ताज़ा खबर
 

बदमाशों ने रास्ते में RJD नेता पर किया हमला, सीने में गोली लगने के बाद भी बेटी को परीक्षा हॉल तक छोड़ा

बेटी ने कहा, 'मैं घबरा गई थी। पापा को बचाने के लिए उनसे लिपट गई। मैंने बंदूक पर हाथ मारा लेकिन तभी गोली चल गई। पापा के सीने से खून निकलने लगा।'

प्रतीकात्मक फोटो, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

बिहार में हुई एक घटना से अपराधियों के बुलंद हौंसले और एक बाप-बेटी का बेटी के प्रति प्यार दोनों सामने आए। मामला बेगूसराय का है। यहां राष्ट्रीय जनता दल के नेता रामकृपाल महतो अपनी बेटी को परीक्षा केंद्र तक छोड़ने जा रहे थे। रास्ते में उन पर करीब आधा दर्जन बदमाशों ने जानलेवा हमला कर दिया। गोली से छलनी होने के बावजूद महतो ने बाइक चलाई और बेटी को परीक्षा केंद्र तक पहुंचाकर आए। इसके बाद उन्होंने खुद ही अस्पताल जाकर अपना इलाज कराया।

बेटी ने भी दिखाई दिलेरीः मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जब बदमाशों ने महतो के सिर पर बंदूक तान दी तो बेटी ने विरोध किया और बंदूक छीनने की कोशिश की। इस दौरान गोली महतो के सीने में जा लगी। इस हमले में बेटी को भी हल्की चोट लगी। पिता पर हमले और खुद को लगी चोट के बावजूद उसने परीक्षा दी। बेटी ने कहा, ‘मैं घबरा गई थी। पापा को बचाने के लिए उनसे लिपट गई। मैंने बंदूक पर हाथ मारा लेकिन तभी गोली चल गई। पापा के सीने से खून निकलने लगा।’

सुशासन पर एक और धब्बाः इस घटना से बेटी के प्रति महतो के प्यार की मिसाल तो सामने आई लेकिन नीतीश कुमार के सुशासन पर एक और सवाल उठ गया है। बिहार में लगातार सरेआम जानलेवा हमलों, मर्डर और दुष्कर्म की वारदात सामने आ रही हैं। हाल ही में माफिया डॉन शहाबुद्दीन के भतीजे को भी सरेआम बस स्टैंड पर ही गोली मार दी गई थी। इस घटना में उसकी मौत हो गई थी। पिछले कुछ दिनों में प्रेमी जोड़ों के साथ बदसलूकी, दुष्कर्म और हत्या की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App