ताज़ा खबर
 

बीजेपी विधायक के बेटों ने की एयर होस्टेस के साथ यौन शोषण की कोशिश, दर्ज हुई एफआईआर

पीड़िता का कहना है कि वह और सुशांत सिंह एक दूसरे को पहले से जानते हैं। पीड़िता ने यह भी आरोप लगाया है कि दोनों भाइयों ने उसे कमरे के अंदर जान से मारने की भी कोशिश की।

एयर होस्टेस ने लगाया भाजपा नेता के बेटों पर यौन शोषण की कोशिश का आरोप। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एक 24 वर्षीय महिला ने बिहार में भाजपा एमएलसी अवधेश नारायण सिंह के दो बेटों पर यौन शोषण की कोशिश करने का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि भाजपा एमएलसी के बेटों सुशांत रंजन और प्रशांत रंजन ने उसे अपने पिता के सरकारी बंगले पर बंधक बनाकर रखा और उसका यौन शोषण करने की कोशिश की। बता दें कि पीड़िता महिला एक प्राइवेट एयरलाइन्स में एयर होस्टेस है। पीड़ित महिला ने इस मामले में पटना में महिला थाने में लिखित शिकायत भी दी है। पुलिस सूत्रों के अनुसार, यह घटना 16 मई की है। महिला ने पुलिस को बताया है कि भाजपा नेता अवधेश नारायण सिंह के बड़े बेटे सुशांत सिंह ने उसे सरकारी बंगले पर बुलाया था।जिसके बाद सुशांत सिंह और प्रशांत सिंह ने उसे एक कमरे में बंद कर दिया। बाद में यौन शोषण के उद्देश्य से उसके साथ मारपीट भी की गई।

पीड़िता का कहना है कि वह और सुशांत सिंह एक दूसरे को पहले से जानते हैं। पीड़िता ने यह भी आरोप लगाया है कि दोनों भाइयों ने उसे कमरे के अंदर जान से मारने की भी कोशिश की। फिलहाल पुलिस महिला के आरोपों की जांच में जुटी है। महिला के आरोपों पर पुलिस का कहना है कि जल्द ही पीड़िता को लेकर भाजपा नेता के सरकारी बंगले पर जाएगी, जहां पीड़िता से जगह की पहचान करायी जाएगी। वहीं भाजपा एमएलसी अवधेश सिंह से जब इस बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि शनिवार की सुबह उन्हें इस मामले की जानकारी मीडिया से ही हुई। जिसके बाद उन्हें बड़ा झटका लगा था।

अवधेश सिंह ने कहा कि मैं सिर्फ इतना कह सकता हूं कि महिला मेरे बेटे के साथ पढ़ी है और मामले को बढ़ा-चढ़ाकर पेश कर रही है। भाजपा नेता ने यह भी कहा कि वह इस मामले को लेकर अपने बेटों से भी पूछताछ करेंगे। फिलहाल उन्होंने अपने दामाद को महिला से मिलने के लिए भेजा है। भाजपा नेता ने कहा कि अपनी इमेज को साफ-सुथरा रखने के लिए उन्होंने बड़ी मेहनत की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App