ताज़ा खबर
 

Bihar Elections 2020 से पहले जेल से बाहर होंगे लालू यादव? चारा घोटाले में आज नहीं हुआ बेल पर फैसला, 9 अक्टूबर को अगली सुनवाई

लालू प्रसाद यादव को यदि कोर्ट से जमानत मिल जाती है तो वह बिहार चुनाव से पहले जेल से बाहर आ सकते हैं, जो कि राजद के लिए बड़ी राहत की बात होगी।

lalu prasad yadav fodder scam bihar election rjdलालू यादव की जमानत याचिका पर अब 9 अक्टूबर को होगी सुनवाई। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

चारा घोटाला मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका पर झारखंड हाईकोर्ट द्वारा अब 9 अक्टूबर को सुनवाई की जाएगी। इससे पहले शुक्रवार यानि कि आज सुनवाई हुई, अब कोर्ट ने इसे 9 अक्टूबर तक टाल दिया है। यह मामला चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी से जुड़ा है। इस मामले में कोर्ट ने लालू यादव को 5 साल की सजा सुनायी है। अब जमानत याचिका में लालू यादव की तरफ से कहा गया है कि वह आधी सजा काट चुके हैं, इसलिए उन्हें जमानत मिलनी चाहिए।

वहीं सीबीआई ने कहा है कि अभी आधी सजा पूरी नहीं हुई है। यही वजह है कि अदालत ने 9 अक्टूबर को इस मामले पर सुनवाई निर्धारित की है। दरअसल लालू यादव की सजा की आधी अवधि होने में 26 दिन का समय कम है। यही वजह है कि अदालत ने अगली सुनवाई 26 दिन बाद 9 अक्टूबर को तय की है। हालांकि इस मामले में जमानत मिलने के बाद भी लालू प्रसाद यादव जेल से बाहर नहीं आ पाएंगे क्योंकि चारा घोटाले में ही दुमका मामले में भी लालू यादव दोषी हैं।

बिहार चुनाव नजदीक आ रहे हैं और राजद मुश्किलों में घिरती जा रही है। दरअसल पार्टी के कई नेता जदयू में शामिल हो चुके हैं और पार्टी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद भी नाराज हैं और पार्टी से इस्तीफा दे चुके हैं। हालांकि उन्हें मनाने की कोशिशें चल रही हैं। महागठबंधन में भी सीटों के बंटवारे को लेकर सहमति नहीं बन पा रही है। यही वजह है कि यदि बिहार चुनाव से पहले लालू यादव जेल से बाहर आते हैं तो यह उनकी पार्टी के लिए बड़ी राहत की बात होगी।

वहीं लालू प्रसाद यादव के समधी चंद्रिका राय, जो कि अब जदयू में शामिल हो गए हैं, उनका कहना है कि विधानसभा चुनाव में यादवों का समर्थन एनडीए को मिलेगा। चंद्रिका राय का दावा है कि राज्य के पढ़े लिखे नौजवान लालू प्रसाद यादव की पार्टी से किनारा कर चुके हैं।

राहत की बात ये है कि दुमका मामले में लालू यादव की सजा आधी खत्म हो जाएगी। ऐसे में दुमका मामले में लालू यादव को जमानत मिल सकती है और वह जेल से बाहर भी आ सकते हैं।

लालू यादव पिछले काफी समय से इलाज के लिए रांची के रिम्स में भर्ती हैं। पहले लालू यादव अस्पताल के पेइंग गेस्ट वार्ड में भर्ती थे लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते उन्हें रिम्स डायरेक्टर के बंगले में शिफ्ट कर दिया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 वाराणसीः BJP से जुड़े वकील ने लगाया पोस्टर, उद्धव ठाकरे को बताया दुशासन, कंगना को द्रौपदी और PM मोदी को दर्शाया कृष्ण
2 MP By-Elections: कांग्रेस की कैंडिडेट लिस्ट जारी, देखें 15 सीटों पर कहां से उतारा कौन सा उम्मीदवार
3 Bihar Elections 2020: लालू यादव ने रघुवंश प्रसाद को लिखा खत, JDU बोली- ये जेल मैनुअल का उल्लंघन
यह पढ़ा क्या?
X