ताज़ा खबर
 

Bihar Elections 2020: रक्षा की विनती कर रहा हूं…जब सभा में मंच से रक्षा मंत्र पढ़ने लगे केंद्रीय राज्य मंत्री, जानें पूरा माजरा

एक चुनावी सभा में वैशाली जिले की आठ सीटों पर एनडीए उम्मीदवार को जिताने की अपील करते हुए केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने कहा था कि "मेरी रक्षा करो, मेरी लाज बचाओ, मुंह दिखाने लायक नहीं रहूंगा।

nityanand rai bihar election 2020 bjpभाजपा नेता और केन्द्रीय मंत्री नित्यानंद राय। (फाइल फोटो)

केन्द्रीय गृहराज्य मंत्री नित्यानंद राय सोमवार को हाजीपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मंच से ही रक्षा मंत्र पढ़ने लगे। इस दौरान नित्यानंद राय ने कहा कि ‘रक्षा की विनती करता हूं, रक्षा की विनती करता हूं, रक्षा की विनती करता हूं।’ दरअसल इसकी वजह दो दिन पहले एक चुनावी सभा में दिया गया उनका एक बयान है।

बता दें कि एक चुनावी सभा में वैशाली जिले की आठ सीटों पर एनडीए उम्मीदवार को जिताने की अपील करते हुए केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने कहा था कि “मेरी रक्षा करो, मेरी लाज बचाओ, मुंह दिखाने लायक नहीं रहूंगा। मेरी प्रतिष्ठा आपके हाथों में है। मेरी रक्षा कीजिए। मैं इस स्थिति में रहूं कि मुझसे पूछा जाए तो बता सकूं कि यह वैशाली जिले के लोगों की जीत है। मुझे प्रायश्चित ना करना पड़े। जो अपनी धरती पर हार जाएगा उसे सम्मान के साथ जीने का अधिकार नहीं है।”

नित्यानंद राय के इस बयान का वीडियो भी सामने आया था, जिसके बाद सोशल मीडिया पर उनकी खूब आलोचना हो रही थी। यही वजह रही कि जब सोमवार को वह हाजीपुर में एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे तो उन्होंने कहा कि ‘उन्हें अपने बयान पर कोई अफसोस नहीं है। जनता भगवान है और भगवान के सामने बार-बार यही कहूंगा- रक्षा की विनती करता हूं, रक्षा की विनती करता हूं, रक्षा की विनती करता हूं।’

बता दें कि हाजीपुर वैशाली जिले में आता है और हाजीपुर में नित्यानंद राय का खासा प्रभाव है। यही वजह है कि भाजपा ने वैशाली की आठ विधानसभा सीटों की जिम्मेदारी नित्यानंद राय को दी हुई है। यही वजह है कि नित्यानंद राय भी वैशाली की इन सीटों को जिताने के लिए पूरा जोर लगाए हुए हैं और जमकर जनसभाएं कर रहे हैं।

हाजीपुर में नित्यानंद राय के दबदबे को इस बात से समझा जा सकता है कि उन्होंने ही यहां से कांग्रेस का दबदबा खत्म किया और 2000 से 2010 लगातार हाजीपुर सीट से विधायक बने। हाजीपुर सीट राजद के दबदबे वाली राघोपुर, महुआ, सोनेपुर और परसा सीटों से घिरी है। यही वजह है कि नित्यानंद राय की चुनौती भी बड़ी है। गौरतलब है कि बिहार में भाजपा के सीएम फेस की बात करें तो नित्यानंद राय भी उस फेहरिस्त के मजबूत उम्मीदवार हैं।

Next Stories
1 Bihar Elections 2020: ‘अलग-थलग’ पड़ी LJP और RJD आ सकते हैं साथ? इधर BJP ने JDU-नीतीश पर और जताया ‘विश्वास’, उधर चिराग पासवान पर नरम पड़े तेजस्वी यादव
2 बिहार चुनाव: चिराग पासवान ने बताया- शीर्ष नेतृत्व से बात कर गठबंधन की नीति के तहत उतारे हैं बीजेपी के सामने उम्मीदवार
3 बिहार चुनाव: नीतीश कुमार की सभा में चोर-चोर का नारा, मनरेगा के पैसे को लेकर हंगामा; पुलिस ने किया बाहर
यह पढ़ा क्या?
X