ताज़ा खबर
 

शेखपुरा: कांग्रेस से आए नेता को टिकट मिलने पर JDU में बगावत, विरोध में इस्तीफों का दौर

बरबीघा से कांग्रेस विधायक सुदर्शन कुमार ने कांग्रेस छोड़कर जदयू की सदस्यता ग्रहण कर ली थी। एनडीए गठबंधन ने अब उन्हें शेखपुरा से टिकट दिया है। शेखपुरा के बरबीघा विधानसभा सीट से सुदर्शन कुमार ने जेडीयू से नामांकन भरा है।

bihar election, JDU. congressकांग्रेस से जेडीयू में आए एक नेता को टिकट मिलने के बाद पार्टी के कुछ नेता नाराज़ है और उन्होंने बगावत कर दी है।(file)

बिहार विधानसभा चुनाव में अब ज्यादा वक़्त नहीं बचा है। जैसे जैसे चुनाव की तारीख पास आ रही हैं, राज्य में सियासत गरम होती जा रही है और टिकट के लिए नेताओं का दल बदलने का सिलसिला जारी है। चिराग पासवान से तनातानी के बाद अब जेडीयू के अंदर ही बवाल शुरू हो गया है। कांग्रेस से जेडीयू में आए एक नेता को टिकट मिलने के बाद पार्टी के कुछ नेता नाराज़ है और उन्होंने बगावत कर दी है।

बरबीघा से कांग्रेस विधायक सुदर्शन कुमार ने कांग्रेस छोड़कर जदयू की सदस्यता ग्रहण कर ली थी। एनडीए गठबंधन ने अब उन्हें शेखपुरा से टिकट दिया है। शेखपुरा के बरबीघा विधानसभा सीट से सुदर्शन कुमार ने जेडीयू से नामांकन भरा है। जिसके बाद कार्यकर्ता नाराज़ हो गए हैं। इसके विरोध में एक साथ कई नेताओं ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है।

जेडीयू बरबीघा विधानसभा के प्रभारी डॉ. राकेश रंजन ने बताया कि कांग्रेसी विधायक रहते हुए सुदर्शन कुमार के द्वारा पार्टी के कार्यकर्ताओं की शुरुआत के दिनों में ही उपेक्षा की गई। पिछड़े और अति पिछड़ी जाति वाले गांव में विकास के काम नहीं किए गए। वहीं कांग्रेस छोड़कर जेडीयू में आने वाले विधायक को टिकट दिया जाना पार्टी के कार्यकर्ताओं का अपमान है।

पार्टी के इस फैसले के बाद रंजन के साथ-साथ दो दर्जन नेताओं ने इस्तीफा दे दिया है। जेडीयू जिला अध्यक्ष अंजनी कुमार ने बताया कि राकेश रंजन के इस्तीफे की सूचना उन्हें सोशल मीडिया के माध्यम से मिली है।

बता दें बिहार चुनाव में बीजेपी से अलग होने के बाद लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) ने बीजेपी के खिलाफ चुनावी मैदान में उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है। लेकिन लोजपा के मौजूदा विधायक राजू तिवारी को भाजपा के खिलाफ गोविंदगंज विधानसभा सीट पर उतारा है।

इसपर लोजपा का कहना है कि गोविंदगंज हमारी सिटिंग सीट है और राजू तिवारी पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं। ऐसे में हम वह सीट नहीं छोड़ सकते हैं। लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने सोमवार को कहा था कि बिहार में अगली सरकार भाजपा के नेतृत्व में बनेगी, जिसमें लोजपा भी शामिल रहेगी। लोजपा के सभी विधायक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में काम करेंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सुशांत सिंह राजपूत केस में रिया चक्रवर्ती को मिली बेल, करीब एक महीने से थीं जेल में
2 Bihar Election 2020 HIGHLIGHTS: नहीं रहे केंद्रीय मंत्री व एलजेपी नेता रामविलास पासवान, पीएम मोदी ने जताया दुख
3 हाथरस की एक और बेटी नहीं रही: चार साल की बच्ची से मौसेरे भाई ने किया था रेप, मौसी फ़रार
ये पढ़ा क्या ?
X