ताज़ा खबर
 

तीन चरणों में भाजपा पर वैक्सीन लगाएगी बिहार की जनता, डिबेट में बोले कांग्रेस नेता

डिबेट शो में कांग्रेस के अभय दुबे ने भाजपा के चुनावी वादे पर निशाना साधते हुए कहा कि बिहार चुनाव में तीन चरणों में वैक्सीन लगाया जाएगा।

bihar elections bihar election 2020तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (पीटीआई)

बिहार विधानसभा चुनाव में प्रमुख विपक्षी दलों ने बिहार के लोगों को कोरोना वायरस का टीका निशुल्क उपलब्ध कराने के भाजपा के चुनावी वादे को लेकर गुरुवार को उस पर राजनीतिक लाभ के लिए महामारी का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया और निर्वाचन आयोग से कार्रवाई की मांग की। भाजपा के इस चुनावी वादे पर न्यूज18 इंडिया के डिबेट शो ‘आर पार’ में भी विपक्षी दल कांग्रेस ने राज्य की एनडीए सरकार पर निशाना साधा।

डिबेट शो में कांग्रेस के अभय दुबे ने भाजपा के चुनावी वादे पर निशाना साधते हुए कहा कि बिहार चुनाव में तीन चरणों में वैक्सीन लगाया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘भीषणतम महामारी का वैक्सीन तलाश लिया गया है। तीन चरणों में वैक्सीन लगाया जाएगा। तारीख देश के नागरिक याद रखें। 28 अक्टूबर, तीन नवंबर और सात नवंबर।’ डिबेट में कांग्रेस प्रवक्ता ने तंज कसते हुए कहा कि दस नंवबर को बिहार जेडीयू और भाजपा की महामारी से मुक्त हो जाएगा।

इधर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा के इस वादे को लेकर तंज कसते हुए कहा कि भारत सरकार ने कोविड के टीके के वितरण की रणनीति की घोषणा कर दी है और अब लोग इसे हासिल करने की जानकारी के लिए राज्यवार चुनाव कार्यक्रमों पर गौर कर सकते हैं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘भारत सरकार ने कोरोना वायरस के टीके तक लोगों की पहुंच से जुड़ी अपनी रणनीति की घोषणा कर दी है। कृपया यह जानने के लिए राज्यवार चुनाव कार्यक्रमों का सहारा लें कि यह आपको दूसरे फर्जी वादों के पिटारे के साथ कब मिलेगा।’

इसी तरह छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि बिहार में मुफ्त टीके का वादा करके भाजपा स्वास्थ्य सेवा का राजनीतिकरण कर रही है। कांग्रेस नेता और छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंह देव ने कहा कि निर्वाचन आयोग को स्वत: संज्ञान लेना चाहिए क्योंकि मुफ्त टीके को लेकर सरकार का रवैया चुनिंदा नहीं हो सकता।

आरजेडी के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने भाजपा पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, ‘किसी भी लोक-कल्याणकारी राज्य/राष्ट्र में किसी महामारी के वैक्सीन को चुनावी घोषणा में शामिल करना विमर्श के पतन का द्योतक। यह जिंदगी बचाने के लिए भी चुनावी सौदेबाजी है।’

मामले में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, ‘आज देश की सत्ताधारी भाजपा बिहार के अपने घोषणापत्र में कह रही है कि वो बिहार के लोगों के लिए कोरोना का टीका मुफ्त लगवाएगी। ऐसी घोषणा उप्र व अन्य राज्यों के लिए क्यों नहीं करी गयी। ऐसी अवसरवादी संकीर्ण राजनीति का जवाब उत्तर प्रदेश व देश की जनता आगामी चुनावों में भाजपा को देगी।’ (एजेंसी इनपुट)

Next Stories
1 MP ByPolls: कोरोना वैक्सीन मुद्दा एमपी में भी गरमाया, सीएम शिवराज- सबको मुफ्त में देंगे
2 अनंतनाग में पुलिस अधिकारी की हत्या, 8 लोगों के परिवार में अकेले कमाने वाले थे अशरफ भट्ट
3 एमपी उपचुनाव: अब इमरती देवी का विवादित बयान, बोलीं – कमलनाथ की मां-बहन होंगी ‘बंगाल की आइटम’
IPL 2021 LIVE
X