बिहार: तेजस्वी का सरकारी बंगला खाली कराने पहुंची टीम लौटी, प्रशासन ने स्थगित की कार्रवाई

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव का सरकारी बंगला खाली कराने पहुंची अधिकारियों और पुलिस की टीम को विरोध का सामना करना पड़ा।

तेजस्वी यादव फोटो सोर्स- ट्विटर

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव का सरकारी बंगला खाली कराने पहुंची अधिकारियों और पुलिस की टीम को विरोध का सामना करना पड़ा। राजद के कई नेता इसके विरोध में बंगले के सामने धरने पर बैठ गए हैं। तेजस्वी यादव के सरकारी बंगले को खाली करवाने के लिए जिलाधिकारी का आदेश पाकर सुबह प्रशासनिक अधिकारी तेजस्वी आवास पहुंचे, जहां आवास के बाहर गेट पर उन्होंने दो पर्चा सटा देखा। पर्चे पर लिखा था कि बंगला खाली कराने का मामला कोर्ट में विचाराधीन है।

पुलिस के अनुसार, जिलाधिकारी से आदेश मिलने के बाद अधिकरियों की एक टीम पुलिस बल के साथ तेजस्वी के पटना के पांच देशरत्न मार्ग स्थित सरकारी आवास खाली कराने के लिए बुधवार सुबह पहुंचे। यहां उन्हें आवास के बाहर एक पर्चा चिपका हुआ दिखा, जिस पर लिखा है कि बंगला खाली कराने का मामला अदालत में विचाराधीन है। इसके बाद अधिकारी अपने उच्च अधिकारियों के साथ निर्देश प्राप्त करने की कोशिश ही कर रहे थे कि राजद कार्यकर्ताओं के विरोध का भी सामना करना पड़ा। राजद के कार्यकर्ता बंगला के सामने धरने पर बैठ गए हैं।

धरने पर बैठे राजद के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने इसे अलोकतांत्रिक बताते हुए कहा कि विपक्ष के नेता पटना में नहीं हैं। यह मामला भी अदालत में विचाराधीन है। ऐसे में यह कार्रवाई समझ से परे हैं। इस बीच, तेजस्वी के पक्ष में उनके भाई और पूर्व मंत्री तेज प्रताप यादव भी उतर पड़े हैं। तेजप्रताप ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार बंगला-बंगला नही खेले। उन्होंने कहा कि सरकार की नजर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर नहीं जाती है, लेकिन लालू परिवार को कैसे परेशान किया जाए इसी पर ध्यान केंद्रित है।

उल्लेखनीय है कि तेजस्वी को यह बंगला उपमुख्यमंत्री की हैसियत से आवंटित किया गया था। उपमुख्यमंत्री पद से हटने के बाद भवन निर्माण विभाग ने बंगला खाली करने को कहा था, जिसे लेकर तेजस्वी ने पटना उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल की थी। जिस पर सुनवाई करते हुए अदालत ने पिछले माह बंगला खाली करने का आदेश दिया था। तेजस्वी इसके बाद एक बार फिर अदालत पहुंचे हैं। भवन निर्माण मंत्री महेश्वर हजारी ने कहा, “मुझे उम्मीद है कि तेजस्वी यादव जल्द ही बंगला खाली कर देंगे। सरकारी चीजें सिर्फ सरकारी ही होती है।”

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट