ताज़ा खबर
 

BJP नेता ने खोला JDU के खिलाफ मोर्चा, कहा- कानून व्यवस्था में फेल है नीतीश सरकार, अपराधियों में नहीं पुलिस का डर

बिहार में कानून व्यवस्था को लेकर नीतीश सरकार विपक्ष के निशाने पर है। बताया जा रहा है कि बीते कुछ समय से बिहार में अपराध की घटनाओं में काफी इजाफा हुआ है।

रामेश्वर चौरसिया (फोटो सोर्स-ANI)

लोकसभा चुनाव 2019 के बाद मोदी कैबिनेट में जेडीयू ने शामिल होने से इंकार कर दिया था। जिसके बाद से बीजेपी और जेडीयू के रिश्ते में तल्खी की बात कही जा रही थी। लेकिन अब यह तल्खी खुलकर सामने आ गई है। बीजेपी के पूर्व विधायक और यूपी बीजेपी के सह-प्रभारी रामेश्वर चौरसिया ने गिरती कानून-व्यवस्था का आरोप लगाकर नीतीश सरकार को कठघरे में खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि यहां के अपराधियों में पुलिस का इकबाल नहीं रहा है, क्योंकि पुलिस अपना काम छोड़कर दूसरों के काम लगी है। चौरसिया ने इशारों में कानून व्यवस्था को लेकर नीतीश सरकार को फेल बताया है।

बीजेपी नेता का नीतीश सरकार पर हमला: बीजेपी नेता रामेश्वर चौरसिया ने कहा कि पहले कानून व्यवस्था का उत्तर प्रदेश में भी बुरा हाल था, लेकिन योगी सरकार के आने के बाद वहां अब कानून का राज है। लेकिन बिहार में स्थिति बिल्कुल उलट है। उन्होंने कहा कि बिहार के अपराधियों में पुलिस का डर खत्म हो गया है, जिसके चलते उनका मनोबल बढ़ गया है। इस दौरान चौरसिया ने अपनी विधानसभा क्षेत्र में बीजेपी के नगर उपाध्यक्ष की हत्या का मामला भी उठाया। उन्होंने सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि जब सरकार और पुलिस का इकबाल खत्म हो जाएगा तो क्या होगा?

National Hindi News, 14 june 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

विपक्ष का आरोप बढ़ रहा है अपराध: बता दें कि बीते कुछ समय से बिहार में कानून व्यवस्था को लेकर नीतीश सरकार विपक्ष के निशाने पर है। बताया जा रहा है कि बीते कुछ समय से बिहार में अपराध की घटनाओं में काफी इजाफा हुआ है। गुरुवार को गोपालगंज और सासाराम में दो बड़े व्यवसायियों की अपराधियों ने हत्या कर दी। इसके अलावा बीजेपी नेता की सासाराम में हत्या कर दी गई।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Maharashtra: शराब लाने में की देरी तो भड़क उठा पति, डंडे से पीटकर पत्नी को मार डाला
2 मालेगांव धमाके के चार आरोपियों को बॉम्बे हाईकोर्ट से जमानत, छह साल थे जेल में
3 दिग्विजय की जीत के लिए किया था ‘मिर्ची हवन’, अब जल समाधि लेने की मांग रहे हैं इजाजत