, पंचायत समिति सदस्य के 1227, ग्राम पंचायत सदस्य के 12242 एवं ग्राम कचहरी पंच के 12242 पदों के लिए 12711 मतदान केंद्रों पर मतदान कराया गया। इसके लिए 12711 मतदान दल का गठन किया गया तथा 3705 गश्ती दल दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गयी थी। छठे चरण के संपन्न मतदान में कुल 81456 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला मतपेटियों में बंद हो गया जिनमें 42169 महिला उम्मीदवार भी शामिल हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories