ताज़ा खबर
 

Bihar Elections 2020 से पहले हर दल कर रहा नौकरियों पर वादों की बौछार, पर क्यों? समझें

भाजपा का वादा उसके गठबंधन सहयोगी जनता दल यूनाइटेड (JDU) के लिए शर्मनाक होगा, जिसके नेता और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजद के वादे को असंभव बताया था।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: October 23, 2020 1:10 PM
bihar election, unemployment, RJD, BJPBihar election: सियासी तिकड़मों के बावजूद, बिहार चुनावों में सभी दल नौकरियों के वादे कर रहे हैं। (file)

बिहार में अगल हफ्ते से विधानसभा के चुनाव शुरू हो रहे हैं जिसको लेकर सारी राजनीतिक पार्टियां बिहार के लोगों को लुभाने में लगी हैं। राष्ट्रीय जनता दल (RJD) और कांग्रेस पार्टी ने जहां बिहार के 10-10 लाख युवाओं को नौकरी देने का वादा किया है। उन्हें 1500 रुपये मासिक दिए जाएंगे की बात भी कही है। वहीं, भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने 19 लाख युवाओं को रोजगार देने का वादा किया।

भाजपा का वादा उसके गठबंधन सहयोगी जनता दल यूनाइटेड (JDU) के लिए शर्मनाक होगा, जिसके नेता और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजद के वादे को असंभव बताया था। सियासी तिकड़मों के बावजूद, बिहार चुनावों में सभी दल नौकरियों के वादे कर रहे हैं। बिहार में बेरोजगारी दर राष्ट्रीय औसत से करीब दोगुनी है। भारत में रोज़गार के आँकड़ों का आधिकारिक स्रोत आवधिक श्रम बल सर्वेक्षण (PLFS) के 2018-19 के सर्वे के मुताबिक बिहार में बेरोजगारी की दर 10.2% है, जो भारत के औसत 5.8% से बहुत ऊपर है।

2004-05 में, बिहार की बेरोजगारी दर अखिल भारतीय बेरोजगारी दर से 0.8 गुना अधिक थी। यह अनुपात पिछले कुछ वर्षों में बढ़ा है। यह 2011-12 में 1.6, 2017-18 में 1.2 और 2018-19 में 1.8 प्रतिसत थी। 2018-19 के पीईएलएस सर्वे के अनुसार भारत में 23.8% लोग ऐसा काम करते हैं जिसमें उन्हें वेतन मिलता है। वहीं बिहार में यह आंकड़ा मात्र 10.4% है।

राज्य में नौकरियों की कमी ने बिहारी श्रमिकों को रोजगार के लिए पलायन करने पर मजबूर कर दिया है। 2011 की जनगणना के आंकड़ों के अनुसार, बिहार में उन प्रवासियों की सबसे अधिक हिस्सेदारी थी जो काम, रोजगार या व्यावसायिक कारणों से राज्य के बाहर चले गए थे।

बता दें गुरुवार को केन्द्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने पटना में भाजपा के ‘5 सूत्र, एक लक्ष्य, 11 संकल्प’ के विजन डाक्‍यूमेंट को जारी किया। इस घोषणा पत्र में बीजेपी ने 19 लाख युवाओं को रोजगार देने का वादा किया है। बीजेपी ने अपने घोषणापत्र में कहा है कि एक हजार नए किसान उत्पाद संघों को आपस में जोड़कर राज्यभर के विशेष सफल उत्पाद, (जैसे- मक्का, फल, सब्जी, चूड़ा, मखाना, पान, मशाला, शहद, मेंथा, औषधीय पौधों के लिए सप्लाई चेन विकसित करेंगे) और 10 लाख रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 MP By Elections: कमलनाथ ने यहां कहा होता ‘आइटम’, तो उनकी लाश जाती- पलटवार में फिसली BJP नेता की जुबान
2 Mumbai City Centre mall Fire: मुंबई के सिटी सेंटर मॉल में भयंकर आग, 2 दमकलकर्मी जख्मी, नजदीकी बिल्डिंग से 3500 लोगों को किया गया शिफ्ट
3 तीन चरणों में भाजपा पर वैक्सीन लगाएगी बिहार की जनता, डिबेट में बोले कांग्रेस नेता
यह पढ़ा क्या?
X