ताज़ा खबर
 

Bihar Election 2020 HIGHLIGHTS: नहीं रहे केंद्रीय मंत्री व एलजेपी नेता रामविलास पासवान, पीएम मोदी ने जताया दुख

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि उनके निधन से देश में ऐसा शून्य पैदा हुआ है जो शायद कभी नहीं भरेगा।

ramvilas, Bihar, LJPरामविलास पासवान का हाल ही में दिल का ऑपरेशन हुआ था।

Bihar Election 2020 (बिहार विधानसभा चुनाव 2020) HIGHLIGHTS: लोक जनशक्ति पार्टी के नेता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का गुरुवार की शाम  निधन हो गया। वह लंबे समय से बीमार थे और हाल ही में उनके दिल का ऑपरेशन हुआ था। वह 74 साल के थे। उनके बेटे चिराग पासवान ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि उनके निधन से देश में ऐसा शून्य पैदा हुआ है जो शायद कभी नहीं भरेगा। उनके निधन पर मोदी ने कहा, ‘‘दुख बयान करने के लिए शब्द नहीं हैं मेरे पास। हमारे देश में ऐसा शून्य पैदा हुआ है जो शायद कभी नहीं भरेगा’’ उन्होंने कहा, ‘‘रामविलास पासवान जी का निधन मेरी निजी क्षति है। मैंने अपना एक दोस्त, बहुमूल्य सहयोगी और एक ऐसा व्यक्तित्व खो दिया है जो हर गरीब इंसान को सम्मान का जीवन सुनिश्चित करने को लेकर बहुत भावुक थे।’’

 

Live Blog

Highlights

    06:00 (IST)09 Oct 2020
    रामविलास पासवान: ऐसा दलित नेता जिनके विपरीत विचारधारा की पार्टियों के साथ भी मधुर संबंध रहे

    ‘राजनीति में आप जिसका साथ दे रहे हैं, वह आपको भुला सकता है, लेकिन अगर आप किसी समूह पर हमला बोल दें तो वे ना कभी भूलेंगे और नाहीं कभी माफ करेंगे’ रामविलास पासवान ने एक अनौपचारिक भोज के दौरान विभिन्न और विपरीत विचारधारा वाली पार्टियों के साथ उनके मधुर संबंधों के राज के बारे में सवाल करने पर कुछ ऐसा कहा था। पासवान की राजनीतिक विचाराधारा का यह मूल देश के महत्वपूर्ण दलित नेता के व्यक्तित्व को दर्शाता है, जो खुद कभी किंग (प्रधानमंत्री) नहीं बन सके लेकिन अपने पांच दशक से भी लंबे करियर में उन्होंने तमाम लोगों को शीर्ष की कुर्सी पर बैठाया और उन्हें उतरते हुए भी देखा। लोकप्रिय दलित नेता का दिल्ली के एक अस्पताल में बृहस्पतिवार की शाम 74 साल की उम्र में निधन हो गया। हाल ही में उनके हृदय का ऑपरेशन हुआ था। पासवान हमेशा से दोस्त बनाने, संबंधों में निवेश करने में भरोसा रखते थे और कभी-कभी खुद को झगड़ रहे गठबंधन सहयोगियों के बीच संबंधों को मजबूत बनाने वाले की तरह भी देखते थे।

    05:15 (IST)09 Oct 2020
    पासवान ने गरीबों, दलितों के उत्थान के लिए काम किया: आडवाणी

    केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह एक जमीनी नेता थे, जिन्होंने गरीबों और दलितों के उत्थान के लिए काम किया। दिग्गज दलित नेता पासवान का बृहस्पतिवार को 74 साल की उम्र में यहां एक निजी अस्पताल में निधन हो गया, जहां उनका हाल ही में दिल का ऑपरेशन हुआ था। अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली सरकार में कैबिनेट सहयोगी रहे पासवान को याद करते हुए आडवाणी ने कहा कि लोक जनशक्ति पार्टी के संस्थापक का लोगों से जुड़े रहना उनकी सबसे बड़ी ताकत थी। आडवाणी ने कहा, "वह वाजपेयी सरकार में मेरे प्रमुख सहयोगी के रूप में रहे, जिन्होंने गरीबों और दलितों के उत्थान के लिए बहुत ईमानदारी से काम किया।" उन्होंने कहा कि पासवान सच्चे अर्थों में जमीनी नेता थे।

    03:08 (IST)09 Oct 2020
    रामविलास पासवान के निधन पर राष्ट्रपति ने कहा- दबे-कुचले लोगों की आवाज थे

    राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बृहस्पतिवार को कहा कि केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन से देश ने दूरदृष्टि वाले एक नेता को खो दिया। कोविंद ने उनके निधन पर शोक जताते हुए कहा कि पासवान दबे-कुचले लोगों की आवाज थे और हाशिये के लोगों के हित के लिए लड़ते थे। राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, ‘‘केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन से देश ने एक दूरदर्शी नेता खो दिया है। उनकी गणना सर्वाधिक सक्रिय तथा सबसे लंबे समय तक जनसेवा करने वाले सांसदों में की जाती है। वे वंचित वर्गों की आवाज़ मुखर करने वाले तथा हाशिए के लोगों के लिए सतत संघर्षरत रहने वाले जनसेवक थे।’’कोविंद ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘आपातकाल विरोधी आंदोलन के दौरान जयप्रकाश नारायण जैसे दिग्गजों से लोकसेवा की सीख लेनेवाले पासवान जी फायरब्रांड समाजवादी के रूप में उभरे। उनका जनता के साथ गहरा जुड़ाव था और वे जनहित के लिए सदा तत्पर रहे। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति मेरी गहन शोक-संवेदना।’’

    00:50 (IST)09 Oct 2020
    चिराग ने भाजपा को नीतीश के खिलाफ ‘लहर’ के बारे में बताया था

    लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख चिराग पासवान ने भाजपा के अध्यक्ष जे़ पी. नड्डा से आग्रह किया था कि बिहार में राजग के मुख्यमंत्री पद का चेहरा पेश किया जाए और दावा किया था कि नीतीश कुमार के खिलाफ ‘‘लहर’’ है जिससे राज्य विधानसभा चुनाव में सत्तारूढ़ गठबंधन को नुकसान हो सकता है। नड्डा को 24 सितम्बर को लिखे पत्र में पासवान ने आरोप लगाया कि भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह सहित राजग के शीर्ष नेताओं के खुलेआम आश्वासन के बावजूद कुमार ने उनके पिता को राज्यसभा की सीट देने को लेकर ‘‘अपमानित’’ किया था। उन्होंने दावा किया कि जद (यू) अध्यक्ष ने ऐसे समय में लोजपा के संस्थापक के खराब स्वास्थ्य के बारे में अनभिज्ञता जताई थी जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी अकसर फोन पर उनके स्वास्थ्य का जायजा लेते थे।

    23:25 (IST)08 Oct 2020
    रामविलास पासवान के निधन पर झारखंड की राज्यपाल, मुख्यमंत्री ने शोक प्रकट किया

    केन्द्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर गुरूवार को झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा और भाजपा के केन्द्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास समेत तमाम लोगों ने गहरा दुख प्रकट किया और उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की है। राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर गहरा दुःख एवं शोक प्रकट किया है और कहा कि वह कुशल राजनेता थे तथा कई दशकों से संसद में रहे। उन्होंने कहा, ‘‘वह दलित एवं पिछड़ों के प्रतिनिधि के रूप में जाने जाते थे।’’ उन्होंने प्रार्थना की कि ईश्वर उनकी आत्मा को चिरशांति प्रदान करें तथा उनके परिजनों को इस पीड़ा को सहने की शक्ति प्रदान करें।’’ मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुए कहा कि रामविलास पासवान जी लंबे समय तक सांसद रहे। सार्वजनिक जीवन में उनके योगदान को सदैव याद किया जाएगा।

    22:35 (IST)08 Oct 2020
    बिहार में राजग छोड़ने से पहले, चिराग ने भाजपा को नीतीश के खिलाफ ‘लहर’ के बारे में बताया था

    लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख चिराग पासवान ने भाजपा के अध्यक्ष जे़ पी. नड्डा से आग्रह किया था कि बिहार में राजग के मुख्यमंत्री पद का चेहरा पेश किया जाए और दावा किया था कि नीतीश कुमार के खिलाफ ‘‘लहर’’ है जिससे राज्य विधानसभा चुनाव में सत्तारूढ़ गठबंधन को नुकसान हो सकता है। नड्डा को 24 सितम्बर को लिखे पत्र में पासवान ने आरोप लगाया कि भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह सहित राजग के शीर्ष नेताओं के खुलेआम आश्वासन के बावजूद कुमार ने उनके पिता को राज्यसभा की सीट देने को लेकर ‘‘अपमानित’’ किया था। उन्होंने दावा किया कि जद (यू) अध्यक्ष ने ऐसे समय में लोजपा के संस्थापक के खराब स्वास्थ्य के बारे में अनभिज्ञता जताई थी जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी अकसर फोन पर उनके स्वास्थ्य का जायजा लेते थे। चिराग पासवान ने अपने पत्र में यह भी दावा किया कि भाजपा के कई नेता कुमार के कामकाज से नाखुश हैं और कहा कि मोदी की लोकप्रियता जहां बढ़ रही है वहीं मुख्यमंत्री की घट रही है।

    22:24 (IST)08 Oct 2020
    रामविलास पासवान के निधन पर नीतीश बोले- भारतीय राजनीति के लिये अपूरणीय क्षति

    केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरूवार को कहा कि उनका निधन भारतीय राजनीति के लिये अपूरणीय क्षति है । मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा, ‘‘ रामविलास पासवान भारतीय राजनीति के बड़े हस्ताक्षर थे । वे प्रखर वक्ता, लोकप्रिय राजनेता, कुशल प्रशासक, मजबूत संगठनकर्ता और बेहद मिलनसार व्यक्तित्व के धनी थे। ’’ उन्होंने कहा कि वह (पासवान) पहली बार 1969 में बिहार विधानसभा के सदस्य निर्वाचित हुए थे । 1977 में वे पहली बार हाजीपुर लोकसभा सीट के लिये चुने गए थे और उनकी यह जीत विश्व रिकार्ड के रूप में दर्ज हुई थी । नीतीश कुमार ने रामविलास पासवान के साथ अपने आत्मीय संबंधों की चर्चा करते हुए कहा कि उनके साथ हमारा पुराना रिश्ता रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘ उनके पासवान) निधन से मुझे व्यक्तिगत तौर पर दुख पहुंचा है । उनका निधन भारतीय राजनीति के लिये अपूरणीय क्षति है।’’

    22:16 (IST)08 Oct 2020
    पीएम मोदी ने जताया दुख

    रामविलास पासवान के निधन पर पीएम मोदी ने कहा, ‘‘दुख बयान करने के लिए शब्द नहीं हैं मेरे पास। हमारे देश में ऐसा शून्य पैदा हुआ है जो शायद कभी नहीं भरेगा’’ उन्होंने कहा, ‘‘रामविलास पासवान जी का निधन मेरी निजी क्षति है। मैंने अपना एक दोस्त, बहुमूल्य सहयोगी और एक ऐसा व्यक्तित्व खो दिया है जो हर गरीब इंसान को सम्मान का जीवन सुनिश्चित करने को लेकर बहुत भावुक थे।’’

    19:06 (IST)08 Oct 2020
    केंद्र ने बिहार में और उपचुनाव वाले क्षेत्रों में शर्तों के साथ राजनीतिक सभाओं की अनुमति दी

    केंद्र सरकार ने बृहस्पतिवार को बिहार विधानसभा चुनाव में और विभिन्न राज्यों में होने वाले उपचुनाव में कुछ शर्तों के साथ राजनीतिक सभाओं की अनुमति दे दी जहां किसी बंद परिसर या सभागार में अधिकतम 200 लोग एकत्रित हो सकते हैं, वहीं खुली जगह पर उसके क्षेत्रफल के अनुसार संख्या तय की जाएगी। केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला ने 30 सितंबर को जारी दिशानिर्देशों में मामूली बदलाव करते हुए आदेश जारी किया। पिछले आदेश में 15 अक्टूबर से राजनीतिक सभाओं की मंजूरी दी गयी थी। निषिद्ध क्षेत्रों के बाहर ही सभाएं हो सकती हैं। भल्ला द्वारा जारी आदेश के अनुसार, ‘‘आपदा प्रबंधन कानून 2005 की धारा 10(2)(1) के तहत प्रदत्त अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए निर्णय लिया गया है कि संबंधित राज्य सरकारें 15 अक्टूबर, 2020 से पहले किसी तारीख में 100 लोगों की मौजूदा सीमा से अधिक लोगों के साथ शर्तों का पालन करते हुए निषिद्ध क्षेत्रों के बाहर उन विधानसभा या लोकसभा क्षेत्रों में राजनीतिक सभाओं की अनुमति दे सकती हैं जहां चुनाव होने हैं।’’

    17:03 (IST)08 Oct 2020
    लोजपा ने जारी की 42 उम्मीदवारों की लिस्ट
    15:44 (IST)08 Oct 2020
    दलित नेता हत्याकांड पर सीएम पर बरसे तेजस्वी

    दलित नेता शक्ति सिंह हत्याकांड में अपना और अपने भाई तेज प्रताप का नाम आने पर तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश पर हमला बोला है। तेजस्वी ने कहा कि राजनैतिक षडयंत्र के तहत उन्हें फंसाया जा रहा है। तेजस्वी ने सीएम और भाजपा नेताओं से सार्वजनिक तौर पर माफी मांगने को कहा है वरना मानहानि के मुकदमे की धमकी दी है।

    15:42 (IST)08 Oct 2020
    बछवाड़ा सीट पर महागठबंधन में दरार

    बेगूसराय की बछवाड़ा सीट पर महागठबंधन में दरार आ गई है। दरअसल यह सीट गठबंधन के तहत सीपीआई के खाते में गई है लेकिन कांग्रेस के दिवंगत विधायक रामदेव राय के बेटे गरीबदास ने यहां से निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

    15:12 (IST)08 Oct 2020
    महाराष्ट्र फैक्टर के चलते तो नहीं कटा गुप्तेश्वर पांडेय का टिकट?

    एबीपी न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक सुशांत सिंह राजपूत मामले में गुप्तेश्वर पांडेय ने जिस तरह की सक्रियता दिखाई और खुलकर बयानबाजी की, उससे लगता है कि भाजपा ने महाराष्ट्र में पार्टी को किसी भी तरह के विवाद से बचाने के लिए यह कदम उठाया है। गौरतलब है कि भाजपा ने महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस को बिहार में चुनाव प्रभारी नियुक्त किया है। ऐसे में ये भी एक वजह हो सकती है कि भाजपा ने पांडेय को टिकट देने का विरोध किया हो। हालांकि ऐसी भी चर्चाएं हैं कि गुप्तेश्वर पांडेय लोकसभा चुनाव में जदयू प्रत्याशी हो सकते हैं। इसी वजह से शायद उन्हें विधानसभा चुनाव का टिकट नहीं दिया गया है।

