ताज़ा खबर
 

Bihar Election: मोदी और नीतीश के प्रयासों से स्वर्ग बन गया है बिहार, एनडीए को वोट दीजिए, 5 साल भोंकार पार कर रोइये, यशवंत सिन्हा ने कसा तंज

यशवंत सिन्हा ने कहा कि मज़दूरों के हत्यारे, जिनके पास मरने वालों का आंकड़ा तक नही है, वे चले है बिहार की सफाई करने। उन्होंने आगे कहा कि गंदे पानी से गंदा पानी साफ नहीं होता है।

Bihar election, NDA, PM modi, CM Nitish Kumar, Yashwant Sinhaयशवंत सिन्हा ने कोरोना को लेकर बिहार सरकार को भी कटघरे में खड़ा किया। (फाइल फोटो)

बिहार विधासभा चुनाव करीब आते ही विरोधी दल सरकार पर निशाना साधने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। इस क्रम में भाजपा के पूर्व सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने केंद्र की मोदी सरकार के साथ ही बिहार सरकार को निशाने पर लिया है।

यशवंत सिन्हा ने बुधवार को ट्वीट में लिखा कि नरेंद्र मोदी और नीतीश के प्रयासों से बिहार अब स्वर्ग बन गया है। 25 सितंबर तक कोरोना भी खत्म हो जाएगा। बाकी जो बचा है वह गॉड और छठ मैया के आशीर्वाद से छठ तक पूरा हो जाएगा। राजग को वोट दीजिये और 5 साल और भोंकार पार कर रोइये।  पूर्व केंद्रीय मंत्री ने लॉकडाउन के दौरान मरने वाले मजदूरों के आंकड़े नहीं होने के केंद्र के जवाब पर एनडीए सरकार को आड़े हाथों लिया।

उन्होंने कहा कि मज़दूरों के हत्यारे, जिनके पास मरने वालों का आंकड़ा तक नही है, वे चले है बिहार की सफाई करने। उन्होंने आगे कहा कि गंदे पानी से गंदा पानी साफ नहीं होता है। उसके लिए साफ पानी चाहिए। यशवंत सिन्हा इससे पहले सृजन घोटाले को लेकर नीतीश सरकार को कटघरे में खड़ा कर चुके हैं।

सिन्हा का कहना है कि सरकार की जानकारी के बिना सृजन जैसा घोटाला नहीं हो सकता है। उन्होंने कोर्ट की निगरानी में इस घोटाले की CBI जांच की मांग की है। यशंवत सिन्हा के इस ट्वीट पर लोगों ने पीएम मोदी के पुराने वादों की याद दिलाकर भी एनडीए सरकार पर सवाल खड़े किए। एक यूजर @Amru1967 पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का साल 2014 का ट्वीट पोस्ट कर भागलपुर और दरभंगा में टेक्नोलॉजी पार्क के पूरा नहीं होने की तरफ ध्यान आकर्षित कराया।

यूजर ने लिखा कि 2014 वाला, भव्यतिभव्य टेक्नोलॉजी पार्क,बिहार में दरभंगा में बन गया है। ठीक वैसे ही दरभंगा में AIIMS भी 2026 में बन जाएगा। मोदीजी की 900 करोड़ की परियोजना भी दशकों के बाद बिहार के लिए पार्क की तरह आशीर्वाद रूप साबित होगी।

यशवंत सिन्हा के इस ट्वीट पर एक यूजर ने लिखा कि आपको (यशवंत सिन्हा) सिर्फ शिकायत करने की बजाय विपक्षी पार्टियों को एकजुट कर उनका नेतृत्व करना चाहिए। अन्यथा इस दुर्दशा को कोई अंत नहीं होगा। यूजर ने लिखा कि यह सिर्फ शिकायत नहीं बल्कि नेतृत्व करने का समय है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bihar Election: अगर मैं हारा तो यहां अकाल पड़ जाएगा, वोट मांगने पहुंचे मंत्री व भाजपा विधायक का वीडियो वायरल
2 वोट मांगने पहुंचे JDU विधायक तो जनता सामने ही कर दी समर्थकों की पिटाई, मांगा पिछले 5 साल का हिसाब
3 अयोध्या में नवंबर में बननी शुरू होगी मस्जिद, दो साल में पूरा हो जाएगा अस्पताल का काम
ये पढ़ा क्या?
X