ताज़ा खबर
 

बिहार ने शराबबंदी के पक्ष में विश्व की सबसे लंबी मानव शृंखला बनाई

पूर्णशराबबंदी के पक्ष में एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए बिहार ने शनिवार को विश्व की सबसे लंबी मानव शृंखला बनाई, जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पार्टी लाइन से हट कर, सभी दलों ने और आमजन व स्कूली बच्चे शामिल हुए।

Author पटना | January 22, 2017 2:17 AM
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और बिहार सरकार के मंत्रीगण शराबबंदी के समर्थन में मानव श्रृंखला बनाते हुए।(Photo-PTI)

पूर्णशराबबंदी के पक्ष में एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए बिहार ने शनिवार को विश्व की सबसे लंबी मानव शृंखला बनाई, जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पार्टी लाइन से हट कर, सभी दलों ने और आमजन व स्कूली बच्चे शामिल हुए। दोपहर 12.15 से एक बजे तक बनाई गई इस मानव शृंखला को लेकर पटना शहर स्थित ऐतिहासिक गांधी मैदान में आयोजित मुख्य आयोजन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, राजद प्रमुख लालू प्रसाद, बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी और बिहार विधान परिषद सदस्य अवधेश नारायण सिंह के साथ एक-दूसरे का हाथ पकडेÞ प्रदेश में पूर्णशराबबंदी के पक्ष में एकजुटता प्रदर्शित की। राज्य स्तर पर बनाई गई इस मानव शृंखला की शुरुआत बिंदु गांधी मैदान में उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और मंत्री अशोक चौधरी, राकांपा महासचिव तारिक अनवर और प्रदेश के कई अन्य मंत्री शामिल हुए।

बिहार की प्रमुख विपक्षी पार्टी भाजपा की राज्य कार्यकारिणी की शनिवार को सीवान जिले में बैठक के चलते पार्टी नेताओं ने मानव शृंखला में शामिल हुए। सीवान में आयोजित मानव शृंखला में भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी, केंद्रीय राज्य मंत्री रामकृपाल यादव, बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता प्रेम कुमार, पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन और सांसद जनार्दन सिगरीवाल, पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मंगल पाण्डेय सहित अन्य नेता शामिल हुए। पटना के गांधी मैदान में बनी मानव शृंखला में मुख्यमंत्री, राजद प्रमुख सहित अन्य नेता बिहार के नक्शे की आकृति वाले लाइन में एक-दूसरे का हाथ पकडेÞ खडेÞ रहे पूर्णशराबबंदी के पक्ष में एकजुटता प्रदर्शित की और शराब के खिलाफ संदेश देने के लिए बिहार के इस नक्शे के मध्य में क्रास चिह्न लगे शराब की एक बोतल को रेखांकित किया था। नक्शे के बीच में गहरे काले रंग से शब्द बिहार लिखा गया था, ताकि इसकी इसरो के सेटेलाइट, हेलिकॉप्टर व ड्रोन के जरिए स्पष्ट एरियल तस्वीर आ सके। इस अवसर पर सांप्रदायिक सौहार्द को दर्शाने के लिए हिंदू, मुसलिम, सिख और ईसाई के पारंपरिक वेषभूषा में चार बच्चे मुख्यमंत्री सहित अन्य नेताओं के बगल में खडेÞ दिखे।

शराबबंदी के पक्ष में एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए 11292 किलोमीटर लंबी इस शृंखला में दो करोड़ लोगों के शामिल होने की संभावना जताई गई थी। इनको शराब के विरोध में विश्व की अब तक की सबसे लंबी मानव शृंखला बताई जा रही है। इस मानव शृंखला को लेकर नीतीश की टिप्पणी आनी अभी बाकी है, पर राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने कहा कि शराब की बुराई से लड़ने के लिए सभी राजनीति पार्टियां और आमजन एकजुट हैं। मुख्यमंत्री नीतीश यह कह चुके हैं कि इस शृंखला के साथ अगले दो माह तक एक बार फिर प्रदेश में शराबबंदी के पक्ष में विशेष अभियान चलाया जाएगा और बिहार को हम नशामुक्ति की ओर ले जाएंगे। मुख्य सचिव अंजनी कुमार, पुलिस महानिदेशक पीके ठाकुर सहित राज्य के कई अन्य प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी गांधी मैदान में एक-दूसरे का हाथ पकडेÞ इस शृंखला में शामिल हुए। राजधानी पटना सहित प्रदेश के अन्य भागों में इस मानव शृंखला को लेकर स्कूली बच्चों के बीच विशेष तौर पर उत्साह दिखा। देश की महिलाएं जिनके आग्रह पर नीतीश कुमार ने बिहार में शराबबंदी लागू की, पटना और प्रदेश के अन्य स्थानों में इसमें बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App