ताज़ा खबर
 

‘एक ऐसा परिवार, जो बिहार पर भार’ पोस्टर के जरिए लालू यादव पर साधा निशाना, बताया कैदी नंबर 3351

बीते दिनों रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन के बाद जीतनराम मांझी के नेतृत्व वाली पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा ने पटना में एक पोस्टर लगाया था, जिसमें आरोप लगाया गया था 'अपने बेटों को स्थापित करने के लिए कितनों की बलि लेंगे होटवार जेल सुप्रिमो।'

bihar election 2020 lalu prasad yadavबिहार की राजधानी पटना में लगे पोस्टर की तस्वीर। (इमेज सोर्स- ट्विटर)

बिहार में जैसे जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं, वैसे ही राजनैतिक पार्टियों की पोस्टर वार बढ़ती ही जा रही है। अब पटना के इनकम टैक्स चौराहे पर नया पोस्टर लगा है, जिसमें लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार पर निशाना साधा गया है। दरअसल इस पोस्टर में लालू यादव और उनकी पत्नी राबड़ी देवी, बेटों तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव और बेटी मीसा भारती की तस्वीर है।

पोस्टर में लिखा है कि ‘एक ऐसा परिवार, जो बिहार पर भार’। पोस्टर में लालू यादव को सजायाफ्ता कैदी नंबर 3351 बताया गया है। बता दें कि लालू यादव इन दिनों चारा घोटाले में जेल की सजा काट रहे हैं। हालांकि पोस्टर में इस बात की जानकारी नहीं है कि यह किसके द्वारा लगवाया गया है। बता दें कि यह पहला मौका नहीं है जब लालू परिवार पर हमला करते हुए पोस्टर जारी किया गया है। इससे पहले भी लालू यादव परिवार पर पोस्टर के जरिए निशाना साधा गया है। बीते दिनों रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन के बाद जीतनराम मांझी के नेतृत्व वाली पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा ने पटना में एक पोस्टर लगाया था, जिसमें आरोप लगाया गया था ‘अपने बेटों को स्थापित करने के लिए कितनों की बलि लेंगे होटवार जेल सुप्रीमो।’

दरअसल चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू यादव रांची की होटवार जेल में बंद हैं। हालांकि बीते काफी समय से वह रांची रिम्स में अपना इलाज करा रहे हैं और फिलहाल कोरोना के चलते रिम्स निदेशक के बंगले में ठहरे हुए हैं। यही वजह है उक्त पोस्टर में उन्हें होटवार जेल सुप्रीमो बताया गया था।

इससे पहले राजद नेता तेजस्वी यादव द्वारा नीतीश कुमार पर दलितों के कल्याण के लिए कोई काम नहीं करने का आरोप लगाया गया था और नीतीश सरकार को दलित विरोधी बताया गया था। यही वजह है कि अब नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी के नेताओं और अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वह दलित युवाओं को नीतीश सरकार के कार्यकाल में उनके लिए किए गए विकास कार्यों और कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दें।

Next Stories
1 ड्रग्स केस में आया कांग्रेस नेता के बेटे का नाम, क्राइम ब्रांच ने की पूछताछ, मशहूर अभिनेत्रियां हो चुकी हैं गिरफ्तार
2 नीतीश कुमार की रेलवे यांत्रिकी व विद्युत इंजीनियरिंग संस्थान बंद न करने की अपील, पीएम के सामने रेलमंत्री से गुहार
3 UP डिटेंशन सेंटर का विरोध: बैकफुट पर योगी आदित्य नाथ सरकार, नहीं बनेगा गाजियाबाद में
यह पढ़ा क्या?
X