ताज़ा खबर
 

बीजेपी की सहयोगी पार्टी गा रही राजद के गाने, वर्चुअल चुनाव प्रचार का चिराग पासवान ने किया विरोध, बीजेपी तैनात कर चुकी 10,000 वॉलेंटियर्स

जनता दल यूनाइटेड ने आयोग से मांग की है कि बिहार में चुनाव एक चरण में कराए जाने चाहिए। कोरोना माहमारी के चलते यह मांग की गई है। बता दें कि बिहार में पिछले विधानसभा चुनाव पांच चरण में हुए थे।

chirag paswan bihar election ljpएलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

बिहार में दो विपक्षी पार्टियों समेत एनडीए की सहयोगी पार्टी लोजपा ने भी बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए वर्चुअल चुनाव प्रचार का विरोध किया है। वहीं भाजपा ने चुनाव आयोग को भेजे अपने फीडबैक में वर्चुअल चुनाव प्रचार के तरीके का समर्थन किया है। बता दें कि राजद और सीपीआई (एम) ने आयोग से अपील करते हुए सभी को समान अवसर देने के लिए वर्चुअल चुनाव प्रचार का विरोध किया है। वहीं लोजपा भी इसके समर्थन में नहीं है।

बता दें कि भाजपा ने बिहार में अपने चुनाव प्रचार की शुरुआत भी वर्चुअल रैली से ही की थी। शुक्रवार को चुनाव आयुक्त अशोक लवासा और सुशील चंद्रा ने बताया कि चुनाव आयोग को फीडबैक मिल गए हैं और जल्द ही बिहार में चुनाव प्रचार के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी जाएगी। सूत्रों के अनुसार, 15 से अधिक पार्टियों ने चुनाव आयोग के फीडबैक दिया है, जिनमें से चार पार्टियों ने ही कोरोना के चलते चुनाव को टालने की बात कही है।

बता दें कि लोजपा, नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी, नेशनल पीपल्स पार्टी और आम आदमी पार्टी द्वारा कोरोना के चलते चुनाव को टालने की मांग की जा रही थी लेकिन इन पार्टियों ने चुनाव आयोग को दिए अपने फीडबैक में ऐसी कोई मांग नहीं की है।

जनता दल यूनाइटेड ने आयोग से मांग की है कि बिहार में चुनाव एक चरण में कराए जाने चाहिए। कोरोना माहमारी के चलते यह मांग की गई है। बता दें कि बिहार में पिछले विधानसभा चुनाव पांच चरण में हुए थे।

वहीं भाजपा ने फीडबैक में कहा है कि उम्मीदवारों के चुनाव खर्च की सीमा बढ़ायी जानी चाहिए क्योंकि अब उन्हें मास्क, सैनेटाइजर और पीपीई किट आदि पर भी चुनाव प्रचार के दौरान खर्च करना होगा। बता दें कि वर्चुअल चुनाव प्रचार के लिए भाजपा की तैयारी पुख्ता है। पार्टी ने बिहार में वर्चुअल चुनाव प्रचार के लिए 10 हजार वॉलंटियर्स तैनात किए हैं।

बिहार में वर्चुअल पॉलिटिक्स की शुरुआत भी भाजपा ने ही की थी। दरअसल भाजपा ने जून माह में बिहार में चुनाव प्रचार की शुरुआत भी अमित शाह की वर्चुअल रैली से ही की थी। जिसका राजद द्वारा विरोध भी किया गया था। बीजेपी की इस वर्चुअल रैली में लाखों लोग जुड़े थे। जदयू ने भी स्थिति को देखते हुए वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के जरिए कार्यकर्ताओं को एकजुट कर रही है। सीएम नीतीश कुमार भी वर्चुअल सम्मेलन के जरिए पार्टी कार्यकर्ताओं से बात कर चुके हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 आप सांसद संजय सिंह के खिलाफ यूपी पुलिस ने दर्ज किए दो FIR, राज्य में शांति भंग करने के आरोप; योगी के पूर्व सहयोगी ने खोल दिया मोर्चा
2 बिहार चुनाव में बीजेपी उतारेगी दो-दो प्रभारी, साथियों को साधने से लेकर टिकट बांटने तक भूपेंद्र और देवेंद्र को जिम्मेदारी
3 स्वतंत्रता दिवस से ऐन पहले शरारती तत्वों ने सरकारी दफ्तर पर फहराया ‘खालिस्तानी झंडा’, डीसी बोले- ये कायर और देशविरोधी हरकत
ये पढ़ा क्या?
X