ताज़ा खबर
 

आग से झुलसे मरीज को इलाज करने के बजाय कचरे के ढेर पर फेंका, तेजस्वी ने नीतीश पर बोला हमला

बिहार के हाजीपुर में एक अस्पताल ने आग से झुलसे मरीज का इलाज करने के बजाए उसे कचरे के ढेर पर फेंक दिया।

नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

बिहार के सरकारी अस्पतालों से अक्सर अमानवीय तस्वीरें सामने आती हैं। लेकिन अब जो मामला सामने आया है उसे जानकर हर कोई अंदर तक हिल गया है। दरअसल हाजीपुर सदर स्थित अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती एक मरीज को वॉर्ड बॉय द्वारा कचरे के ढेर पर फेंकने का मामला सामने आया है। तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद सियासी गलियारों में जमकर बवाल मचा। बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने तस्वीर को ट्वीट करते हुए नीतीश कुमार की सरकार पर सवाल उठाया है।

बवाल के बाद पहुंचाया इमरजेंसी वार्ड में

प्राप्त जानकारी के मुताबिक आग से झुलसे एक युवक को हाजीपुर सदर अस्पताल में रैफर किया गया था। लेकिन वहां बेहतर इलाज करने के बजाए उसे कचरे के ढेर पर फेंक कर छोड़ दिया। वहां से किसी ने ठंड में तड़पते इस युवक की तस्वीर सोशल मीडिया पर अपलोड कर दी। इसके बाद तस्वीर वायरल हो गई और फिर अस्पताल प्रबंधन ने आनन-फानन में मरीज को इमरजेंसी वार्ड में शिफ्ट किया।

‘धूप में बिठाया था, बेहोशी से गिर गया’

सोशल मीडिया से होता हुआ यह मामला बिहार की सियासत में भी पहुंचा। तेजस्वी यादव ने ट्विटर के जरिये घटना को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की चुप्पी पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा, ‘बिहार में कौन-सा राज है? इतनी भी बर्फ़ नहीं गिर रही कि (घटना पर) आपकी जुबान ही जम जाए।’ वहीं अस्पताल प्रबंधन ने जांच की बात करते हुए अपनी सफाई में कहा कि युवक को अस्पताल की सफाई के दौरान धूप में बिठाया गया था जहां से बेहोश होने के कारण वह कचरे पर गिर गया।

तेजस्वी ने ट्वीट की फोटो, नीतीश से पूछा सवाल (@yadavtejashwi)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App