ताज़ा खबर
 

बिहार चुनाव: टिकट पर वामपंथियों का धरना-प्रदर्शन-अनशन; सचिव को किया कमरे में बंद

पार्टी के राज्य सचिव रामनरेश पांडेय ने मीडिया को जानकारी दी है कि रविवार को पार्टी के राज्य सचिव मंडल ने कपिलदेव यादव की अध्यक्षता में बैठक कर इन नामों पर विचार-विमर्श किया और फिर सूची जारी की गई है।

bihar, cpi, bihar chunavभाकपा ने 6 सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया है।

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियों ने कमर कस ली है। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) ने विपक्षी महागठबंधन से मिली छह विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशियों का ऐलान कर दिया है। लेकिन टिकट बंटवारे को लेकर कई वामपंथी नेता और कार्यकर्ता नाराज हो गए और उन्होंने धऱना प्रदर्शन शुरू कर दिया।  दरअसल पार्टी ने जो सूची जारी की है उसके मुताबिक बखरी विधानसभा क्षेत्र से सूर्यकांत पासवान, तेघड़ा से राम रतन सिंह, बछवाड़ा से अवधेश कुमार राय, हरलाखी से रामनरेश पांडेय, झंझारपुर से रामनारायण यादव और रूपौली विधानसभा सीट से विकास चंद्र मंडल को उम्मीदवार बनाया गया है। पार्टी के राज्य सचिव रामनरेश पांडेय ने मीडिया को जानकारी दी है कि रविवार को पार्टी के राज्य सचिव मंडल ने कपिलदेव यादव की अध्यक्षता में बैठक कर इन नामों पर विचार-विमर्श किया और फिर सूची जारी की गई है।

हालांकि 6 विधानसभा सीटों के लिए सूची जारी होने के बाद भाकपा कार्यकर्ता नाराज भी दिखे। एआईएसएफ और एआईवाईएफ के नेताओं और कार्यकर्ताओं का कहना था कि टिकट बंटवारे में युवाओं को तरजीह नहीं दी गई है। इस बात का विरोध करते हुए 100 से अधिक नेता और कार्यकर्ताओं ने राज्य कार्यालय में रविवार को धरना भी दिया।

इतना ही नहीं कुछ युवा कार्यकर्ताओं ने पार्टी के प्रभारी राज्य सचिव राम नरेश पांडेय को उनके ही कमरे में बंद कर दिया। राज्य कार्यकारिणी सदस्य विश्वजीत कुमार और एआईवाईएफ के राज्य सचिव रौशन कुमार सिन्हा के नेतृत्व में कार्यकर्ता धरना और अनशन भी करने लगे। इनका कहना था कि जब तक टिकट बंटवारे में युवाओं को तरजीह नहीं दी जाती है वो आमरण अनशन करेंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बिहार चुनाव: NDA से निकल कर किंगमेकर बनने का है चिराग का प्लान, महीनों पहले शुरू कर दिया था नीतीश का विरोध!
2 हाथरस कांडः जो FSL रिपोर्ट कह रही- ‘नहीं हुआ गैंगरेप’, उसमें 11 दिन बाद लिए गए सैंपल, नहीं कर सकती बलात्कार की पुष्टि- बोले CMO
3 बचाएं पलाश का पेड़ और टेसू का पुष्प मोहक रंगों से उत्साह की प्रेरणा देने वाला प्रकृति का अनोखा उपहार हो रहा विलुप्त
ये पढ़ा क्या?
X