बिहारः छात्रों के कार रोकने पर बिफरीं नीतीश की डिप्टी सीएम, कैमरे पर ही कहने लग गईं अपशब्द

विरोध करने वाले छात्र बीआरए यूनिवर्सिटी मुजफ्फरपुर के परीक्षा केंद्र को बेतिया में भी बनाने की मांग कर रहे थे।

रेणु देवी बिहार की पहली महिला उपमुख्यमंत्री हैं। (फोटो- ANI)

बिहार में अपनी मांगों पर सुनवाई नहीं होने पर नेताओं को रोकने पर वे गुस्से में अपशब्द बोलने लग जा रहे हैं। कई बार कैमरे के सामने और कई बार कैमरे से हटकर उनके गुस्से को साफ देखा जा रहा है। इसकी वजह से सरकार की छवि भी खराब होती है। ताजा मामला उपमुख्यमंत्री रेणु देवी से जुड़ा है। हाल ही में वह अपने विधानसभा क्षेत्र बेतिया गई थीं। इस दौरान बीआरए यूनिवर्सिटी मुजफ्फरपुर के किसी फैसले के खिलाफ धरना दे रहे छात्रों ने उनकी गाड़ी रोक ली।

छात्र मांग कर रहे थे कि यूनिवर्सिटी के परीक्षा केंद्र मुजफ्फरपुर और बेतिया दोनों जगह बनाए जाए। इस पर उपमुख्यमंत्री रेणु देवी नाराज हो गईं। छात्रों की बात सुनते ही उपमुख्यमंत्री उनको फटकारने लगीं। इस दौरान उन्होंने कुछ अपशब्दों का भी प्रयोग किया। इसकाे कई लोगों ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया। वीडियो वायरल होते ही कई लोगों ने कमेंट भी किए।

संजय कुमार@SanjayMDSortho नाम के एक यूजर ने कमेंट किया, “ऐसा लगता है कि वह बीजेपी की वॉशिंग मशीन से नहीं गुजरी हैं।” हालांकि उनके समर्थन में भी कुछ लोग आगे आए हैं। प्रशांत दुबे@7PrashantDubey नाम के एक यूजर ने लिखा, “Isupportrenudevi किसी एक मीडिया चैनल द्वारा उनकी छवि को खराब करने की जो प्रयास है वह काफी निंदनीय है और मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं श्रीमती रेनू देवी जी हमेशा छात्र हित में काम करती आई हैं और उनके इस आंदोलन को सफल बनाने के लिए मैं तहे दिल से उनका धन्यवाद करता हूं।”

इस बीच राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने रविवार को बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार पर तीखा हमला करते हुए आरोप लगाया कि वह पिछले कुछ दिनों में राज्य में हत्या के दो प्रमुख मामलों में कथित अपराधियों को बचा रही है।

संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए विपक्ष के नेता ने मधुबनी में एक आरटीआई कार्यकर्ता सह स्वतंत्र पत्रकार और पूर्णिया में एक जिला पार्षद के पति रिंटू सिंह की हत्या को लेकर सरकार पर निशाना साधा।

पूर्णिया मामले में एक मंत्री के करीबी रिश्तेदार पर आरोप लगा है। रिंटू की शुक्रवार की रात अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी और पीड़ित परिवार के सदस्यों ने मंत्री लेसी सिंह के एक भतीजे को मुख्य आरोपी बताया है। यादव ने सरकार को ‘‘लेसी सिंह और संबंधित थाने के प्रभारी के कॉल विवरण रिकॉर्ड’’ निकलवाने की चुनौती दी और आरोप लगाया कि इससे घटना में कैबिनेट सदस्य की भागीदारी का संकेत मिल जाएगा।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट