ताज़ा खबर
 

Bihar Elections 2020 के लिए असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM का SJD से करार, साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव

आपकी योजना क्या है? इस पर ओवैसी ने बताया, "देवेंद्र प्रसाद यादव की लीडरशिप में, वह हमारे गठबंधन के कन्वीनर हैं। वह तय करेंगे। हमारे प्रदेश अध्यक्ष और डिप्टी कन्वीनर हैं, वे तय करेंगे कि हम कितनी सीटों पर लड़ेंगे।"

Bihar Elections 2020, Bihar Elections, Asaduddin Owaisi, AIMIM, SJDAIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी। (Express photo by Vishal Srivastav)

Bihar Elections 2020 के लिए असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM का समाजवादी जनता दल डेमोक्रेटिक (SJD) से करार हुआ है। ये दोनों दल इस बार का विस चुनाव साथ मिलकर लड़ेंगे। शनिवार को ओवैसी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बात की जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने लालू प्रसाद यादव की RJD पर भी निशाना साधा। भड़कते हुए कहा- सूबे में महागठबंधन अब रहा कहां?

यह पूछे जाने पर कि आरजेडी में ‘माई’ समीकरण काम करता है, यहां भी है? ओवैसी ने जवाब दिया- नहीं, यह यहां तक सीमित नहीं रहेगा। मुझे पूरा यकीन है कि दलित, आदिवासी और बाकी समाज के लोग इसमें शामिल होंगे। इनकी मोहब्बत और सहयोग हमें मिलेगा।

आपकी योजना क्या है? इस पर ओवैसी ने बताया, “देवेंद्र प्रसाद यादव की लीडरशिप में, वह हमारे गठबंधन के कन्वीनर हैं। वह तय करेंगे। हमारे प्रदेश अध्यक्ष और डिप्टी कन्वीनर हैं, वे तय करेंगे कि हम कितनी सीटों पर लड़ेंगे।”

बीजेपी की ओर से चुनाव लड़ते हैं और सांप्रदायिकता के खिलाफ लड़ने वालों के वोट काटते हैं…इन आरोपों पर AIMIM चीफ ने कहा, “आज देश में बहुत से स्टूडेंट नेता और बीजेपी का विरोध करते हैं, उन पर भाजपा यूएपीए के तहत जेल में डाल रही है। दिल्ली के फसाद में भी। कांग्रेस ये बता दें कि यूएपीए बिल जब मोदी सरकार लाई थी, क्या उन्होंने उसे सपोर्ट नहीं किया? जब चिदंबरम मंत्री थे, उस वक्त भी मैंने विरोध किया। आज इतनी बड़ी तादाद में बुद्धिजीवी, छात्र आदि इस मनहूस कानून के चलते जेल में सड़ रहे हैं। कांग्रेस के पास क्या जवाब है?”

उन्होंने कहा- बिहार की जनता जो धोखा दिया गया, आज नीतीश बीजेपी के साथ हैं। इसका जवाब कौन देगा? देश में कांग्रेस कहां से नहीं लड़ी, पर हार गई। पर आज वो शिवसेना की गोद में बैठे हैं। क्या सेक्युलरिज्म इन पार्टियों की जागीर है। इन्हीं की गलत नीतियों के कारण सबको नुकसान उठाना पड़ रहा है।

क्यों ऐसा करते हैं लोग? ओवैसी ने कहा, “फ्यूडल मानसिकता है। ये सोचते हैं कि लोग साथ आ जाए। उनकी गुलामी करें। बराबरी की बात न करें। गूंगे और अंधे बन, कहेनुसार चलते रहें।” ओवैसी की पार्टी के कन्वीनर ने भी बताया कि कई दलों के साथ चुनाव के मद्देनजर बात चल रही है। फाइनल होने पर सारी बात मीडिया को बताई जाएगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bihar Elections 2020: हरकत में आ रहीं पुष्पम प्रिया, कर रहीं क्रांति का दावा, आर्थिक विकास को बनाएंगी मुद्दा
2 COVID-19 संकट के बीच J&K को राहत! 1350 करोड़ के इकनॉमिक पैकेज का ऐलान, बिजली-पानी बिल में 50% की मिलेगी छूट
3 युवाओं को बर्बाद कर रहे पब, सरकार इन पर प्रतिबंध लगाए, हम अपने समय में बंद करा देते थे क्लब, कर्नाटक BJP चीफ की धमकी
IPL 2020
X