ताज़ा खबर
 

Bihar Assembly Elections 2020: RJD के 4 दलित चेहरों के जवाब में JDU ने उतारे 5 दिग्गज मंत्री, बोले- लालू राज के 40 करोड़ के मुकाबले नीतीश ने 17 अरब किया SC/ST बजट

इसी बीच, बिहार भाजपा ने राज्य में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के तीन-चौथाई सीटें जीतने का शनिवार को लक्ष्य निर्धारित किया।

Bihar Assembly Elections 2020, Bihar Assembly Elections, Bihar Elections 2020चौधरी बोले, “सीएम नीतीश ने 15 साल में दलितों के विकास के लिए जितना काम किया उतना काम आज तक किसी ने नहीं किया। (फाइल फोटो)

Bihar Assembly Elections 2020 से पहले सूबे में सियासी सरगर्मियां तेज हैं। लालू प्रसाद यादव की RJD के चार दलित चेहरों के जवाब में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले JD(U) ने पांच दिग्गज मंत्रियों को चुनावी मैदान में उतार दिया है। शनिवार को जेडीयू के इन पांचों दलित नेताओं (अशोक चौधरी, महेश्वर हजारी, रमेश ऋषि, प्रेमा चौधरी और संतोष निराला) ने राजद पर निशाना साधा। कहा कि लालू राज के 40 करोड़ के मुकाबले नीतीश ने 17 अरब SC/ST बजट किया है। दरअसल, महागठबंधन से HAM नेता जीतन राम मांझी के नाता तोड़ने और JDU से श्याम रजक के लालू की पार्टी में जाने के बाद सूबे में में दलित राजनीति फिर हावी होती दिखी है।

चौधरी बोले, “सीएम नीतीश ने 15 साल में दलितों के विकास के लिए जितना काम किया उतना काम आज तक किसी ने नहीं किया। उन्होंने आर्थिक सामाजिक और राजनीतिक क्षेत्र में दलितों के लिए जो किया उससे स्पष्ट है कि उनसे बड़ा कोई दूसरा दलित प्रेमी नहीं है।” वहीं, हजारी ने बताया कि बिहार में दलितों ने जो आज तक नहीं सोचा वो काम भी नीतीश कुमार ने दलितों के लिए किया।

देव ने कहा, “नीतीश ने कभी भी किसी जाति और समाज के प्रति भेदभाव नहीं किया। उन्होंने दलित समाज के उत्थान के लिए जितना काम किया, उतना किसी ने सोचा नहीं होगा।” निराला आगे बोले- आज नीतीश पर जो गलत आरोप लगते हैं, वे महज राजनीति से प्रेरित हैं। बिहार में कभी नरसंहार का दौर था, पर तत्कालीन सरकार ने इसे रोकने के लिए कुछ न किया।

‘पार्टी कार्यकर्ता विकास कार्य लोगों तक ले जाएं’: बिहार विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा के प्रभारी महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शनिवार को पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को चुनाव प्रचार के दौरान केंद्र और राज्य दोनों सरकारों द्वारा किए गए विभिन्न विकास कार्यों से लोगों को अवगत कराने पर जोर देते हुए विश्वास प्रकट किया कि पार्टी राज्य में विधानसभा चुनाव अवश्य जीतेगी।

बिहार भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी की शनिवार से शुरू हुई दो दिवसीय डिजिटल बैठक को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम संबोधित करते हुए फडणवीस ने कहा, “हमें केंद्र और राज्य सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों को प्रत्येक व्यक्ति तक ले जाना होगा। हमें लोगों को दोनों सरकारों द्वारा किए गए विभिन्न कामों के बारे में याद दिलाना होगा- चाहे वह केंद्र का पैकेज हो, आत्मा निर्भर पैकेज हो, गरीब कल्याण योजना हो या राज्य सरकार द्वारा किया गया काम हो- जिसे लोग उन्हें आसानी से भूल जाते हैं।”

BJP ने NDA के तीन-चौथाई सीटें जीतने का लक्ष्य निर्धारित कियाः बिहार भाजपा ने राज्य में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के तीन-चौथाई सीटें जीतने का शनिवार को लक्ष्य निर्धारित किया। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव एवं अन्य की उपस्थिति में इस लक्ष्य का जिक्र करते हुए प्रदेश पार्टी प्रमुख संजय जयसवाल ने राज्य में पंचायत स्तर तक के 76 लाख पार्टी कार्यर्ताओं से गठबंधन को इस आंकड़े (तीन-चौथाई सीटें) तक पहुंचाना सुनिश्चित करने की अपील की।

जयसवाल ने शनिवार को शुरू हुई राज्य कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक को संबोधित करते हुए कहा , ‘‘हमने बिहार में राजग के लिये तीन-चौथाई सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। हम सुनिश्चित करेंगे कि गठबंधन इस उपलब्धि को हासिल करे।’’ बिहार में राजग (एनडीए) के घटक दलों में भाजपा, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नीत जद(यू), राम विलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) शामिल है। बिहार विधानसभा में 243 सीटें हैं। (भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हरियाणाः गुरुग्राम में गिरा निर्माणाधीन फ्लाईओवर का हिस्सा, दो लोग जख्मी
2 UP: पति नहीं करता है लड़ाई-झगड़ा, इसलिए चाहिए तलाक- कोर्ट में बीवी ने लगाई फरियाद
3 65 साल की बुजुर्ग ने 14 महीने में दिया 8 बेटियों को जन्म- बिहार में सामने आया बड़ा घोटाला
ये पढ़ा क्या?
X