ताज़ा खबर
 

Bihar Elections से पहले आरक्षण पर JDU का बड़ा दांव! बोले नीतीश कुमार- हम तो चाहेंगे…आबादी के हिसाब से हो रिजर्वेशन का प्रावधान

नीतीश ने आबादी के हिसाब से आरक्षण होने की बात कही है। सीएम ने कहा कि उनकी इसको लेकर हमेशा से यही राय रही है और आगे भी वह इसपर कायम रहेंगे।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: October 30, 2020 11:42 AM
Nitish Kumar, reservation, reservation according to population, Valmikinagar rally,बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।

बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान हो चुके हैं। दूसरे चरण की वोटिंग से पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आरक्षण को लेकर बड़ा दांव खेला है। नीतीश ने आबादी के हिसाब से आरक्षण होने की बात कही है। सीएम ने कहा कि उनकी इसको लेकर हमेशा से यही राय रही है और आगे भी वह इसपर कायम रहेंगे। उन्होंने कहा कि जहां तक संख्या का सवाल है, जनगणना होगी तब उसके बारे में निर्णय होगा। यह निर्णय हमारे हाथ में नहीं है।

पश्चिमी चंपारण के वाल्मीकिनगर में चुनावी जनसभा में नीतीश कुमार ने कहा कि हम तो चाहेंगे कि जितनी आबादी है, उसके हिसाब से आरक्षण का प्रावधान होना चाहिए। सीएम ने कहा “जहां तक ​​जनसंख्या का सवाल है, वह जनगणना के बाद ही तय किया जाता है और यह निर्णय हमारे हाथ में नहीं है। हम चाहेंगे कि आरक्षण जनसंख्या के अनुपात में हो, इसके बारे में कोई दूसरी राय नहीं है।”

वाल्मीकिनगर में थारू जाति के काफी लोग हैं, ये लोग पिछले कई सालों से जनजाति में शुमार करने की मांग उठा रही है। इसी का समर्थन करते हुए नीतीश ने आबादी के हिसाब से हो रिजर्वेशन देने की बात कही है। नीतीश ने कहा कि थारू को आरक्षण का फायदा दिलाने के लिए वो सालों से कोशिश कर रहे हैं। तब से जब से वो अटल सरकार में रेल मंत्री थे।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, मुझे वोट की चिंता नहीं है। आपने पहले काम करने का मौका दिया तब काफी काम किया। फिर काम करने का मौका मिला तो फिर आपके बीच आएंगे, आपके साथ बैठेंगे और कोई समस्‍या शेष रह गई हो तो उसका समाधान करेंगे।

सीएम ने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनते हुए पूर्वी चंपारण के छौड़ादानो, पश्चिम चंपारण के हडनाटांड़ व सिकटा में चुनावी सभा में कहा कि 15 साल में बिहार का बजट 23 हजार करोड़ से बढ़कर लगभग ढाई लाख करोड़ हो गया। राज्य के 80 फीसदी लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के अलावा हर घर को बिजली व हर गांव को पक्की नली-गली से जोड़ने का कार्य एनडीए सरकार ने किया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हवा में घुल रहा जहर! नया कानून और उम्मीदें, पर चुनौतियां पुरानी; कैसे काम करेगी यह एजेंसी? समझें
2 फ्रांस में हमलाः राष्ट्रपति मैक्रों के खिलाफ भोपाल में मुस्लिमों का प्रदर्शन, Video शेयर कर बोले BJP नेता- भयावह; लोगों ने पूछा- सरकार किसकी है?
3 Bihar Elections 2020: रामविलास की अंत्येष्टि में ड्रामा कर रहे थे चिराग, पर अगले दिन हंस रहे थे राक्षसी हंसीः HAM नेता
यह पढ़ा क्या?
X