ताज़ा खबर
 

बिहार में फिर पोस्टर वार, लालू यादव और शहाबुद्दीन का फोटो छाप लिखा- ‘कैदी बजा रहा थाली, जनता बजाओ ताली’

पोस्टर में रविवार को होने वाली अमित शाह की वर्चुअल रैली पर भी निशाना साधा गया है। बता दें कि अमित शाह की वर्चुअल रैली रविवार शाम 4 बजे होगी, जिसमें 12 लाख लोगों के शामिल होने की बात कही जा रही है।

बिहार में पोस्टर वार शुरू हो गया है। (एएनआई इमेज)

बिहार में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं। जिसके लिए राजनैतिक पार्टियों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। राज्य में चुनाव की आहट के साथ ही पोस्टर वार भी शुरू हो गया है। दरअसल पटना के आयकर विभाग कार्यालय के पास और डाक बंग्ला क्रॉसरोड पर राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव और बाहूबली शहाबुद्दीन के बड़े बड़े पोस्टर लगे हैं, जिनमें दोनों नेता थाली बजाते नजर आ रहे हैं। इन पोस्टर्स पर लिखा है कि ‘कैदी बजा रहा थाली, जनता बजाओ ताली’। हालांकि ये पोस्टर्स किसने लगवाए अभी तक इसकी जानकारी नहीं मिली है।

वहीं कांग्रेस नेताओं की तरफ से भी जगह जगह पोस्टर्स लगवाए गए हैं, जिनमें 7 जून को ‘श्रद्धांजलि दिवस’ बताया गया है। 7 जून को ही अमित शाह बिहार में वर्चुअल रैली करने वाले हैं। पोस्टर में लिखा गया है कि “लॉकडाउन में भूख एवं दुर्घटना से मरे गरीब-मजदूरों, किसानों, व्यापारियों, नौकरी छूटने और आर्थिक तंगी से आत्महत्या करने वाले व्यक्तियों और लॉकडाउन के कारण अन्य बीमारियों का सही इलाज नहीं मिलने पर हुई मौतों एवं कोरोना से हुई मौतों का श्रद्धांजलि दिवस।”

पोस्टर में अमित शाह की वर्चुअल रैली पर भी निशाना साधते हुए लिखा गया है कि ‘वर्चुअल से एक्चुअल मुद्दों का एनकाउंटर!!’। बता दें कि अमित शाह की वर्चुअल रैली रविवार शाम 4 बजे आयोजित होगी, जिसमें 12 लाख लोगों के इस वर्चुअल रैली में शामिल होने की बात कही जा रही है।

वर्चुअल रैली में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह कोरोना संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में मोदी सरकार द्वारा घोषित किए गए 20 लाख करोड़ रुपए के पैकेज के बारे में जानकारी देंगे। इसके अलावा मोदी सरकार के कार्यकाल में किए गए कामों, ऐतिहासिक फैसलों की भी जानकारी दी जाएगी।

बिहार भाजपा प्रभारी और पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री भूपेन्द्र यादव ने बताया कि रैली के लिए हर बूथ पर सात से दस लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई है। भूपेन्द्र यादव ने ये भी कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ा जाएगा। अमित शाह की वर्चुअल रैली (बिहार जनसंवाद कार्यक्रम) को सफल बनाने की जिम्मेदारी पार्टी ने सांसदों, विधायकों, विधान पार्षदों, प्रदेश पदाधिकारियों, जिला प्रभारियों को दी है। अमित शाह 72 हजार बूथों, 45 जिलों के 9547 शक्ति केन्द्र, 1099 मंडल केन्द्र पर बैठे कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। इसके लिए पार्टी की तरफ से कार्यकर्ताओं को वर्चुअल रैली का लिंक भेजा जा रहा है।

 

वहीं अमित शाह की वर्चुअल रैली के विरोध में आज राजद नेता तेजस्वी यादव, तेजप्रताप यादव और राबड़ी देवी ने अपने आवास के बाहर थाली बजाकर विरोध प्रदर्शन किया। इसके साथ ही राजद नेताओं ने प्रवासी मजदूरों के मुद्दे पर भी सरकार को घेरने का प्रयास किया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘दिल्ली के अस्पताल सिर्फ दिल्ली वालों के लिए’, सीएम अरविंद केजरीवाल का ऐलान, कल से खुलेंगे राजधानी के सभी बॉर्डर
2 कोरोना पर बिहार में नीतीश का अपना ही ऑर्डर फेल, क्‍या यह है चुनावी खेल?
3 पटना में 288 हुए कोरोना केस, भागलपुर में 248 मामलों की पुष्टि, झारखंड में भी तेजी से बढ़ रहे संक्रमित
IPL 2020 LIVE
X