ताज़ा खबर
 

बिहार चुनाव: बीजेपी के इस उम्मीदवार को पार्टी के अंदर ही तीन मोर्चों पर लड़नी होगी लड़ाई, एनडीए पार्टनर लोजपा से भी है मुक़ाबला

भागलपुर में भाजप के बागी कार्यकर्ता विजय शाह भाजपा प्रत्याशी रोहित पांडेय का खेल बिगाड़ने की तैयारी में जुटे हैं। विजय साह पार्टी से बगावत कर एक बार फिर चुनाव मैदान में कूदे चुके हैं।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: October 14, 2020 10:01 AM
bhagalpur candidate nomination, vijay shah, BJP, NDA, JDUBihar election 2020: भाजप के बागी कार्यकर्ता विजय शाह भाजपा प्रत्याशी रोहित पांडेय का खेल बिगाड़ने की तैयारी में जुटे हैं। (PTI Photo/File)

बिहार चुनाव का शंखनाद हो चुका है और भागलपुर विधानसभा क्षेत्र प्रत्याशियों को लेकर काफी चर्चा में हैं। यहां एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी की राह मुश्किल नज़र आ रही है। बीजेपी का यहां कांग्रेस से कड़ा मुक़ाबला तो है ही, लेकिन इसके साथ-साथ भाजपा उम्मीदवार को पार्टी के अंदर ही तीन मोर्चों पर लड़ाई लड़नी होगी। भागलपुर में बीजेपी व कांग्रेस के साथ इस बार एलजेपी और निर्दलीय उम्मीदवार भी काफी चर्चे में हैं।

भागलपुर में भाजप के बागी कार्यकर्ता विजय शाह भाजपा प्रत्याशी रोहित पांडेय का खेल बिगाड़ने की तैयारी में जुटे हैं। विजय साह पार्टी से बगावत कर एक बार फिर चुनाव मैदान में कूदे चुके हैं। साह के अलावा एलजेपी की तरफ से उम्मीदवार भागलपुर के डिप्टी मेयर राजेश वर्मा भी मैदान में हैं। वर्मा हालही में बीजेपी का दामन छोड़ एलजेपी में शामिल हुए हैं। इसके अलावा भागलपुर के पूर्व मेयर व जदयू नेता दीपक भुवानिया भी निर्दलीय मैदान में उतर चुके हैं।

ऐसे में भाजपा के रोहित पांडेय को कांग्रेस से पहले अपने ही साथियों से तीन मोर्चों पर लड़ाई लड़नी होगी। मंगलवार को रोहित पांडेय ने अपना नामांकन शुल्क जमा किया। इससे पहले सोमवार को वे विजय साह से मिलने उनके घर अकेले गए थे। रोहित ने अपने पुराने साथी को समझने की कोशिश भी की। लेकिन वे नहीं माने।

साह ने रोहित को यह कहते हुए साथ देने से मना कर दिया कि “अपने तिकड़म लगाकर टिकट हासिल की है तो अब चुनाव भी अपने दिमाग से लड़िए।” साह ने कहा कि अब हमें जो ठीक लगेगा हम वही करेंगे और यहां आने का कोई मतलब नहीं है। साह ने कहा “हमारे पास अब खोने के लिए कुछ भी नहीं है। संगठन में भी हमारे पास कोई महत्वपूर्ण पद नहीं है।”

कांग्रेस ने एक बार फिर अजित शर्मा को ही टिकट दिया है। शर्मा भागलपुर के विधायक भी हैं। बता दें तीन चरणों में होने वाले बिहार चुनाव में भागलपुर का चुनाव दूसरे चरण में 3 नवंबर को होना हैं। जिसके लिए नामांकन जारी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bihar Election 2020 Live Updates: नीतीश कुमार को तेजस्वी का चैलेंज, बोले- नालंदा की किसी सीट से चुनाव लड़ लें
2 अर्णब गोस्वामी को मुंबई पुलिस का समन, मांगी जा सकती है अच्छे बर्ताव की लिखित गारंटी
3 चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली छात्रा बयान से पलटी, झूठे साक्ष्य पेश करने का चलेगा मुकदमा
ये पढ़ा क्या?
X