    14:23 (IST)08 Oct 2020
    राकेश सिंह ने छोड़ा भाजपा का दामन, लोजपा से लड़ेंगे चुनाव

    जहानाबाद की घोसी सीट से राकेश सिंह ने लोजपा के टिकट पर नामांकन किया है। बता दें कि राकेश सिंह भी भाजपा छोड़कर लोजपा में आए हैं।

    14:15 (IST)08 Oct 2020
    सासाराम सीट से रामेश्वर चौरसिया ने किया नामांकन

    सासाराम सीट से लोजपा के टिकट पर रामेश्वर चौरसिया ने नामांकन किया है। बता दें कि रामेश्वर चौरसिया भाजपा और संघ के पुराने कार्यकर्ता हैं लेकिन पार्टी द्वारा टिकट नहीं दिए जाने के बाद उन्होंने लोजपा की सदस्यता ले ली और अब सासाराम सीट से नामांकन किया है।

    14:12 (IST)08 Oct 2020
    तेजस्वी यादव के आवास पर हुआ हंगामा, राजद कार्यकर्ताओं ने लगाए मुर्दाबाद के नारे

    राजद नेता तेजस्वी यादव के आवास के बाहर आज हंगामा हो गया। दरअसल मोतिहारी के राजद कार्यकर्ताओं ने आवास के बाहर मुर्दाबाद के नारे लगाए। इस दौरान तेजस्वी यादव के आवास पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें हटाने की कोशिश की तो धक्का-मुक्की हो गई। माना जा रहा है कि ये कार्यकर्ता पार्टी में टिकट वितरण से नाराज हैं।

    13:28 (IST)08 Oct 2020
    बिक्रम सीट से पूर्व भाजपा विधायक अनिल कुमार के खिलाफ चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज

    बिक्रम सीट से पूर्व भाजपा विधायक रहे अनिल कुमार के खिलाफ चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया है। दरअसल भाजपा से टिकट नहीं मिलने के बाद अनिल कुमार ने बागी तेवर दिखाते हुए हजारों समर्थकों के साथ निर्दलीय नामांकन किया था। जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग के नियम की धज्जियां उड़ी।

    13:13 (IST)08 Oct 2020
    बाढ़ से सतेन्द्र बहादुर और मसौढ़ी से रेखा देवी ने किया नामांकन

    बाढ़ सीट से कांग्रेस प्रत्याशी सत्येन्द्र बहादुर ने आज अपना नामांकन पत्र दाखिल किया है। वहीं मसौढी सीट से राजद प्रत्याशी रेखा देवी ने नामांकन दाखिल किया है। हालांकि रेखा देवी के नामांकन में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम की धज्जियां उड़ी, जिसके बाद आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज कर लिया गया है।

    13:11 (IST)08 Oct 2020
    डुमरांव सीट पर रोमांचक हुआ मुकाबला राजपरिवार के युवराज शिवांग विजय सिंह ने निर्दलीय किया नामांकन

    बिहार की डुमरांव सीट पर मुकाबला काफी रोमांचक हो गया है। दरअसल इस सीट पर राजपरिवार से ताल्लुक रखने वाले शिवांग विजय सिंह ने निर्दलीय नामांकन कर दिया है। बता दें कि शिवांग विजय सिंह की लालू और नीतीश दोनों से नजदीकी बतायी जाती है लेकिन इसके बावजूद किसी पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया।

    12:12 (IST)08 Oct 2020
    जदयू की लिस्ट में मंजू वर्मा का नाम होने से कई हैरान

    मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड से पूरा देश हिल गया था। इसे लेकर बिहार सरकार पर भी सवाल उठे क्योंकि मंजू वर्मा का नाम भी इसमें सामने आया था। यही वजह है कि जब जदयू की लिस्ट में मंजू वर्मा का नाम दिखाई दिया तो उससे कई लोगों को हैरानी हुई। जदयू ने चेरिया बरियापुर से मंजू वर्मा को अपना उम्मीदवार बनाया है।

    12:12 (IST)08 Oct 2020
    बिहार चुनाव के पहले चरण के लिए नामांकन की आज आखिरी तारीख

    बिहार चुनाव में पहले चरण के नामांकन की आज आखिरी तारीख है। 19 जिलों की 71 सीटों के लिए आज दोपहर 3 बजे तक ही नामांकन किया जा सकता है। 9 अक्टूबर से दूसरे चरण के लिए नामांकन शुरू होंगे। वहीं बिहार डीजीपी की कुर्सी छोड़कर जदयू में शामिल होने वाले गुप्तेश्वर पांडेय का सियासी करियर भंवर में फंसता नजर आ रहा है। दरअसल गुप्तेश्वर पांडेय के बक्सर से चुनाव लड़ने की चर्चाएं थी लेकिन अब बक्सर पर भाजपा ने परशुराम मिश्रा को टिकट दे दिया है। वहीं जदयू द्वारा अपने सभी 115 उम्मीदवारों के नामों की लिस्ट जारी कर दी गई है, जिसमें गुप्तेश्वर पांडेय का नाम शामिल नहीं है।

