ताज़ा खबर
 

Bihar Elections 2020: इस तरह घूमने से काम नहीं चलेगा…नीतीश के मंत्री के काफिले को रोक भड़क उठे ग्रामीण, आईना दिखा दबे पांव वापस लौटने को कर दिया मजबूर

लोगों ने पूरे काफिले का रास्ता ही रोक लिया व नारेबाजी करने लगे। ग्रामीण काफिले को वहीं से पीछे लौटाने पर अड़ गए। नेताजी के समर्थक लगातार ग्रामीणों को समझाने में लगे रहे लेकिन आक्रोशित ग्रामीण कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थे।

Bihar election, minsiter maheshwar hazari, nitish kumar,बिहार में तीन चरणों में चुनाव होना है, परिणाम की घोषणा 10 नवंबर को होगी। (फाइल फोटो)

बिहार चुनाव में सत्ताधारी दल से लेकर विपक्षी दल तक मतदाताओं तक पहुंचने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। इस बार कई जगह सत्ताधारी दल के विधायकों को लोगों की नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है।

इसी तरह की स्थिति का सामना सोमवार को बिहार सरकार के मंत्री और कल्याणपुर विधानसभा क्षेत्र से 10 वर्ष से विधायक महेश्वर हजारी को करना पड़ा। विधानसभा क्षेत्र की जनता के आक्रोश के कारण नेताजी को उलटे पैर लौटना पड़ा। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने घटना का वीडियो ट्वीट कर लिखा, ‘बिहार सरकार के मंत्री और कल्याणपुर विधानसभा क्षेत्र से 10 वर्ष से विधायक महेश्वर हजारी को आक्रोशित जनता ने सड़क नहीं तो वोट नहीं बोल कर अपने गांव से भगा दिया।

तेजस्वी ने आगे लिखा नीतीश कुमार जी के कागजी विकास की पोल खुल चुकी है। चाहे वो चमकी बुख़ार हो, जल जमाव हो, बाढ़ हो, सुखाड़ हो, कोरोना हो। वीडियो में नेताजी के समर्थन में मोटरसाइकिल का काफिला गांव से गुजर रहा है। इसी दौरान बाइक पर पीछे बैठे विधायक महेश्वर हजारी को रोक कर ग्रामीण कहते हैं, इस तरह घूमने से काम न नहीं चलेगा।

उन्होंने आगे कहा 10 साल विधायक रहे हैं। पहले कहिए जवाब देने के लिए उसके बाद हम वोट देंगे। इतना कहते हैं अन्य ग्रामीण भी आक्रोशित हो गए। सभी एक सुर में कहने लगे आपकी कोई जरूरत नहीं है जाइए। लोगों ने पूरे काफिले का रास्ता ही रोक लिया व नारेबाजी करने लगे। ग्रामीण काफिले को वहीं से पीछे लौटाने पर अड़ गए।

नेताजी के समर्थक लगातार ग्रामीणों को समझाने में लगे रहे लेकिन आक्रोशित ग्रामीण कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थे। ग्रामीण लगातार नारा लगा रहे थे, रोड नहीं तो वोट नहीं। पुलिस को मामले में बीचबचाव के लिए आना पड़ा। इसके बाद भी ग्रामीण अपनी बात पर अड़े रहे। बीच बीच में अन्य लोग युवा को रोजगार चाहिए का नारा भी लगा रहे।

विरोध को देखते हुए नेताजी को वहां से उल्टे पांव लौटना पड़ा। मालूम हो कि बिहार में तीन चरणों में 28 अक्टूबर, तीन नवंबर और सात नवंबर को मतदान होंगे। वहीं 10 नवंबर को मतगणना होगी। पहले चरण के तहत 28 अक्टूबर को राज्य के 71 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होगा जबकि तीन नवंबर को दूसरे चरण का मतदान 94 सीटों पर होगा। सात नवंबर को तीसरे चरण का मतदान 78 विधानसभा सीटों पर होगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bihar Elections 2020: दिल में मोदी को बसाए चिराग बता रहे खुद को ‘हनुमान’, केंद्रीय मंत्री बोले- मुंह में राम, पर करते हैं रावण का जाप
2 LAC विवाद: जासूसी करा रहा चीन? लद्दाख में पकड़ा गया PLA का जवान, बोला- भटक गया था रास्ता
3 मंत्री को ‘आइटम’ कहने के बहाने दिग्विजय ने शिवराज को बताया मदारी, लोग याद दिलाने लगे ‘टंच माल’ वाला बयान
यह पढ़ा क्या?
X