जब पत्रकारों से बोले नीतीश कुमार- आसमान से लाएंगे जमीनमा का, अंडरव‍ियर पहन ट्रेन में घूमने वाले व‍िधायक पर नहीं द‍िया जवाब

जब पत्रकारों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से तेजस ट्रेन में अंडरवियर पहनकर घूमने वाले जदयू विधायक गोपाल मंडल को लेकर सवाल पूछा तो वे बिना जवाब दिए हुए ही निकल गए।

जब पत्रकारों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से राजद के द्वारा पार्टी कार्यालय के लिए ज्यादा जमीन मांगे जाने को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि ये जमीन हमने ही दी है जो उन्होंने पसंद की थी। अब क्या जमीन आसमान से लाया जाएगा। (फोटो – पीटीआई)

बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राजद ने सबसे ज्यादा विधायक होने के बावजूद पार्टी कार्यालय के लिए कम जमीन आवंटित करने का मुद्दे उठाया है। साथ ही पिछले दिनों राजद ने बिहार सरकार को पत्र लिखकर दफ्तर के विस्तार के लिए ज्यादा जमीन की मांग की थी। इसी मुद्दे पर जब पत्रकारों ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल पूछा तो उन्होंने गुस्से में जवाब देते हुए कहा कि आसमान से लाएंगे जमीनमा का। साथ ही जब उनसे अंडरव‍ियर पहन ट्रेन में घूमने वाले जदयू विधायक गोपाल मंडल  के बारे में सवाल पूछा गया तो वे बिना जवाब दिए हुए ही निकल गए।

दरअसल गुरुवार को पत्रकारों ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से राजद को कम जमीन आवंटित करने को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि क्या बात करते हैं, सबको पार्टी कार्यालय के लिए जमीन मिला हुआ है। वो क्या बोलते हैं ये वो ही जानें। आज तक सभी पार्टियों को जमीन दिया गया, 2006 के बाद जो इंतजाम किया गया वो सबको मालूम है। उन्होंने तो किसी भी पार्टी को जमीन नहीं दी। ये जमीन हमने ही दी है जो उन्होंने पसंद की थी। अब क्या जमीनमा आसमान से लाया जाएगा। 

आगे नीतीश कुमार गुस्सा होकर कहने लगे कि ये सब कोई बोले तो पूछ लिया करिए। इसके बाद जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से तेजस ट्रेन में अंडरवियर पहनकर घूमने वाले जदयू विधायक गोपाल मंडल को लेकर सवाल पूछा गया तो वे बिना जवाब दिए हुए ही निकल गए। पत्रकार सवाल पूछते रहे लेकिन वे अपनी गाड़ी में बैठकर निकल गए।

राजद कार्यालय के जमीन आवंटन को लेकर नीतीश कुमार के दिए गए बयान पर विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने भी प्रतिक्रिया दी। तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि अब माननीय मुख्यमंत्री से सबसे बड़ी पार्टी राजद के कार्यालय के लिए सबसे कम आवंटित जमीन की सच्चाई पर सवाल पूछ लिया तो आदतन गुस्सा आ गया। JDU ने विधायकों के फ़्लैट तोड़ जमीन क़ब्ज़ाई है।

इसके अलावा तेजस्वी यादव ने इसी ट्वीट में आंकड़ों के जरिए राजद को कम जमीन आवंटित करने का मुद्दा उठाया। तेजस्वी यादव ने कहा कि जदयू के 41 विधायक हैं और कार्यालय के लिए 66000 वर्ग फीट जमीन आवंटित की गई है। बीजेपी के 74 विधायक हैं और 52 हजार वर्ग फीट की जमीन आवंटित की गई है। जबकि राजद के 75 विधायक हैं और पार्टी कार्यालय के लिए सिर्फ 19842 वर्ग फीट जमीन आवंटित किया गया है। तेजस्वी यादव के साथ ही राजद के बिहार प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने भी सरकार से ज्यादा जमीन देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि बिहार में 3 बड़े दल हैं। मगर तीनों दल के कार्यालय के लिए आवंटित जमीन में बड़ा अंतर है। ऐसे में राजद कार्यालय के बगल में खाली जमीन को पार्टी को आवंटित किया जाना चाहिए।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट