ताज़ा खबर
 

भाजपा मंत्री का CM नीतीश कुमार पर हमला, कहा- हम बुलाने नहीं गए, वो खुद हमारे पास आए

बिहार के एक मंत्री से जब पत्रकारों ने पूछा कि उपेंद्र कुशवाहा ने भाजपा को जुमला पार्टी कहा है इसपर आपका क्या कहना है? इस सवाल का जवाब ना देते हुए उन्होंने JDU अध्यक्ष पर ही हमला बोल दिया।

जेडीयू अध्यक्ष और बिहार के सीएम नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भारतीय जनता पार्टी के ही नेता और नीतीश सरकार में पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार ने निशाना साधा है। प्रमोद कुमार ने कहा है कि नीतीश कुमार को कोई बुलाने नहीं गया था, वो खुद बीजेपी से गठबंधन करने के लिए आए थे। बता दें, प्रमोद कुमार से मीडिया ने उपेंद्र कुशवाहा को लेकर सवाल पूछा था जिसके जवाब में उन्होंने ये बात कही। प्रमोद कुमार से पत्रकारों ने पूछा था कि उपेंद्र कुशवाहा ने बीजेपी को जुमला पार्टी कहा है इसपर उनका क्या कहना है? इस सवाल का जवाब ना देते हुए प्रमोद कुमार ने JDU अध्यक्ष पर ही हमला बोला। उन्होंने कहा कि एक वक्त था जब नीतीश भी जुमला पार्टी कहते थे, लेकिन आज वो साथ हैं कोई बुलाने गया था क्या?

दरअसल नीतीश कुमार ने 2015 के चुनावों में लालू यादव की RJD और कांग्रेस पार्टी के साथ महागठबंधन किया था। लेकिन कुछ साल बाद ही नीतीश कुमार महागठबंधन से अलग हो गए थे और उन्होंने बीजेपी का दामन थाम लिया था।

क्या है पूरा मामला –

बता दें, उपेंद्र कुशवाहा ने पार्टी के मंथन शिविर के बाद मीडिया से बात करते हुए बीजेपी को जुमला पार्टी कहा था। कुशवाहा के बयान पर बिहार के श्रम संसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने नाराजगी जाहिर की थी। सिन्हा ने कहा था कि साढे़ चार साल तक मोदी सरकार का नेतृत्व स्वीकार कर सरकार में मंत्री रहे, और अब वो उनको जुमला पार्टी कह रहे हैं। उन्हें संन्यास ले लेना चाहिए।

बता दें, बिहार में NDA के सहयोगी उपेंद्र कुशवाहा नाराज चल रहे हैं। इसी को लेकर कुशवाहा कभी नीतीश कुमार पर हमला बोल रहे हैं तो कभी भाजपा पर। बिहार में लोकसभा की 40 सीटें हैं. उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी को इस बार लगभग दो-तीन सीटें ही मिलने की अनुमान है। यही वजह है कि वो नीतीश कुमार और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से नाराज हैं। हाल ही में कुशवाहा ने अमित शाह से मिलने का समय मांगा था लेकिन उन्हें समय नहीं मिल सका।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App