    11:41 (IST)08 Oct 2020
    मोकामा से अनंत सिंह को जदयू के राजीव नारायण सिंह देंगे टक्कर

    बिहार की मोकामा सीट से राजद ने बाहुबली अनंत सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया है। वहीं जदयू ने इस सीट पर राजीव नारायण सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया है। मोकामा की टक्कर पर लोगों की नजर रहेगी।

    11:00 (IST)08 Oct 2020
    कांग्रेस ने 21 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की, देखें किसे कहां से मिला टिकट

    कांग्रेस ने बिहार चुनाव के लिए अपने 21 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है। इस लिस्ट के मुताबिक कहलगांव सीट से शुभानंद मुकेश, सुल्तानगंज से ललन यादव, अमरपुर से जितेन्द्र सिंह, जमालपुर से डॉ. अजय सिंह, लखीसराय से अमरिश कुमार, बरबीघा से गजेन्द्र साही, बाढ़ से सतेन्द्र बहादुर, बिक्रम से सिद्धार्थ सौरभ, बक्सर से संजय तिवारी, राजपुर से विश्वनाथ राम, चैनपुर से प्रकाश सिंह, चैनारी से मुरारी प्रसाद गौतम, करगहर से संतोष कुमार मिश्रा, कुटुम्बा से राजेश कुमार,  औरंगाबाद से आनंद शंकर सिंह, गया टाउन से अखौरी ओंकारनाथ, टिकारी से सुमंत कुमार, वजीरगंज से शशिशेखर सिंह, हिसुआ से नीतू कुमारी, वारसलीगंज से सतीश कुमार, सिकंदरा से सुधीर कुमार को टिकट मिला है।

    10:53 (IST)08 Oct 2020
    मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड से चर्चित हुई मंजू वर्मा को जदयू ने दिया टिकट

    बिहार सरकार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा को पार्टी ने फिर से टिकट दिया है, जो कि काफी चौंकाने वाला है। दरअसल मंजू वर्मा का नाम मुजफ्फरपुर के बालिका गृह कांड में सामने आया था। इस मामले में आर्म्स एक्ट के तहत उनके खिलाफ मामला दर्ज हुआ था और उन्हें जेल भी जाना पड़ा था।

    10:30 (IST)08 Oct 2020
    गोपालगंज में ऑटो से 30 पेटी शराब बरामद, मुजफ्फरपुर भेजी जा रही थी खेप

    बिहार के गोपालगंज में पुलिस ने एक ऑटो से 30 पेटी शराब बरामद की है। यह शराब यूपी से मुजफ्फरपुर भेजी जा रही थी।

    10:28 (IST)08 Oct 2020
    सूर्यगढ़ा सीट से रविशंकर सिंह होंगे लोजपा उम्मीदवार

    बिहार की सूर्यगढ़ा सीट से लोजपा के रविशंकर सिंह अशोक अपना नामांकन आज करेंगे। उनके अलावा कई और चेहरे भी आज नामांकन करेंगे। बता दें कि आज पहले चरण के का आज आखिरी दिन है।

    09:49 (IST)08 Oct 2020
    लोजपा ने भाजपा की पूर्व विधायक ऊषा विद्यार्थी को दिया टिकट

    भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री मोदी सहित भाजपा के 40 स्टार प्रचारक हैं । इनके नाम आदि का इस्तेमाल राजग गठबंधन के अलावा अगर किसी ने किया, तो हम प्राथमिकी दर्ज करायेंगे । ’’ उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार बिहार में राजग के नेता हैं और गठबंधन को चुनाव में बड़ा बहुमत हासिल होगा । उधर, चिराग पासवान ने भाजपा की पूर्व विधायक और नेता ऊषा विद्यार्थी को टिकट दे दिया। ऊषा लोजपा के लिए पालीगंज सीट से चुनाव लड़ेंगी। इससे पहले भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह और बरुण पासवान भी लोजपा में शामिल हो चुके हैं।

    09:48 (IST)08 Oct 2020
    राजद ने अनंत सिंह को दिया मोकामा से टिकट

    जहां एक तरफ कांग्रेस आपराधिक छवि वाले उम्मीदवारों से अपना दामन छुड़ाने की कोशिश करती दिख रही है, वहीं महागठबंधन में उसके साथी राजद ने जेल में बंद अनंत सिंह को टिकट दिया है। अनंत सिंह मोकामा विधानसभा से राजद के उम्मीदवार होंगे। उन्होंने चुनाव के लिए अपनी पत्नी का भी नामांकन कराया है, ताकि अगर उनका पर्चा रद्द हो जाए, तो पत्नी चुनाव लड़ सकें।।

    09:16 (IST)08 Oct 2020
    बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय का सियासी करियर फंसा

    बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की सियासी पारी भंवर में फंसती दिखाई दे रही है। दरअसल गुप्तेश्वर पांडेय ने बीते दिनों ही डीजीपी के पद से इस्तीफा देकर जदयू की सदस्यता हासिल की थी। इसके बाद से ही उनके बक्सर सीट से चुनाव मैदान में उतरने का अनुमान लगाया जा रहा था। लेकिन अब बक्सर सीट से भाजपा ने परशुराम मिश्रा को टिकट देने का फैसला किया है। वहीं जदयू की लिस्ट में भी गुप्तेश्वर पांडेय का नाम नहीं है।

