ताज़ा खबर
 

बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के लिए दिखी लड़कियों की दीवानगी, वैलेंटाइन्स डे के मौके पर दिए गुलाब, ली सेल्फी

यह पहली बार नहीं है जब लड़कियों ने तेजस्वी के लिए खुले तौर पर अपनी दीवानगी जताई हो।

बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव।

बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के लिए लड़कियां कितनी दीवानी हैं, इसकी हद सोमवार (13 फरवरी) को उस वक्त नजर आई जब उन्हें गुलाब देने की लड़कियों में होड़ मच गई। मोस्ट एलिजिबिल बैचलर्स में से एक तेजस्वी यादव को पटना से किसी कार्यक्रम के लिए गया आना था। इसी रास्ते में जहानाबाद भी आता है। यहां के बीएड कॉलेज की लड़कियों को जब यह मालूम चला कि स्मार्ट तेजस्वी यादव वहीं से गुजरने वाले हैं तो काफी लड़कियां गुलाब लेकर कॉलेज के बाहर उनके वेलकम के लिए खड़ी हो गईं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक जब तेजस्वी यादव ने लड़कियों की इतनी भारी भीड़ को देखा तो उन्होंने अपने काफिले को रुकने को कहा। इसके बाद वह कार से उतरे और 30-40 लड़कियों से गुलाब के फूल भी लिए। कार में रवाना होने से पहले उन्होंने सभी का हाथ हिलाकर अभिवादन किया और सभी को वैलेंटाइन्स डे की बधाई भी दी। इस मौके पर लड़कियां तेजस्वी के साथ सेल्फी लेना नहीं भूलीं।

यह पहली बार नहीं है जब लड़कियों ने तेजस्वी के लिए खुले तौर पर अपनी दीवानगी जताई हो। पिछले साल जब उपमुख्यमंत्री और पथ निर्माण मंत्री तेजस्वी यादव ने सड़कों की बदहाल स्थिति बताने के लिए एक वॉट्सएप नंबर जारी किया था तो उस पर ज्यादातर संदेश शादी के प्रस्ताव के आए थे। सरकारी वॉट्सएप नंबर पर 44 हजार से ज्यादा लड़कियों ने तेजस्वी यादव को शादी का प्रस्ताव भेजा था। लेकिन तेजस्वी यादव ने साफ किया था कि उनकी शादी को लेकर जो भी फैसला होगा, वह उनके मां-बाप ही तय करेंगे।

वैलेंटाइन्स डे पर तेजस्वी की परिभाषा : इसके बाद जब तेजस्वी यादव गया पहुंचे तो वहां पत्रकारों ने उनसे वैलेंटाइन्स डे के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि इसमें गलत कुछ भी नहीं है। प्यार के इस एहसास को बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने भी अपने शब्दों में बयां किया है। गया में तेजस्वी यादव ने प्यार की नई परिभाषा गढ़ी। उन्होंने कहा कि प्यार, मोहब्बत और भाईचारा फैलाने वाले हर पर्व को अपनाना चाहिए।

प्यार और लाइक में होता है अंतर : इसके साथ ही तेजस्वी ने प्यार और पसंद की परिभाषा भी दी। तेजस्वी ने कहा कि लाइक और लव में अंतर होता है। अगर आप गुलाब को लाइक करते हैं तो उसे तोड़ने की कोशिश करते हैं, और अगर उससे प्यार करते हैं तो पौधे में पानी डालते हैं, ताकि वो हमेशा खिला रहे।

Next Stories
1 जम्‍मू कश्‍मीर: बांदीपुरा में सेना और आतंकियों में मुठभेड़, तीन जवान शहीद, एक आतंकी ढेर
2 आज तय होगा शशिकला का राजनीतिक भविष्य, सुप्रीम कोर्ट 10.30 बजे सुनाएगा फैसला
3 फोन पर पोर्न देखकर किया 7 साल की बच्‍ची का रेप, जिंदा जलाने के बाद हाइवे किनारे फेंकी लाश
ये पढ़ा क्या ?
X