ताज़ा खबर
 

बिहार: मौर्य एक्सप्रेस के बोगी में घुसी टूटी पटरी, एक यात्री की मौत, दो घायल

बिहार के लखीसराय में शनिवार (13 अप्रैल) को एक रेल हादसे में एक यात्री की मौत हो गई और दो लोग घायल बताए जा रहे हैं। समाचार एजेंसी एएनआई की खबर के मुताबिक लखी सराय में मौर्य एक्सप्रेस की एक बोगी में टूटी पटरी का एक हिस्सा घुस गया।

लखीसराय में हुए रेल हादसे की एक तस्वीर। (फोटो सोर्स- एएनआई)

बिहार के लखीसराय में शनिवार (13 अप्रैल) को एक रेल हादसे में एक यात्री की मौत हो गई, जबकि दो लोग घायल बताए जा रहे हैं। समाचार एजेंसी एएनआई की खबर के मुताबिक लखीसराय में मौर्य एक्सप्रेस की एक बोगी में टूटी पटरी का एक हिस्सा घुस गया। पटरी ट्रेन की जनरल बोगी में घुसी। हादसे को लेकर ईस्ट सेंट्रल रेलवे की तरफ से आधिकारिक बयान में नक्सली साजिश की बात कही गई है। एएनआई ने रेलवे के हवाले से लिखा- ”हादसे के पीछे नक्सलियों का हाथ हो सकता है, लखीसराय में सीढ़ियों के ऊपर से बोगी में एक करीब 10 मीटर लंबी पटरी का टुकड़ा घुस गया। इसमें एक शख्स की मौत हो गई और दो अन्य घायल हैं। टूटी हुई पटरी का टुकड़ा रेलवे ट्रैक का नहीं है।” मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घायलों में से एक यात्री को पटना और दूसरे को लखीसराय में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत गंभीर बताई जाती है। हादसे में जिस शख्स की मौत हुई, उसकी पहचान सहारनपुर के मंगल सेठ के रूप में हुई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हासदा लखीसराय जिले के किऊल रेलवे स्टेशन के पास हुआ। हादसे के बाद कुछ देर तक रेल मार्ग बाधित रहा। इस दौरान झाझा-किऊल रेलवे लाइन पर ट्रेनों का परिचालन ठप्प रहा, लेकिन फिर स्थिति सामान्य हो गई। एनडीटीवी की खबर के मुताबिक पूर्व-मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने मामले में किसी साजिश की आशंका इनकार किया था। उन्होंने कहा था कि पुरानी पटरियां रेल पटरी के किनारे ही रखी जाती रही हैं, लेकिन ऐसी घटना कभी नहीं घटी। उन्होंने कहा कि मामले की जांच कराई जा रही है।

कहा जा रहा कि जिस शख्स की हादसे में मौत हुई वह बोगी के दरवाजे के पास वाली सिंगल सीट पर बैठा सफर कर रहा था, वह यूपी के आजमगढ़ का रहने वाला था। दुर्घटना के बाद के बाद इसके पीछे की बम धमाके की अफवाह भी उड़ी थी। हादसे के बाद जब ट्रन को पास के किऊल रेलवे स्टेशन पर ले जाया गया तो यात्रियों में हड़कंप मच गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App