    08:13 (IST)08 Oct 2020
    बक्सर विधानसभा सीट से परशुराम चतुर्वेदी को मिला एनडीए का टिकट, बोले यही भाजपा की विशेषता

    बक्सर विधानसभा सीट से एनडीए ने परशुराम चतुर्वेदी को अपना उम्मीदवार बनाया है। जिस पर परशुराम चतुर्वेदी ने खुशी जाहिर की है और कहा है कि यही भाजपा की विशेषता है कि जहां कार्यकर्ता के काम पर नजर रखी जाती है और उसे टिकट देकर सम्मानित किया जाता है। उन्होंने भाजपा नेतृत्व को भी उन पर भरोसा जताने के लिए धन्यवाद दिया।

    08:10 (IST)08 Oct 2020
    सीवान सदर विधायक ब्यासदेव प्रसाद का टिकट कटा, निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान

    सीवान सदर से मौजूदा विधायक ब्यासदेव प्रसाद का टिकट भाजपा ने काट दिया है। टिकट कटने से ब्यासदेव प्रसाद नाराज हैं और उन्होंने एनडीए उम्मीदवार ओमप्रकाश यादव का विरोध करने के लिए निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

    07:39 (IST)08 Oct 2020
    राजग के अलावा किसी पार्टी ने पीएम मोदी के नाम का इस्तेमाल किया तो केस दर्ज कराएगी भाजपा

    भारतीय जनता पार्टी ने स्पष्ट किया कि बिहार में नीतीश कुमार ही राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के नेता है और गठबंधन उनके नेतृत्व में ही चुनाव लड़ रहा है । पार्टी ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित उनके स्टार प्रचारकों के नाम आदि का राजग गठबंधन के दलों के अलावा अगर कोई दूसरा दल इस्तेमाल करता है तो उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जायेगी।

    07:24 (IST)08 Oct 2020
    अगली बार सेवा का मौका मिलने पर सात निश्चय के द्वितीय चरण को लागू करेंगे: नीतीश कुमार

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को राज्य की जनता के नाम पत्र लिखकर पिछले 15 वर्षों तक मौका देने के लिये लोगों के प्रति आभार प्रकट किया और वादा किया कि अगली बार सेवा का मौका मिलने पर वह सात निश्चय के द्वितीय चरण को लागू करेंगे। कुमार ने पत्र में लिखा, ‘‘मैं आपको धन्यवाद देना चाहूंगा कि आप सभी ने वर्ष 2005 से मुझे बिहार की सेवा करने का मौका दिया। हमलोगों ने समाज में अमन-चैन और भाईचारे का वातावरण बनाया, डर का माहौल खत्म हुआ और सभी क्षेत्रों में विकास का मार्ग प्रशस्त हुआ।’’ उन्होंने वादा किया, ‘‘यदि हमें अगली बार सेवा का मौका मिलता है तो हम सात निश्चय के द्वितीय चरण को लागू करेंगे।’’ मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘इन निश्चयों में युवा शक्ति को हुनरबंद बनाने, महिलाओं को सक्षम एवं स्वावलंबी बनाने, हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचाने, स्वच्छ एवं समृद्ध गांव तथा शहर बनाने, महत्वपूर्ण स्थानों तक सुलभ संपर्कता पहुंचाने के साथ-साथ मनुष्य एवं पशुओं के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने का संकल्प है।’’

    19:07 (IST)07 Oct 2020
    बिहार चुनाव : भाजपा ने अपने कोटे से वीआईपी को 11 सीटें दीं

    भाजपा ने मुकेश सहनी नीत विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) को बिहार विधानसभा चुनाव में अपने कोटे की 121 सीटों में से 11 सीटें देने की बुधवार को घोषणा की। साथ ही वीआईपी बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का हिस्सा भी बन गई। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, चुनाव प्रभारी एवं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस, बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी तथा वीआईपी पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी की उपस्थिति में संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी गई। भगवा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘भाजपा ने अपने कोटे से वीआईपी पार्टी को विधानसभा की 11 सीटें दी हैं एवं भविष्य में विधानपरिषद की भी एक सीट देंगे।’’

    18:15 (IST)07 Oct 2020
    बिहार: लोजपा में शामिल हुईं भाजपा नेता, जद (यू) के खिलाफ चुनाव लड़ने की संभावना

    बिहार में भाजपा नेता उषा विद्यार्थी, चिराग पासवान की उपस्थिति में यहां बुधवार को लोक जनशक्ति पार्टी में शामिल हो गईं। उम्मीद जताई जा रही है कि विद्यार्थी को पालीगंज विधानसभा सीट से टिकट दिया जाएगा, जहां से जद (यू) के प्रत्याशी भी मैदान में हैं। विद्यार्थी के लोजपा में शामिल होने से एक दिन पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से लंबे समय तक जुड़े रहे राजेंद्र सिंह ने भी लोजपा का दामन थाम लिया था। सिंह दिनारा सीट से चुनाव लड़ना चाहते थे लेकिन भाजपा के साथ हुए सीटों के बंटवारे के चलते वहां से जद (यू) के प्रत्याशी को टिकट दिया जाएगा। लोजपा ने जद (यू) के प्रत्याशियों के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतारने की घोषणा की थी। साथ ही पार्टी ने कहा था कि वह भाजपा के खिलाफ उम्मीदवार नहीं उतारेगी।

    18:09 (IST)07 Oct 2020
    जदयू ने जारी की 115 उम्मीदवारों की लिस्ट
    15:19 (IST)07 Oct 2020
    भाजपा और राजद प्रत्याशियों ने भरे पर्चे

    वजीरगंज विधानसभा सीट से भाजपा के वीरेंद्र सिंह ने नामांकन दाखिल किया है। वह 2010 में वजीरगंज से चुनाव जीते थे, लेकिन 2015 में हार गए थे। तब कांग्रेस के अवधेश सिंह महागठबंधन से चुनाव जीते थे। इसके अलावा बाढ़ से भाजपा के ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानु ने पर्चा भरा है। भभुआ सीट से राजद के भरत बिंद ने नामांकन दर्ज कराया है, जबकि शेखपुरा से भी राजद के ही विजय सम्राट ने पर्चा भरा।

    14:45 (IST)07 Oct 2020
    मोकामा से अनंत सिंह ने दाखिल किया पर्चा

    मोकामा के विधायक अनंत सिंह ने राजद उम्मीदवार के तौर पर अपना नामांकन पत्र दाखिल कर दिया। उन्होंने जेल से नामांकन के लिए अपना पर्चा भरा। इसके अलावा अपनी पत्नी नीलम देवी को भी निर्दलीय नामांकन दाखिल करवाया, ताकि अगर उनका नामांकन किसी कारण से रद्द हो जाए, तो उनकी पत्नी का नामांकन सुरक्षित रहे।

    14:13 (IST)07 Oct 2020
    राजद के गढ़ में तेजस्वी को मिलेगी पार्टी के ही पूर्व नेता की चुनौती

    बिहार की राघोपुर सीट इस बार खासी चर्चा में है। राजद और लालू परिवार का गढ़ मानी जाने वाली इस सीट से इस बार महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के प्रत्याशी तेजस्वी यादव खड़े हो रहे हैं। हालांकि, चौंकाने वाली बात यह है कि उनके खिलाफ राजद के ही एक पूर्व नेता जितेंद्र कुमार यादव ने चुनाव लड़ने का फैसला किया है। उन्होंने हाल ही में कहा था कि पैसे लेकर सिर्फ पूंजीपतियों को टिकट देकर राजद ने यह साबित कर दिया है कि इस पार्टी में समर्पित कार्यकतार्ओं की कोई जगह नहीं है।

    13:42 (IST)07 Oct 2020
    बिहार चुनाव के लिए मतदानकर्मियों की ट्रेनिंग शुरू, 24 अनुपस्थितों पर केस

    पटना जिले के मतदानकर्मियों को प्रशिक्षण देने का काम शुरू हाे गया है। पहले दिन 24 कर्मी प्रशिक्षण से गायब रहे। डीएम कुमार रवि ने उन 24 कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया है। इनमें 12 कर्मी पीठासीन पदाधिकारी, 7 प्रथम मतदान पदाधिकारी, 3 द्वितीय मतदान पदाधिकारी और 2 तृतीय मतदान पदाधिकारी हैं। हिंदी भवन में समीक्षा बैठक के दौरान डीएम ने विधानसभावार सभी निर्वाची पदाधिकारियाें से चुनाव की तैयारी के बारे में बिंदुवार जानकारी प्राप्त की।

    13:02 (IST)07 Oct 2020
    भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष लोजपा में शामिल, जदयू के खिलाफ लड़ेंगे चुनाव

    बिहार भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह लोजपा में शामिल हो गए हैं। उन्हें नई दिल्ली में लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने सदस्यता दिलाई। वे झारखंड भाजपा के संगठन महामंत्री भी थे। दिनारा सीट इस बार गठबंधन की साथी जदयू के खाते में गई है। 2015 के विधानसभा चुनाव में दिनारा से जदयू के जय कुमार ने राजेंद्र सिंह पर जीत हासिल की थी। माना जा रहा है कि राजेंद्र इस बार भी दिनारा सीट से ही चुनाव लड़ेंगे।

    12:34 (IST)07 Oct 2020
    लोजपा ने आखिरकार भाजपा के खिलाफ भी उतारा प्रत्याशी

    बिहार चुनाव में भाजपा और जदयू के गठबंधन से अलग चुनाव लड़ने का ऐलान करने वाली लोजपा ने प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी कर दी है। पहले चिराग की तरफ से इशारा किया गया था कि वे भाजपा के खिलाफ इस बार उम्मीदवार नहीं उतारेंगे और उनके निशाने पर नीतीश कुमार और जदयू होगी। हालांकि, लोजपा ने जो लिस्ट जारी की है, उसमें मौजूदा विधायक राजू तिवारी को गोविंदगंज विधानसभा सीट से खड़ा किया गया है। वे यहां भाजपा के खिलाफ पर चुनाव लड़ेंगे। इस पर लोजपा का कहना है कि गोविंदगंज हमारी सिटिंग सीट है और राजू तिवारी पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं। ऐसे में हम वह सीट नहीं छोड़ सकते हैं। आपको बता दें कि लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने सोमवार को कहा था कि बिहार में अगली सरकार भाजपा के नेतृत्व में बनेगी, जिसमें लोजपा भी शामिल रहेगी। लोजपा के सभी विधायक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में काम करेंगे।

    12:04 (IST)07 Oct 2020
    रामविला पासवान ठीक होते तो यह दिन नहीं देखना पड़ता: सुशील मोदी

    बिहार सरकार में उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि रामविलास पासवान केंद्र में मंत्री हैं। वह अभी बीमार हैं, जिसके चलते यह दिन देखना पड़ रहा है। वह स्वस्थ होते तो ऐसा समय नहीं देखना पड़ता। बिहार में एनडीए एकजुट है। यहां एनडीए में भाजपा, जदयू, हम और वीआईपी चार दल हैं। हम चुनाव आयोग को लिखेंगे कि इन चार दलों के अलावा कोई अन्य पार्टी या निर्दलीय उम्मीदवार प्रधानमंत्री की तस्वीर का इस्तेमाल न करे। अगर कोई ऐसा करता है तो चुनाव आयोग विधि सम्मत कार्रवाई करे।

    11:31 (IST)07 Oct 2020
    क्या है राजद की सीटों का जातीय आधार?

    राजद ने अपनी 42 सीटों की पहली सूची जारी कर दी है। इसमें जातीय समीकरणों का ध्यान रखा गया है। पहली लिस्ट में यादव-19, एससी-8, सवर्ण-4, अति पिछड़ा-3, वैश्य-2, कुशवाहा-2, मुसलमान-3 और एसटी के एक प्रत्याशी मैदान में होंगे। राजद की पहले फेज की 41 सीटों में से यादव समाज से 19 उम्मीदवार और 3 मुसलमान को चुनाव में उतारा है। यही दोनों वर्ग उसके राजनीतिक आधार हैं।

    11:01 (IST)07 Oct 2020
    बिहार विधानसभा चुनाव में अकेले ही खड़ी होगी झामुमो

    बिहार विधानसभा चुनाव में अब तीन हफ्ते से भी कम समय रह गया है। इस बीच पहले चुनाव में राजद के साथ महागठबंधन में उतरने पर विचार कर रही झामुमो ने अब अकेले ही बिहार में चुनाव लड़ने का फैसला किया है। राजद ने पिछले हफ्ते ही ऐलान किया था कि वह अपने कोटे की 144 सीटों में से कुछ सीटें झामुमो को देगी। हालांकि, इस पर सहमति नहीं बन पाई है।

    10:34 (IST)07 Oct 2020
    एके-47 और ग्रेनेड रखने के मामले में जेल में बंद अनंत सिंह को टिकट

    बिहार विधानसभा चुनाव में आरजेडी ने बाहुबली नेता अनंत सिंह को टिकट दिया है। एके-47 और ग्रेनेड मामले में पटना की बेऊर जेल में बंद अनंत सिंह बुधवार यानी आज मोकामा विधानसभा क्षेत्र के लिए नामांकन भरेंगे। एमपीएमएलए कोर्ट के स्पेशल जज विपुल सिन्हा ने उन्हें नामांकन दाखिल करने की अनुमति दे दी है। मोकामा से निर्दलीय विधायक और छोटे सरकार के नाम से मशहूर अनंत सिंह लगातार चुनाव जीतते आए हैं। अनंत सिंह ने 2015 में बतौर निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की थी। तब भी वो जेल में ही थे और उनके अपराधों को आरजेडी ने मुद्दा बनाया था। पढ़ें पूरी खबर...

    10:00 (IST)07 Oct 2020
    प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन ने किया सीटों का ऐलान

    प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन (पीडीए) ने मंगलवार को पहले चरण के लिए अपने घटक दलों के बीच सीट बंटवारे की घोषणा कर दी। जाप के खाते में 33 सीटें आईं। 16 पर एसडीपीआई और शेष सीटों पर गठबंधन के अन्य प्रत्याशी होंगे। पीडीए के संयोजक और जाप के अध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि पीडीए की लड़ाई, बिहार बचाने की लड़ाई है। इसका संकल्प डर और अभाव से बिहार को निकालने का है।

    Next Stories
    1 हाथरस की एक और बेटी नहीं रही: चार साल की बच्ची से मौसेरे भाई ने किया था रेप, मौसी फ़रार
    2 बिहार चुनाव: साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में साथ नहीं पहुंचे नीतीश कुमार, बीजेपी ने एक वादा कर मनाया
    3 बदला जमाना- अतर्रा की लाई मंडी: वह एक बाजार था, जो कभी गुलजार था
    ये पढ़ा क्या?
    X