ताज़ा खबर
 

Bihar News Today, 19 August 2019: पूर्व बिहार सीएम जगन्नाथ मिश्र का निधन, लंबी बीमारी के बाद दिल्ली में ली अंतिम सांस

हिंदी न्यूज़ लाइव, Bihar News Today, Bihar Hindi Samachar, Bihar News in HindiUpdates: एएनआई के मुताबिक अनंत सिंह का कहना है कि वो गिरफ्तारी से डर नहीं रहे हैं। उन्होंने यह भी दावा किया कि वो पिछले 14 सालों से उस घर में नहीं रह रहे हैं तो एके-47 रखे जाने का सवाल ही नहीं उठता।

Author पटना | Updated: August 19, 2019 7:07 PM
दिनभर की अहम खबरों के लिए क्लिक करें Jansatta.com

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का निधन हो गया है। वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे। जगन्नाथ तीन बार बिहार के मुख्यमंत्री रह चुके थे। पहली बार वे 1975, दूसरी बार 1980 और तीसरी बार 1989 में मुख्यमंत्री बने थे। 90 के दशक में वे केंद्र में कैबिनेट मंत्री के पद पर भी कार्यरत रहे। अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत करने से पहले वे लेक्चरर थे। मिश्रा के निधन पर राज्य में तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की गई है। पूर्व सीएम का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार होगा।कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र के निधन पर पर दुख जताते हुए सोमवार को कहा कि मिश्र ने हमेशा कमजोर तबकों की आवाज उठाई और लंबे समय तक उन्हें याद किया जाएगा

बिहार के मोकामा से बाहुबली निर्दलीय विधायक अनंत सिंह ने तीन-चार दिनों में सरेंडर करने की बात कही है। रविवार (18 अगस्त) को पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए अनंत सिंह घर के पीछे के दरवाजे से भाग निकले थे। इसके बाद पुलिस ने उनकी पत्नी और स्टाफ को नजरबंद कर दिया था। दरअसल अनंत सिंह के घर से एके-47 बरामद हुई थी जिसके बाद उनके खिलाफ यूएपीए के तहत केस दर्ज किया गया था। हालांकि एएनआई के मुताबिक अनंत सिंह का कहना है कि वो गिरफ्तारी से डर नहीं रहे हैं। उन्होंने यह भी दावा किया कि वो पिछले 14 सालों से उस घर में नहीं रह रहे हैं तो एके-47 रखे जाने का सवाल ही नहीं उठता।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 National Hindi News, 19 August 2019 Updates: कांग्रेस नेता भूपेंद्र हुड्डा बोले- पार्टी भटक गई, पहले जैसी नहीं रही