ताज़ा खबर
 

4 राज्यों के जंगलों में फैला था धंधा, 2 दशक से थी तलाश, पुलिस के हत्थे चढ़ा कुख्यात ‘तेलंगाना का वीरप्पन’

पुलिस के मुताबिक, श्रीनिवास के अलावा उसके दो मुख्य सहयोगियों को भी गिरफ्तार किया गया है। श्रीनिवास के खिलाफ सिर्फ तेलंगाना में कम से कम 20 मामले दर्ज हैं।

Sreenu,yedla srinivas, yedla srinivasश्रीनिवास के खिलाफ सिर्फ तेलंगाना में कम से कम 20 मामले दर्ज हैं।

तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के जंगलों में गैंग चला रहा कुख्यात वन तस्कर येदला श्रीनिवास उर्फ श्रीनू पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। वह करीब दो दशकों से पुलिस और वन विभाग के अधिकारियों को छका रहा था। श्रीनिवास इतना कुख्यात हो चला था कि लोग उसे ‘तेलंगाना का वीरप्पन’ भी कहते थे। पुलिस ने पेडापल्ली जिले के रामागुंडम में अपना जाल बिछाकर श्रीनिवास को पकड़ा। लकड़ी की तस्करी और वनों की कटाई को लेकर तेलंगाना सरकार के सख्त रवैए के बाद पुलिस ने पहली बड़ी कार्रवाई की है।

अधिकारियों के मुताबिक, पिछले 20 साल से श्रीनिवास संरक्षित जंगलों में पेड़ों की कटाई करा रहा था और लकड़ी की तस्करी में सक्रिय था। उसने तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के जंगलों को निशाना बनाया। पुलिस के मुताबिक, श्रीनिवास के अलावा उसके दो मुख्य सहयोगियों को भी गिरफ्तार किया गया है। श्रीनिवास के खिलाफ सिर्फ तेलंगाना में कम से कम 20 मामले दर्ज हैं। बेहद शातिर यह अपराधी अपनी चालाकी की वजह से पुलिस और वन अधिकारियों से बचता रहा। मिसाल के तौर पर वह लकड़ियों को लाने- ले जाने के लिए बैलगाड़ियों का इस्तेमाल करता था, जिनकी अधिकतर चेकिंग नहीं होती थी।

श्रीनिवास ने गांववालों और चरवाहों में भी काफी डर पैदा कर दिया था, जो पेड़ों की कटाई की सूचना अधिकारियों को नहीं देते थे। पुलिस अभी इस बात का अंदाजा लगाने में जुटी हुई है कि इतने सालों में इस तस्कर ने कुल कितनी कमाई की। यह भी जानकारी सामने आई है कि वह चुनावों के दौरान प्रत्याशी या पार्टी की ओर से गांववालों में पैसे बांटता था। वन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि श्रीनिवास ने तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के कई मिल मालिकों से सांठगांठ कर रखी थी और उन्हें ही लकड़ी सप्लाई करता था।

Next Stories
1 जम्मू-कश्मीर: 3 साल की बच्ची से रेप, घाटी में लोगों का फूटा गुस्सा
2 गुजरात: दलित की बारात पर पथराव के बाद हिंसा और लाठीचार्ज, हफ्ते भर में चौथी घटना
3 चंड़ीगढ़: खोई हुई जमीन तलाशती कांग्रेस
यह पढ़ा क्या?
X