ताज़ा खबर
 

Bihar Elections 2020: हरकत में आ रहीं पुष्पम प्रिया, कर रहीं क्रांति का दावा, आर्थिक विकास को बनाएंगी मुद्दा

पुष्पम प्रिया ने कहा कि 'यदि किन्हीं कारणों से पार्टी का रजिस्ट्रेशन नहीं हो पाया तो निर्दलीय लड़ेंगे लेकिन लड़ेंगे इस बार चुनाव।'

pushpam priya choudhary bihar election 2020प्लूरल्स पार्टी की चीफ पुष्पम प्रिया चौधरी। (इमेज सोर्स- ट्विटर)

कुछ माह पहले विभिन्न अखबारों के पहले पन्ने पर बड़े-बड़े ऐड छपवाकर चर्चा में आयीं पुष्पम प्रिया चौधरी, बिहार चुनाव के नजदीक आते ही एक्शन में आती दिखाई दे रही हैं। दरअसल आज उन्होंने सुपौल का दौरा किया और आम लोगों से बातचीत की। इस दौरान पुष्पम प्रिया चौधरी ने पिपरा के विख्यात खाजा के बारे में भी लोगों से जानकारी ली।

सुपौल में आयोजित हुए एक जनसभा के दौरान प्लूरल्स पार्टी की संस्थापक पुष्पम प्रिया चौधरी ने कहा कि इस बार अर्थव्यवस्था, आर्थिक विकास के मुद्दे पर बिहार चुनाव लड़ेंगे। पुष्पम प्रिया ने कहा कि इसी बार चुनाव लड़ना है और पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि वह सभी धर्म के लोगों से जाकर मिले और उन्हें अपने एजेंडे के साथ जोड़ें। जब उनसे पूछा गया कि पार्टी का रजिस्ट्रेशन कब होगा, तो उन्होंने कहा कि क्रांति पार्टी के रजिस्ट्रेशन की वजह से नहीं रुकती।

पुष्पम प्रिया ने कहा कि ‘यदि किन्हीं कारणों से पार्टी का रजिस्ट्रेशन नहीं हो पाया तो निर्दलीय लड़ेंगे लेकिन लड़ेंगे इस बार चुनाव।’

कौन हैं पुष्पम प्रिया चौधरीः पुष्पम प्रिया चौधरी जदयू नेता और विधान परिषद के सदस्य रह चुके विनोद चौधरी की बेटी हैं। मूल रूप से वह दरभंगा की हैं और लंदन के मशहूर लंदन स्कूल ऑफ इकॉनोमिक्स से पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर्स की डिग्री ले चुकी हैं। ब्रिटेन में ही पुष्पम प्रिया ने डेवलेपमेंट स्टडी में एमए किया हुआ है। पुष्पम प्रिया ने अपनी प्लूरल पार्टी का गठन कर बिहार विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। इनकी पार्टी का लोगो पंखों वाला घोड़ा है।

पुष्पम प्रिया का दावा है कि यदि बिहार की जनता उन्हें सीएम बनाती है तो वह बिहार को यूरोप की तरह विकसित कर सकती हैं। पुष्पम प्रिया सीएम नीतीश कुमार के 15 साल के सुशासन पर भी सवाल खड़े कर चुकी हैं और वर्तमान सरकार पर लगातार हमलावर हैं। पुष्पम प्रिया के पिता जहां जदयू नेता हैं, वहीं दादा भी जदयू से जुड़े रहे हैं।

पुष्पम के पिता विनोद चौधरी भी बेटी के फैसले में उसके साथ हैं। उनका कहना है कि सभी को सपने देखने की आजादी है। मेरी बेटी उच्च शिक्षित है और उसे मेरा आशीर्वाद है। हालांकि उनका कहना है कि फिलहाल वह जदयू के साथ हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 COVID-19 संकट के बीच J&K को राहत! 1350 करोड़ के इकनॉमिक पैकेज का ऐलान, बिजली-पानी बिल में 50% की मिलेगी छूट
2 युवाओं को बर्बाद कर रहे पब, सरकार इन पर प्रतिबंध लगाए, हम अपने समय में बंद करा देते थे क्लब, कर्नाटक BJP चीफ की धमकी
3 ‘एक ऐसा परिवार, जो बिहार पर भार’ पोस्टर के जरिए लालू यादव पर साधा निशाना, बताया कैदी नंबर 3351
IPL Records
X