ताज़ा खबर
 

बिहार चुनाव: नीतीश कुमार की सभा में चोर-चोर का नारा, मनरेगा के पैसे को लेकर हंगामा; पुलिस ने किया बाहर

वहां मौजूद पुलिसकर्मियों और जदयू समर्थकों ने उस व्यक्ति को समझाने की कोशिश की। जिससे जनसभा में कुछ देर के लिए हंगामे की स्थिति बन गई।

nitish kumar bihar election 2020सीएम नीतीश कुमार की जनसभा में लगे चोर-चोर के नारे। (फाइल फोटो)

बिहार में चुनाव प्रचार अभियान जोरों पर है। सीएम नीतीश कुमार समेत सभी बड़े नेता चुनाव अभियान में जुटे हैं। इसी बीच सोमवार को सीएम नीतीश कुमार की एक जनसभा में असहज स्थिति बन गई। दरअसल नीतीश कुमार बिहार के औरंगाबाद जिले के रफीगंज इलाके में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। जब नीतीश कुमार मंच से भाषण दे रहे थे, तभी लोगों की भीड़ में एक व्यक्ति जोर-जोर से चिल्लाने लगा कि ‘नीतीश कुमार चोर है, नीतीश कुमार चोर है। मनरेगा का पैसा खाया है।’

इस दौरान वहां मौजूद पुलिसकर्मियों और जदयू समर्थकों ने उस व्यक्ति को समझाने की कोशिश की। जिससे जनसभा में कुछ देर के लिए हंगामे की स्थिति बन गई। हालांकि जल्द ही उक्त व्यक्ति के जनसभा से बाहर ले जाया गया, जिसके बाद मामला शांत हुआ। बताया जा रहा है कि जनसभा के दौरान हंगामा करने वाला व्यक्ति कथित मनरेगा के मुद्दे पर नाराज था।

दरअसल नीतीश की जनसभा के दौरान नारेबाजी करने वाले व्यक्ति ने सीएम नीतीश कुमार को कुछ कागजात देने चाहे लेकिन जदयू समर्थकों ने उसे कुछ बोलने नहीं दिया, जिसके बाद वह व्यक्ति अचानक से चिल्लाने लगा। जब पुलिसकर्मी नारेबाजी करने वाले व्यक्ति को काबू करने का प्रयास कर रही थी तो नीतीश कुमार ने मंच से ही कहा कि कागज देना चाहते हैं तो ले लीजिए और आराम से बात कीजिए। तेजस्वी यादव ने इस घटना का वीडियो शेयर कर सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा है।

वहीं जनसभा के दौरान सीएम नीतीश कुमार ने राजद नेता तेजस्वी यादव के उस वादे पर तंज कसा, जिसमें तेजस्वी ने 10 लाख नौकरियां देने की बात कही है। नीतीश ने कहा कि “कुछ लोग बिना ज्ञान के ही नौकरियां देने का वादा कर रहे हैं कि इतनी नौकरियां देंगे। पैसा कहां से आएगा।? कहीं ऐसा ना हो कि नौकरी देने के नाम पर अपना अलग ही काम धंधा चालू कर दें। कहने से कुछ होता है जी, करने से कुछ अनुभव हो, कुछ समझ हो तब ना।”

जनसभा के दौरान लालू प्रसाद यादव पर निशाना साधते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि 15 साल में महिलाओं के लिए क्या किया? पति जेल में गए तो पत्नी को बैठा दिया, लेकिन महिलाओं के लिए क्या किया? नीतीश कुमार ने कहा कि ‘हमें मौका मिला तो आरक्षण दिया, महिलाएं जनप्रतिनिधि बनीं।’

राजद के शासनकाल की जंगलराज से तुलना करते हुए नीतीश ने कहा कि पहले ना सड़का थी, ना बिजली थी और जंगलराज था। उन्होंने कहा कि आज हर घर में बिजली है, हर गांव तक सड़क है और बिहार में कानून का राज है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बिहार चुनाव: तेजस्वी का गणित नीतीश पर पड़ सकता है भारी, बीजेपी के लिए राहत- 77 सीटों पर जेडीयू के ख़िलाफ़ लड़ रहा राजद
2 बीजद सांसद बोलीं- मेरे गंदे वीडियो हो रहे वायरल, भाजपा नेता की पत्नी के चैनल पर आरोप- संसद पहुंचा मामला
3 पश्चिम बंगाल में बोले भाजपा अध्यक्ष नड्डा- बहुत जल्द लागू होगा सीएए, कोरोना की वजह से हुई देरी
ये पढ़ा क्या?
X